Search

JEE Main 2019: कैसे बनाएं 3 महीनें या 100 दिनों का स्टडी प्लान?

Oct 1, 2018 12:27 IST

JEE Main 2019 के लेटेस्ट सिलेबस के अनुसार Physics, Chemistry और Mathematics में लगभग 62 Units हैं. कोचिंग इंस्टिट्यूट्स में JEE Main के लिए क्लासेज अप्रैल या मई महीने से शुरू हो जाती हैं . सितम्बर महीने के अंत तक विद्यार्थियों द्वारा 70% सिलेबस पूरा कर लिया जाता है. सितम्बर महीने के बाद विद्यार्थियों के पास 3 महीनों का समय शेष रह जाएगा. जिसमें विद्यार्थियों को लगभग 18 से 20 units पढ़नी होंगी .   

आइये इस लेख के माध्यम से जानते हैं कि इन बचे हुए 3 महीनों या फिर 100 दिनों में आप अपना स्टडी प्लान कैसे बना सकते हैं और डेली बेसिस पर उसको कैसे पूरा कर सकते हैं.

मान लीजिये आपने Maths, Physics और chemistry में कुछ चैप्टर्स (टेबल में दिए गए हैं), तीन महीने पहले पढ़े थे. विद्यार्थियों को अपने schedule में इन चैप्टर्स के revision को ज़रूर शामिल करना चाहिए तथा इसके साथ-साथ कोचिंग कक्षा में पढ़ाये गये टॉपिक्स को भी पढ़ते रहना चाहिए .

आइये निचे दिए गए टेबल कि सहायता से समझते है की तीनों सब्जेक्ट्स को साप्ताहिक प्लान के द्वारा कैसे पढ़ना चाहिए.


Mathematics

Chemistry

Physics

Day 1

(Revision of Theory)

Relations and Functions

Some Basic Concepts of Chemistry

Units & Measurements

Day 2

(Revision of Theory)

Trigonometry

Atomic Structure

Kinematics

Day 3

(Revision of Theory)

Complex numbers

Classification of Elements & Periodicity in Properties

Laws of Motion

Day 4

(Theory of new topic)

Indefinite Integration

Coordination Compounds

Ray Optics

Day 5

(Theory of new topic)

Definite Integration

Chemical Kinetics

Wave Optics

Day 6

(Important Formulae and Concepts)

All the chapters done in 5 days

 All the chapters done in 5 days

All the chapters done in 5 days

Day 7

(Numerical Questions)

All the chapters done in 5 days

All the chapters done in 5 days

All the chapters done in 5 days

इस टेबल को देख कर आप सोच रहे होंगे कि लास्ट दिन इतने सारे chapters के प्रश्न कैसे कर पाएंगे.

आपको बता दें कि किसी भी chapters के सारे सवाल न करें बल्कि 5 सवाल करें जो अलग-अलग कॉन्सेप्ट्स पर बेस्ड हों.

इस तरह आप october और November का shedule साप्ताहिक तौर पर बना सकते हैं

आपको इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि हमने इस schedule में प्रैक्टिस से ज़्यादा पढ़ने पर फोकस किया है. किन्तु जैसे-जैसे परीक्षा पास आने लगेगी विद्यार्थियों को अपने weekly schedule में पढ़ने की जगह प्रैक्टिस के लिए ज़्यादा समय देना होगा .

दिसंबर महीने के schedule में विद्यार्थियों को निम्लिखित चीज़ों को ज़रूर शामिल करना चाहिए

  • पिछले पाँच सालों के प्रश्न पत्र को हल करना
  • अधिक से अधिक ऑनलाइन टेस्ट अटेम्पट करना
  • अटेम्पट किये हुए ऑनलाइन टेस्ट की एनालिसिस करना
  • कमज़ोर टॉपिक्स को अपने द्वारा बनाये गये रिवीजन नोट्स से अच्छे से पढ़ना.
  • रिवीजन नोट्स को स्कैन करके कंप्यूटर पर पढ़ना जिससे लम्बे समय तक कंप्यूटर स्क्रीन में देखने में परेशानी न हो.

सारांश: जैसा की हम जानते हैं कि मेहनत और लगन से पढ़ाई करना और स्मार्ट तरीके से एक टाइम टेबल बनाकर पढ़ाई करना दोनों ही अलग result देते हैं. मेहनत तो सारे छात्र करते हैं परन्तु सफल सभी नही होते. आप जितने भी JEE टॉपर्स की बात सुनेंगे तो लगभग हर किसी ने इस बात पर खास जोर दिया है की आप अपनी पढ़ाई एक प्लान को फॉलो करते हुए करें.

उम्मीद करते हैं कि हमारा ये लेख और इससे जुड़ी विडियो आपको आपका स्टडी प्लान या स्टडी टाइम टेबल बनाने में सहायक होगा.

CBSE boardUP BoardBihar baordRajasthan boardMaharashtra boardMP BoardJEE, WBJEE तथा UPSEE/UPTU की परीक्षा कि तैयारी के लिए आप हमारी wesite www.jagranjosh.com विजिट करें.