Search

बिना कॉलेज में दाखिला लिए भी बनाया जा सकता है करियर, जानिये कैसे ?

Jan 11, 2019 17:11 IST
कॉलेज

एक क्षण को यह सोचना कि बिना कॉलेज में पढ़ाई करे अपना करियर बनाया जा सकता है, वाकई आश्चर्यजनक सा लगता है. लेकिन चौकिये नहीं यह संभव है. आज पहले की यह कहावत कि नो नॉलेज विदाउट कॉलेज अब पूरी तरह से निर्मूल हो चुकी है. समाज में हमें कई ऐसे उदाहरण देखने को मिल जाएंगे कि जिन्होंने कॉलेज में पढ़ाई नहीं कि लेकिन देश तथा समाज में अपने कृत्यों द्वारा बहुत नाम कमाए. उदाहरण के लिए रिलाएंस इंडस्ट्री के जनक धीरूभाई अम्बानी इसके ज्वलंत प्रमाण हैं.

कभी कभी जीवन में इच्छा रहने के बावजूद भी ऐसी परिस्थितियां तथा मजबूरियां आ जाती हैं कि व्यक्ति कॉलेज में एडमिशन नहीं ले पाता है. लेकिन आज के समय में किसी कारणवश या दुर्भाग्यवश ऐसा हो जाता है तो निराश होने की कोई जरुरत नहीं है.आज कल बहुत सारे ऐसे साधन उपलब्ध हैं कि आप बिना कॉलेज में एडमिशन लिए हुए ही अपना करियर सवांर सकते हैं. आइये ऐसे ही कुछ ऑप्शंस के बारे में जानने की कोशिश करते हैं कि कैसे इनके जरिये अपने करियर को एक नया आयाम दिया जा सकता है –

1.  डिस्टेंस लर्निंग कोर्स एक बेहतर ऑप्शन साबित हो सकता है

डिस्टेंस लर्निंग के जरिये आप घर बैठे अपनी रूचि के अनुसार किसी भी विषय में हायर डिगी के लिए पढ़ाई कर डिग्री हासिल कर सकते हैं. इतना ही नहीं इस मध्यम से जॉब करते या फिर कोई नौकरी या व्यवसाय करते हुए भी अपनी पढाई जारी रखी जा सकती है. इंदिरागाँधी ओपन यूनिवर्सिटी,मनिपाल यूनिवर्सिटी तथा साउथ की अन्नामलाई यूनिवर्सिटी आदि लगभग सभी कोर्सेज में डिस्टेंस लर्निंग के जरिये डिग्री प्रदान करते हैं. इसके अतिरिक्त हमारे देश में कुल 14 ओपेने यूनिर्वसिटीज तथा 100 से अधिक रेगुलर यूनिवर्सिटीज हैं जो डिस्टेंस एजुकेशन के माध्यम से ग्रेजुएशन और पीजी कोर्सेज के अलावा, प्रोफेशनल डिप्लोमा और डिग्री कोर्सेज में पढ़ाई कराते हैं. अतः अपनी आर्थिक क्षमता तथा योग्यता और रूचि के अनुसार आप किसी भी कोर्स में एडमिशन लेकर और डिग्री हासिल कर अपने मनचाहे एरिया में अपना करियर बना सकते हैं.

2.  पीएम कौशल विकास योजना से जुड़कर

भारत सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से जुड़कर अपने अन्दर छिपे किसी भी स्किल का विकास कर उस फील्ड में ही अपना करियर बनाया जा सकता है. आपको यह पता होना चाहिए कि भारत सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत विशेष रूप से उन्हीं युवाओं के लिए की गयी थी जिन्होंने क्लास-10वीं या 12वीं के दौरान ही अपने स्कूल छोड़ दिए या जिनको 12वीं क्लास के बाद किसी प्रोफेशनल कॉलेज में एडमिशन नहीं मिल पाया. इसलिए बिना कॉलेज गए सरकार की इस योजना के जरिये अवश्य ही अपना करियर बनाया जा सकता है.

3 स्मॉल स्केल इंडस्ट्री की स्थापना करने की इच्छा तथा उससे जुड़े बारीकियों को सीखकर

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से जुड़ने तथा डिस्टेंस लर्निंग कोर्स करने के अतिरिक्त  युवा छात्रों को स्मॉलस्केल इंडस्ट्री की भी स्थापना करने के विषय में सोचना चाहिए. या फिर खुद का अपना छोटा मोटा बिजनेस शुरुआत कर उसके विकास की दिशा में कार्य करते हुए इंटरप्रेन्योर बनने की कोशिश करनी चाहिए. सरकारी तथा प्राइवेट सेक्टर में आगे बढ़ने और पैसा कमाने की संभावनाएं भी अपने व्यवसाय की तुलना में काफी कम हैं तथा इन क्षेत्रों में नौकरियों की संख्या भी सीमित है. स्मॉल स्केल इंडस्ट्री शुरू करने तथा अपना कोई छोटा मोटा बिजनेस शुरू करने के लिए भारत सरकार तथा राज्य सरकार द्वारा सस्ते दरों पर लोन भी मुहैया करवाया जाता है. जिसका आगे चलकर अपनी सुविधा के हिसाब से कुछ शर्तों के आधार पर आसानी से भुगतान किया जा सकता है.

4 . शॉर्ट टर्म प्रोफेशनल कोर्सेज के माध्यम से

इस बात में कोई शक नहीं कि आज के इस प्रोफेशनल तथा कॉम्पिटीटिव युग में सिर्फ सामान्य कोर्सेज जैसे बीए, एमए या बीएएससी, एमएससी करके संतोषजनक करियर नहीं बनाया जा सकता है. आजकल करियर में सफलता के लिए किसी न किसी प्रोफेशनल फील्ड की जानकारी बहुत जरुरी है. आज के इस टेक्नीकल युग में हर तरफ टेक्निकली स्किल्ड लोगों की डिमांड बहुत ज्यादा है. इस लिए युवा छात्रों को कोई न कोई शॉर्ट टर्म कोर्स करने की कोशिश करनी चाहिए. इससे उन्हें अपने मनमुताबिक जॉब मिलने में सहूलियत रहती है.

5. पब्लिक सेक्टर में जॉब की तलाश करके  

पब्लिक सेक्टर में कई ऐसी नौकरियां हैं जहाँ 10 वीं तथा 12 वीं कक्षा पास करने के बाद अप्लाई किया जा सकता है. अपरेंटिस, जूनियर क्लर्क,एलडीसी तथा रेलवे में कई ऐसी नौकरियां हैं जिनके लिए 12 वीं कक्षा पास करने के बाद अप्लाई किया जा सकता है. हालांकि इसमें अधिकांश में सेलेक्शन के लिए एग्जाम क्वालीफाई करना पड़ता है.लेकिन इसे परिश्रम  तथा लगन से क्वालीफाई किया जा सकता है.

अतः ये हैं कुछ ऑप्शंस जिनपर काम करके बेहिचक बिना कॉलेज गए ही अपने करियर को एक नया आयाम दिया जा सकता है तथा अपने सपने को साकार किया जा सकता है.

Loading...