Motivation for Students: मुरैना के बहन-भाई ने हासिल कि CA एग्जाम में शानदार कामयाबी, नंदिनी बनीं टॉपर और सचिन को मिला 18वां रैंक

भारत के सभी एग्जामिनीज़ और स्टूडेंट्स के लिए यह बेशक एक मोटिवेशनल स्टोरी है कि, भारत के मध्यप्रदेश के मुरैना जिले के बहन-भाई, नंदिनी अग्रवाल और सचिन अग्रवाल ने हाल ही के CA एग्जाम्स में पूरे भारत में टॉप रैंक और 18वां रैंक हासिल करके, अपने नाम शानदार कामयाबी दर्ज की है. ये दोनों भाई-बहन अपनी शानदार कामयाबी का पूरा श्रेय एक-दूसरे को देते हैं और खुद को एक-दूसरे की ताकत समझते हैं.

Created On: Sep 14, 2021 16:14 IST
Modified On: Sep 15, 2021 16:57 IST
Success Story: Nandini and Sachin Agarwal became CA Exam topper
Success Story: Nandini and Sachin Agarwal became CA Exam topper

भारत के मध्यप्रदेश राज्य के मुरैना जिले में रहने वाले बहन-भाई, नंदिनी अग्रवाल और उनके बड़े भाई सचिन अग्रवाल ने इस साल के CA एग्जाम्स में पूरे भारत में टॉप रैंक और 18वां रैंक हासिल करके अपने नाम पर शानदार कामयाबी दर्ज की है. इस एग्जाम में नंदिनी अग्रवाल ने 800 अंकों में से कुल 614 अंक, और सचिन अग्रवाल ने कुल 568 अंक लेकर यह सफलता हासिल की है. दोनों बच्चे इसे अपनी मां का सपना साकार करने के लिए अपनी प्रमुख उपलब्धि मान रहे हैं. सबसे विशेष बात तो यह है कि, ये दोनों भाई-बहन ही अपने इस शानदार प्रदर्शन का क्रेडिट एक-दूसरे को देते हैं और इनका परिवार, दोस्त और रिश्तेदार भी इनकी इस शानदार कामयाबी पर बहुत खुश हैं.

बहन-भाई ने पूरा किया अपनी मां का सपना

इनके पिता नरेश चंद्र गुप्ता एक टैक्स प्रैक्टिशनर और मां डिंपल गुप्ता एक हाउस वाइफ हैं. सचिन ने कहा कि, हम दोनों ने अपनी मां का सपना अपने स्टाइल में पूरा किया है. इसी तरह, नंदिनी अग्रवाल ने कहा कि, हम दोनों भाई-बहन ने एक-दूसरे की मदद कि है और कठिन समस्याओं से निपटने के लिए भी एक-साथ प्रयास करते रहेंगे.

अपनी एग्जाम प्रिपरेशन की बात करते हुए नंदिनी ने यह बताया कि, मॉक टेस्ट में मुझे बहुत ही खराब अंक मिले थे. जब मैं काफी निराश हो गई थी तो मेरे भाई ने मुझे काफी मोटीवेट किया और जिसका मुझ पर जादुई असर हुआ. भाई ने मुझे सिर्फ प्रैक्टिस पर ही अपना ध्यान केंद्रिंत करने के लिए कहा ताकि मैं अपने फाइनल एग्जाम में अपना बेस्ट प्रदर्शन कर सकूं.

ये दोनों बहन-भाई हैं एक-दूसरे की ताकत

बातचीत के दौरान सचिन ने कहा कि, नंदिनी शुरू से ही एक मेहनती छात्रा थीं और उन्होंने मुझे भी मेहनत करने के लिए लगातार प्रेरित किया है. दोनों भाई-बहन ख़ुशी-ख़ुशी यह बात स्वीकारते हैं कि, वे दोनों एक-दूसरे की ताकत हैं.

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने बहन-भाई की शानदार सफलता पर दी बधाई

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इन दोनों भाई-बहन की इस शानदार सफलता पर एक ट्वीट करके अपना बधाई संदेश दिया है. अपने ट्वीट में उन्होंने यह कहा है कि, तुम दोनों पर हमें गर्व है. मध्यप्रदेश के अन्य नेताओं ने भी इन दोनों भाई-बहन को उनकी इस सफलता पर बधाई दी है. वर्ष, 2017 में भी इन दोनों भाई-बहन ने अपनी 12वीं क्लास में 94.5 % अंक हासिल करके संयुक्त रूप से टॉप किया था.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

 अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

जानिये CAT एग्जाम की तैयारी करने के लिए प्रीवियस पेपर्स यूस करने के कारगर टिप्स

ऐसी 10 कॉलेज सोसाइटीज जो हैं दिल्ली यूनिवर्सिटी की शान

इंडियन स्टूडेंट्स के लिए सूटेबल कॉलेज और यूनिवर्सिटी चुनने के कारगर टिप्स

Comment (0)

Post Comment

6 + 8 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.