जानिये भारत में डिफरेंटली एबल्ड पर्सन्स के लिए ये हैं विशेष करियर ऑप्शन्स

अगर किसी देश में डिफरेंटली-एबल्ड व्यक्तियों के लिए रोजगार के पर्याप्त अवसर और करियर्स उपलब्ध हों तो वे आत्मनिर्भर होंगे और सम्मान के साथ अपना जीवन यापन कर सकेंगे. यहां भारत के डिफरेंटली-एबल्ड व्यक्तियों के लिए कुछ खास करियर विकल्प की जानकारी प्रस्तुत की गई है.

Created On: Aug 4, 2021 21:47 IST
Know about Special Career Options for Differently-abled Persons in India
Know about Special Career Options for Differently-abled Persons in India

इस देश में हुई पिछली जनगणना (वर्ष, 2011) के मुताबिक भारत में लगभग 26.8 मिलियन (2.21) फीसदी डिफरेंटली-एबल्ड पापुलेशन थी जिसमें बीते वर्षों में भी अवश्य इजाफ़ा हुआ है. इन डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स में से केवल 36 फीसदी लोग ही भारत में एम्पलॉयड हैं और आपको यह जानकर काफी हैरानी होगी कि, हमारे देश में एम्पलॉयड डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स का 90 फीसदी हिस्सा देश के विभिन्न गैर-संगठित क्षेत्रों में काम कर रहा है. यूनाइटेड नेशन्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत सरकार द्वारा इस दिशा में उठाये गये अनेक सराहनीय कदमों के बावजूद, भारत में सिर्फ 01 लाख डिफरेंटली-एबल्ड व्यक्ति ही एम्पलॉयड हैं. लेकिन, जो डिफरेंटली-एबल्ड लोग अनएम्पलॉयड है, ज़रा सोचिये कि, उनका गुजर-बसर कैसे चलता होगा??.....इस आर्टिकल में हम डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स के लिए उपलब्ध कुछ विशेष करियर ऑप्शन्स की चर्चा कर रहे हैं. आइये आगे पढ़ें यह आर्टिकल:

 

डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स के लिए भारत सरकार के कुछ पॉजिटिव स्टेप्स

आजकल हमारे देश भारत सहित दुनिया के सभी देशों में डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स के कल्याण के लिए बनी विभिन्न सरकारी पॉलिसीज़ के साथ ही कई नॉन गवर्नमेंट ऑर्गेनाइजेशन्स, कॉर्पोरेट हाउसेस और संगठन अनेक महत्वपूर्ण कदम उठा रहे हैं ताकि दुनिया के अन्य सभी देशों की तरह ही भारत में भी डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स कोई सूटेबल जॉब या करियर अपनाकर आत्म-निर्भर बन सकें और सम्मानपूर्वक अपना जीवन बिता सकें. भारत सरकार द्वारा सेंट्रल गवर्नमेंट मिनिस्ट्रीज़, पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग और बैंक्स में ग्रुप C और ग्रुप D में निकलने वाली सभी जॉब्स में 3% वेकेंसीज़ डिफरेंटली-एबल्ड व्यक्तियों के लिए रिज़र्व की गई हैं जिसमें से ब्लाइंडनेस या लो विजन, हियरिंग इम्पेयरमेंट और लोकोमोटर डिसेबिलिटी/ सेरिब्रल पाल्सी के लिए क्रमशः 1 – 1 – 1 % सीट्स रिज़र्व होती हैं.

एक अनुमान के मुताबिक देश की मुख्य धारा में डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स को शामिल करने पर देश के ग्रॉस डोमेस्टिक प्रोडक्ट (GDP) में इनका योगदान लगभग 5 -7 फीसदी होगा. आपको यह जानकर भी ख़ुशी होगी कि भारत में ट्रस्ट फॉर रिटेलर्स एंड रिटेल एसोसिएट्स ऑफ़ इंडियन (TRRAIN) के एक महत्वपूर्ण इनिशिएटिव “पंख” के माध्यम से डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स को रिटेल सेक्टर में विभिन्न जॉब्स के लिए प्रोफेशनल ट्रेनिंग दी जाती है. इसी तरह, नेशनल हैंडीकैप्ड फाइनेंस एंड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (NHFDC)  भारत सरकार की विभिन्न सेल्फ एम्पलॉयमेंट स्कीम्स के लिए लोन्स और एडवांस अमाउंट देता है ताकि डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स अपना कारोबार शुरू कर सकें. डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स को यह लोन कम ब्याज-दर पर दिया जाता है.

भारत में डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स के लिए उपलब्ध हैं ये आकर्षक करियर ऑप्शन्स

इंसान अपनी मेहनत, लगन और टैलेंट से जीवन में कोई भी मुकाम हासिल कर सकता है. आज इस बात में कोई संदेह नहीं है कि हमारे डिफरेंटली-एबल्ड भाई-बहन जीवन के अनेक मोर्चों पर लगातार बाजी मार रहे हैं. हम सभी सुधा चंद्रन, रविन्द्र जैन, गिरीश शर्मा, शेखर नाइक, एच. रामकृष्णन, प्रीति श्रीनिवासन, सतेन्द्र सिंह और अरुणिमा सिन्हा के नामों से तो परिचित ही हैं जिन्होंने अपने प्रोफेशन में अपनी मेहनत और टैलेंट के बल पर एक खास पहचान बनाई है. आइये कुछ ऐसे ही खास करियर ऑप्शन्स की चर्चा करते हैं जो डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स के लिए एक सूटेबल करियर साबित हो सकते हैं जैसेकि:

बेकर

डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स बेकरी के विभिन्न काम सीख कर इस फील्ड में जॉब या अपना पेशा शुरू कर सकते हैं क्योंकि आजकल विभिन्न बेकरी आइटम्स की डिमांड बढ़ती ही जा रही है. इस काम को सीखने के लिए शुरू में ट्रेनिंग और प्रैक्टिस की जरूरत होती है.

टेलर

सिलाई-कढ़ाई का काम भारत में सदियों से होता आया है इसलिए डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स भी इस फील्ड में एक्सपरटाइज़ हासिल करके अपना सफल करियर शुरू कर सकते हैं. टेलरिंग के पेशे के लिए विशेष एजुकेशनल क्वालिफिकेशन की जरूरत नहीं होती है.

आर्टिस्ट

आर्ट या कला कभी किसी बाहरी विशेष परिस्थिति की मोहताज नहीं होती है और इसलिए, डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स अगर टैलेंटेड आर्टिस्ट्स, सिंगर, म्यूजिशियन, पेंटर, स्कल्पचर आर्टिस्ट्स हैं तो वे अपनी फील्ड ऑफ़ एक्सपरटाइज़ या आर्ट में अपना करियर शुरू कर सकते हैं.

टीचर

डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन, बीएड और पीएचडी की डिग्री हासिल करके टीचिंग का पेशा अपना सकते हैं. वे अपने टीचिंग सब्जेक्ट में ट्यूशन्स भी दे सकते हैं. हमारे देश में टीचिंग का प्रोफेशन काफी सम्मानजनक माना जाता है.

म्यूजिशियन

विजूअल इम्पेयरमेंट या ब्लाइंडनेस से पीड़ित डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स अक्सर काफी एक्सपर्ट म्यूजिशियन या सिंगर होते हैं. इसलिए, गीत-संगीत की फील्ड में वे अपना सफल करियर बना सकते हैं.

स्पोर्ट्स पर्सन

आजकल भारत सहित पूरी दुनिया में डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स अपनी पसंद की स्पोर्ट्स में बहुत अच्छा प्रदर्शन करके काफी नाम और पैसा कमा रहे हैं.

मार्केटिंग एंड सेल्स

आजकल कई बिजनेस संगठन अपने मार्केटिंग और सेल्स डिपार्टमेंट में एंट्री लेवल पर डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स को एग्जीक्यूटिव के तौर पर जॉब्स दे रहे हैं. क्लाइंट कॉलिंग इसका एक अच्छा उदाहरण है.

कार्टूनिस्ट

इस पेशे के लिए शारीरिक बल की नहीं बल्कि क्रिएटिविटी की जरूरत होती है और डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स अक्सर क्रिएटिविटी के धनी होते हैं. इसलिए, डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स इस फील्ड में भी अपना करियर शुरू कर सकते हैं.

कंप्यूटर प्रोग्रामर

आजकल कंप्यूटर का जमाना है. इसलिए डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में कोई सूटेबल प्रोफेशनल कोर्स करके इस फील्ड में अपना करियर शुरू कर सकते हैं.

फिजिकल थेरापिस्ट

ब्लाइंड पर्सन्स आमतौर पर अपने हैंड्स से शेप्स और ऑब्जेक्ट्स को अच्छी तरह पहचान लेते हैं. इसलिए, ये लोग एक फिजिकल थेरापिस्ट के तौर पर कामयाबी हासिल कर सकते हैं.

सॉफ्टवेयर/ वेब/ एप डेवलपर

यह पेशा आजकल काफी महत्वपूर्ण पेशों में से एक है और डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स सूटेबल प्रोफेशनल ट्रेनिंग हासिल करने के बाद विभिन्न कंपनियों में सॉफ्टवेयर डेवलपर, वेब डेवलपर या एप डेवलपर के तौर पर काम कर सकते हैं.

एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज

हमारे देश भारत में UPSC के एग्जाम्स पास करके डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज भी ज्वाइन कर सकते हैं. ये जॉब्स बहुत सम्मानजनक और बेहतरीन सैलरी पैकेज वाली जॉब्स हैं.

एकाउंटेंट

कॉमर्स स्ट्रीम से ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स विभिन्न कंपनियों या दफ्तरों में एकाउंटेंट की नौकरी कर सकते हैं. इस पेशे का सैलरी पैकेज भी आमतौर पर अच्छा होता है.

सोशल मीडिया मार्केटिंग

सोशल मीडिया मार्केटिंग (SMM) आजकल काफी बढ़िया करियर ऑप्शन है. डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स ऑनलाइन कोर्स करने के बाद इस फील्ड में जॉब कर सकते हैं.

कंटेंट राइटर

अगर आप एक अच्छे रीडर हैं तो काफी संभावना है कि आप एक अच्छे कंटेंट राइटर भी हों. जिन डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स को लिखने का शौक हो, वे यह पेशा अपना सकते हैं.

ग्राफ़िक डिज़ाइनर

इस पेशे के लिए क्रिएटिविटी जरुरी है इसलिए, हियरिंग लोस या स्पीकिंग डिफ़ॉल्ट से संबंधित लोग अच्छे ग्राफिक डिज़ाइनर बन सकते हैं. इस पेशे में वेबसाइट्स और लोगो डिजाइनिंग जैसे काम शामिल होते हैं.

वीडियो एडिटर

आजकल वीडियो हमारी आम जिंदगी का जरुरी हिस्सा बन चुके हैं फिर चाहे वह मनोरंजन हो, पढ़ाई हो या न्यूज़ प्रेजेंटेशन ही क्यों न हो. ऐसे में, लर्निंग डिसेबिलिटी से त्रस्त लोग वीडियो एडिटिंग का काम सफलतापूर्वक कर सकते हैं क्योंकि इस काम के लिए हायर एजुकेशनल क्वालिफिकेशन्स की जरूरत नहीं है.

पेंटर

पेंटिंग के लिए देखने वाली आंख के साथ हाथ की सफाई काफी महत्वपूर्ण है इसलिए मूक-बधिर लोग अगर क्रिएटिव हैं तो कुछ प्रोफेशनल ट्रेनिंग पाकर अच्छे पेंटर बन सकते हैं.

फोटोग्राफर

फोटोग्राफी के पेशे के लिए इंटरनल टैलेंट की बहुत आवश्यकता होती है क्योंकि एक सफल फोटोग्राफर वह देख सकता है जिसे हम आमतौर पर नज़रंदाज़ कर देते हैं. इसलिए डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स में अगर फोटोग्राफी से संबंधित टैलेंट है तो वे यह पेशा बखूबी अपना सकते हैं.

सेल्फ एम्पलॉयड

जी हां! अब डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स म्यूजिक, डांस, आर्ट्स, बेकरी या कुकिंग, टेलरिंग आदि किसी भी अपने ‘फील्ड ऑफ़ इंटरेस्ट एंड एक्सपरटाइज़’ में अपना कारोबार शुरू कर सकते हैं. इसके लिए भारत सरकार का नेशनल हैंडीकैप्ड फाइनेंस एंड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन कम ब्याज दर पर डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स को लोन भी उपलब्ध करवाता है. हमारे देश के कई NGOs भी डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स को रोज़गार मुहैया करवाने के लिए सराहनीय अथक प्रयास कर रहे हैं.

जैसे ‘आवश्यकता अविष्कार की जननी (माता)’ है, ठीक उसी तरह ‘मेहनत कामयाबी हासिल करने की पहली सीढ़ी’ है और हमारे देश के डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स आज अपनी मेहनत और टैलेंट के आधार पर अपनी सफलता के परचम लहरा रहे हैं. इस आर्टिकल में डिफरेंटली-एबल्ड पर्सन्स के लिए कुछ बेहतरीन करियर ऑप्शन्स दिए गए हैं ताकि वे भी अपने लिए कोई सूटेबल जॉब या पेशा शुरू करके आत्मनिर्भर बनें और सम्मानित जीवन व्यतीत करें तथा देश के विकास में अपना अमूल्य योगदान दें.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

इस साल सूटेबल करियर ऑप्शन चुनने के लिए यहां पढ़ें कुछ उपयोगी परामर्श

इंडियन एक्सपर्ट ने बताये हैं सही करियर ऑप्शन चुनने के ये उम्दा टिप्स

फ्रीलांसिंग भी हो सकती है आपके लिए एक शानदार करियर ऑप्शन

Related Categories

    Comment (0)

    Post Comment

    5 + 8 =
    Post
    Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.