जानिये खर्चीली आदत को नियंत्रित करके, अपनी सैलरी से अधिकतम हासिल करने के विशेष टिप्स

आप हर महीने अपनी अधिक खर्च करने की आदत को नियंत्रित करके, अपनी वित्तीय स्थिति में सुधार कर सकते हैं. हम इस आर्टिकल में आपके लिए कुछ ऐसे ही विशेष टिप्स की चर्चा कर रहे हैं.

Created On: Aug 3, 2021 21:17 IST
Tips to control Overspending and Maximize Your Salary Amount
Tips to control Overspending and Maximize Your Salary Amount

अगर आप इन दिनों किसी भी कामकाजी वर्कर या प्रोफेशनल से यह पूछें कि, क्या उनकी सैलरी उन्हें अपना महीने भर का समस्त खर्च चलाने के लिए पर्याप्त लगती है?.....आपको सर्वसम्मति से 'नहीं' में अपने प्रश्न का जवाब मिलेगा. इसलिए, अपनी सैलरी का कुशलतापूर्वक प्रबंधन करना आपकी अच्छी  वित्तीय स्थिति की कुंजी है. अक्सर अधिकतर लोग अपनी सैलरी या भत्ता मिलते ही खर्चना शुरू कर देते हैं. एक बार जब आपको फिजूलखर्ची की आदत लग जाती है तो फिर, आप छोटी-सी राशि भी नहीं बचा पाते हैं. बहुत बार, अनेक लोगों को अपना सारा पैसा खर्च करने के बाद, अपने दोस्तों, रिश्तेदारों और सहकर्मियों से उधार लेने के लिए मजबूर होना पड़ता है. इससे कर्ज का ढेर और शून्य बचत हो सकती है जो आपके लिए बहुत हानिकारक साबित होती है. अपनी कमाई के भीतर अपने खर्च को सीमित करने के लिए, इस आर्टिकल में आपके लिए कुछ सुझाव प्रस्तुत किये जा रहे हैं. आइये आगे पढ़ें यह आर्टिकल:

क्या ऐसा कोई तरीका है जो आपको अपने मासिक बजट का प्रबंधन करने में सक्षम बना सकता है और आपको अपनी सैलरी से अधिकतम हासिल करने में मदद कर सकता है?. इस प्रश्न का सही जवाब है 'हां'. मासिक बजट और सैलरी मैनेजमेंट को अच्छी तरह से समझने में आपकी मदद करने के लिए, नीचे विशेष टिप्स और ट्रिक्स प्रस्तुत हैं:

प्रत्येक महीने अपना बजट तैयार करें

एक कामकाजी वर्कर या प्रोफेशनल के जीवन में सबसे खुशी के क्षणों में से एक होता है जब उसे हर महीने अपनी सैलरी अपने बैंक अकाउंट में ट्रान्सफर होने का SMS मिलता है. उसी क्षण से आप अपना पैसा खर्च करना शुरू कर देते हैं. लेकिन, ऐसा करने से पहले, आपको एक विस्तृत मासिक बजट तैयार करना चाहिए जिसमें सभी आवश्यक खर्च, गैर-जरूरी खर्च और यहां तक ​​कि बचत भी शामिल हो. आपको हर महीने अपनी सैलरी का कम से कम 20 प्रतिशत बचत या निवेश के रूप में अलग रखने की सलाह दी जाती है. सही बजट बनाने से न केवल आपको अपने हरेक महीने की बेहतर योजना बनाने में मदद मिलेगी बल्कि भविष्य के लिए भी आप कुछ बचत कर सकेंगे.

अपनी जरुरत के मुताबिक ही करें खरीदारी

कई बार आप ऐसी चीजें खरीद लेते हैं जो किसी काम की नहीं होती हैं. यह आपकी वित्तीय स्थिति को खराब कर सकता है, खासकर जब आप अपनी सैलरी का एक अच्छा-खासा हिस्सा ऐसी चीजों पर खर्च कर देते हैं. ऐसी किसी भी स्थिति में, आपको अपनी बुनियादी जरूरतों को पूरा करने के लिए भी अतिरिक्त राशि उधार लेनी होगी जिससे कर्ज का ढेर लग सकता है. इस तरह की खर्च करने की आदतों को छोड़ने के लिए, आपको यह सोचने की ज़रूरत है कि आप जो सामान खरीद रहे हैं वह आपके लिए उपयोगी है या नहीं. आवश्यक और गैर-आवश्यक वस्तुओं की सूची तैयार करने के बाद, आप गैर-आवश्यक वस्तुओं की खरीद से बच सकते हैं.

लंच-डिनर हो आपके घर में बना

कुछ रुपये बचाने के लिए आप जो सबसे आसान काम कर सकते हैं, वह है अपना लंच और डिनर खुद बनाना. मान लीजिए कि आप अपना दोपहर का भोजन घर से नहीं लाते हैं और हर दिन लगभग 100 रूपये अपने लंच पर खर्च करते हैं तो आप 3000/- रुपये प्रति माह केवल अपने लंच पर भी खर्च रहे हैं जिसे आप घर का बना खाना खाकर बचा भी सकते हैं. इसके अलावा सड़क किनारे के ढाबों या होटलों में अक्सर लंच करने से आपको स्वास्थ्य संबंधी समस्यायें भी हो सकती है और फिर, अपने ईलाज पर  आपको काफी खर्चा उठाना पड़ सकता है. इसलिए लंच को घर से ले जाने से न सिर्फ पैसे की बचत होती है बल्कि आप स्वस्थ भी रहते हैं.

अपना क्रेडिट कार्ड अक्सर घर पर ही रखें

अगर आप अपना क्रेडिट कार्ड अपने वॉलेट में रखते हैं, तो विंडो शॉपिंग जल्द ही आपके वास्तविक खर्च में बदल सकती है. अपने क्रेडिट कार्ड के साथ, आप अक्सर ऐसी चीजें खरीद लेते हैं जो इस समय आपको पसंद आती हैं, लेकिन बाद में ये चीजें आपको पूरी तरह से बेकार या गैर-जरूरी लगने लगती हैं. आपके सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद, क्रेडिट कार्ड से अपने खर्च को नियंत्रित करना बहुत कठिन है और इसके लिए अद्भुत इच्छाशक्ति की आवश्यकता होती है. इसलिए, अगली बार से आप अपना क्रेडिट कार्ड घर पर ही छोड़ दें. यह आपके लिए अपने अनावश्यक खर्च रोकने का एक सबसे प्रभावी उपाय साबित हो सकता है.

अनावश्यक ऑनलाइन शॉपिंग से बचें

देश-दुनिया में ई-कॉमर्स शुरू होने के साथ, खरीदारी की सुविधा हमारे मोबाइल फोन और कंप्यूटर तक पहुंच गई है. आज, अगर आप कुछ भी खरीदना चाहते हैं, तो आपको बस अपने फोन पर उस वस्तु को  ऑनलाइन ऑर्डर करना होगा. इसके अलावा, ऑनलाइन पोर्टल्स द्वारा प्रदान किए जाने वाले आकर्षक ऑफ़र्स को नजरअंदाज करना भी काफी मुश्किल होता है. लेकिन, ये आकर्षक ऑफर्स आपके मासिक बजट को बिगाड़ने के खतरे के साथ आते हैं. इसलिए, आपको अपनी ऑनलाइन शॉपिंग पर अवश्य ही  नियंत्रण रखना चाहिए. अगर आपको ऑनलाइन खरीदारी करनी है, तो इसके लिए आप हरेक महीने एक अलग बजट निर्धारित करें. दूसरा तरीका यह है कि या तो सभी ऐप्स को अनइंस्टॉल कर दें या सभी ई-कॉमर्स वेबसाइटों को ब्लॉक कर दें और खर्च करने के लिए अपने कार्ड पर चेक या रिमाइंडर सेट करें.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

जानिये इंडियन स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट के लिए ये हैं कुछ कारगर टिप्स

भारत में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में इन्वेस्टमेंट करने से पहले यहां जरुर पढ़ें सारी अहम जानकारी

भारत की कमोडिटी मार्केट में इन्वेस्टमेंट करने से पहले यहां पढ़ें जरुरी जानकारी

 

Comment (0)

Post Comment

5 + 2 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.