Search

SSC CGL परीक्षा की टॉप 5 पोस्ट्स: वेतनमान और करियर ग्रोथ

Nov 1, 2018 11:43 IST
SSC CGL post preferences
SSC CGL post preferences

यदि आप सरकारी विभागों / मंत्रालयों में शामिल होने के इच्छुक हैं, तो SSC CGL, युवा स्नातकों के लिए ग्रेड-बी 'और' सी' के पदों पर इन विभागों में प्रवेश करने का सबसे अच्छा विकल्प है। SSC पूरे देश में हर साल CGL परीक्षा को आयोजित करता है। एक SSC CGL अधिकारी के रूप में, आप विभिन्न विभागों में कई महत्वपूर्ण कर्तव्यों का पालन करेंगे, जो सीधे देश की प्रगति में योगदान प्रदान करते हैं। यह नौकरी आपको संबंधित विभागों / मंत्रालयों में एक बड़ा सम्मान, एक सभ्य वेतन पैकेज, और आकर्षक कैरियर की वृद्धि प्रदान करती है।

अब, आप निम्न बातों के बारें में सोच रहे होंगे –

  • इस परीक्षा के माध्यम से, पेश की जाने वाली सबसे अच्छी पोस्टस कौन-सी है?
  • CGL प्रविष्टि के तहत, SSC द्वारा किस प्रकार की पोस्ट की पेशकश की जाती है?
  • इन पदों के लिए वेतनमान क्या हैं?
  • इन नौकरी प्रोफाइल के तहत भविष्य में कैरियर की वृद्धि कैसे होगी?

इस लेख में, हम SSC CGL परीक्षा के माध्यम से पेश की गई शीर्ष 5 पदों के वेतनमान, करियर विकास और संबंधित कार्य की प्रकृति पर चर्चा करेंगे।

नोट: पदों की प्राथमिकता पूरी तरह उम्मीदवार द्वारा भरे गए विकल्पों और उनके व्यक्तिगत निर्णयों पर निर्भर करती है।

SSC CGL परीक्षा के माध्यम से पेशकश की गई पोस्टस

SSC CGL परीक्षा के तहत पदों का वर्गीकरण आमतौर पर उनके ग्रेड अर्थात् ग्रेड-बी 'और' सी 'द्वारा किया जाता हैं। इन ग्रेडों में विभिन्न वेतनमान और अन्य लाभ सम्मिलित होते हैं। ग्रेड-‘बी’ पदों के तहत, एक उम्मीदवार को वेतन बैंड -2 के तहत रु० 9300-34800 के वेतनमान और रु० 5400, रु० 4800, रु०, रु० 4600, और रु० 4200 की ग्रेड-पे के साथ भुगतान किया जाता है। निम्नलिखित लेख में, हम टॉप -5 पदों को उनके संबंधित वेतनमान और ग्रेड वेतन के साथ क्रमबद्ध तरीके से पढेंगे-

कैसे - SSC गौरवशाली करियर के लिए पहला कदम हो सकता है?

पदों के नाम

मंत्रालय/ विभाग

ग्रेड-पे (भारतीय मुद्रा रुपये में)

सहायक लेखा परीक्षा अधिकारी

सी०ए०जी० के तहत भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा विभाग

4800

सहायक लेखा अधिकारी

भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक के तहत भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा विभाग

 4800

सहायक अनुभाग अधिकारी

इंटेलिजेंस ब्यूरो

 4600

केंद्रीय सचिवालय सेवा

4600

रेल मंत्रालय

 4600

विदेश मंत्रालय

 4600

सशस्त्र बलों के मुख्यालय

 4600

आयकर निरीक्षक

केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड

 4600

इंस्पेक्टर (केंद्रीय उत्पाद शुल्क)

केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क बोर्ड

 4600

इंस्पेक्टर (निवारक अधिकारी)

केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क बोर्ड

 4600

इंस्पेक्टर (परीक्षक)

केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क बोर्ड

 4600

सहायक प्रवर्तन अधिकारी

प्रवर्तन निदेशालय, राजस्व विभाग

 4600

सहायक निरीक्षक

केंद्रीय जांच ब्यूरो

 4600

इंस्पेक्टर पदों

डाक विभाग

 4600

विभागीय लेखाकार

भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक के तहत कार्यालय

 4200

इंस्पेक्टर

केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो

 4600

सहायक

अन्य मंत्रालय / विभाग / संगठन

 4600

सहायक

अन्य मंत्रालय / विभाग / संगठन

 4200

सहायक निरीक्षक

राष्ट्रीय जांच एजेंसी

 4200

जूनियर सांख्यिकीय अधिकारी

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय

 4200

उपर्युक्त सभी पद ग्रेड-‘बी’ पोस्टस हैं, जो आपको कैरियर में बेहतर वृद्धि और एक सभ्य वेतन पैकेज प्रदान करते हैं। आइये- टॉप 5 SSC CGL पदों के नौकरी प्रोफाइल, वेतन और करियर विकास की संभावनाओं को विस्तार से जानते हैं-

Strategy for SSC CGL exam

 

सहायक लेखा परीक्षा अधिकारी

इस पोस्ट के बारे में कुछ बुनियादी जानकारी नीचे दी गई है-

ग्रेड :- 'बी' (राजपत्रित, गैर-मंत्रालीय)

विभाग: - CAG (भारत के नियंत्रक महालेखापरीक्षक)

वेतनमान: - रु० 9300 - 34800

ग्रेड पे- रु० 4800

आयु सीमा: 30 साल से अधिक नहीं

SSC CGL परीक्षा को क्रैक करने और "सहायक लेखा परीक्षा अधिकारी" के रूप में चुने जाने के बाद, आपको भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा विभाग के तहत नियुक्त किया जाएगा। यहां आप केंद्रीय या राज्य सरकारों और अन्य सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के खातों की लेखा-परीक्षा के लिए जिम्मेदार होंगे।

क्या SSC परीक्षाओं को पास करने का कोई शॉर्टकट है या नहीं?

जॉब प्रोफाइल: - यह एक डेस्क नौकरी है और इसमें लगभग कोई फील्ड का कार्य नहीं होता है। AAO के रूप में, आपकी नौकरी में ज़िम्मेदारियाँ मुख्य रूप से निम्नलिखित होंगी-

  • आपकी जॉब प्रोफ़ाइल में अधिकाँशत: वित्तीय लेखा परीक्षा, प्रदर्शन विश्लेषण और अनुपालन लेखा-परीक्षा शामिल होगी।
  • सरकारी विभागों को कुछ विशिष्ट दिशानिर्देश जारी करने की जिम्मेदारी आपकी होगी। अत: भविष्य में, आप इन दिशानिर्देशों का पालन करके सही ढंग से व्यय कर सकते हैं।
  • आपके पास राजनेताओं या अधिकारियों या विभागों के अपराधों / घोटालों को प्रकाश में लाने की शक्ति होगी।
  • राजपत्रित अधिकारी होने के नाते, आप अनुभागीय स्तर पर निर्णय लेने की प्रक्रिया में शामिल होंगे।

प्रमोशन: - एक बार, जब आप सी०ए०जी० में AAO के रूप में अपना करियर शुरू करते है, तो आपको निम्नलिखित क्रम में पदोन्नत किया जाएगा-

AAO -> AO (लेखा परीक्षा अधिकारी) -> Sr. AO (वरिष्ठ लेखा अधिकारी) ---> उप निदेशक -> निदेशक / AG ---> प्रधान निदेशक / Pr. AG ----> महानिदेशक.

इस विभाग में, आप आरंभिक स्तर पर नियुक्त होंगे और फिर विभागीय परीक्षाओं को क्वालीफाई करके या संबंधित विभाग द्वारा समय-समय पर दिए गए प्रमोशनस के द्वारा आगे की रैंकों पर पदोन्नति प्राप्त कर सकेंगे। आम तौर पर, एक लेखा परीक्षा अधिकारी के रूप में पदोन्नत होने के लिए 6-10 साल लगते हैं और उसके बाद 2-4 साल वरिष्ठ लेखा परीक्षा अधिकारी बनने में लग जाते हैं। विभाग में बाकी पदोन्नति बचे हुए संबंधित पदों की उपलब्धता के आधार पर प्राप्त की जा सकती है।

ऐसा सामान्यत: देखा गया है कि निदेशक या प्रधान निदेशक जैसे पदों पर पदोन्नति की संभावना बहुत कम है।

सहायक अनुभाग अधिकारी

इस पोस्ट के बारे में कुछ बुनियादी जानकारी नीचे दी गई है-

ग्रेड- ‘बी'

विभाग :- केंद्रीय सचिवालय सेवा

वेतनमान: - रु० 9300 - 34800

ग्रेड वेतन- रु० 4800

आयु सीमा: 20 - 30 साल

जैसा कि आप जानते हैं कि केंद्रीय सचिवालय सेवा प्रशासनिक कार्य की रीढ़ की हड्डी की भांति कार्य करती है और भारत सरकार में नौकरशाहों और अन्य क्रियात्मक कर्मचारियों की नियुक्ति करती है। SSC CGL परीक्षा द्वारा प्रदान की जाने वाली अन्य सहायक नौकरियों में CSS को सर्वश्रेष्ठ माना जाता है क्योंकि इस विभाग तहत आप 'अवर सचिव'  या पदानुक्रम में आगे की पोस्ट तक जा सकते हैं।

महिलाओं को SSC की तैयारी क्यों करनी चाहिए?

जॉब प्रोफाइल: एक सहायक अनुभाग अधिकारी के रूप में, आपको निम्नलिखित कर्तव्यों का पालन करना होगा-

  • संसद और केंद्रीय सचिवालय के बीच उचित संचार बनाए रखने के लिए आपको महत्वपूर्ण लिंक बनाए रखने की जरूरत है, विशेष रूप से, जब संसद के प्रश्नों के संचालन, आश्वासन और अन्य सरकारी बिलों की बात आती है।
  • आपको फाइलों को बनाने, रिपोर्ट को तैयार करने व उसके प्रारूपण, नोटिंग और CSS सदस्यों द्वारा नियमों और विनियमों की व्याख्या करने में कुशल होना चाहिए। आप यहाँ सरकार की नीतियों में निरंतरता सुनिश्चित करने में CSS सदस्यों की मदद करेंगे।

प्रमोशनस: इस विभाग के तहत, पदोन्नति निम्नलिखित क्रम में दी जाएगी-

सहायक अनुभाग अधिकारी ---> अनुभाग अधिकारी ----> अवर सचिव ---> संयुक्त निदेशक -------> निदेशक ------> संयुक्त सचिव

नियुक्ति के बाद, आपको 5-7 साल के भीतर सेक्शन ऑफिसर को पदोन्नति मिलेगी। हालांकि, अगले स्तर पर पदोन्नति पाने के लिए, आपको UPSC द्वारा आयोजित अंतर-विभागीय परीक्षा को उत्तीर्ण करना होगा। अन्यथा, एक ही पदोन्नति प्राप्त करने में अनुमानित 10-12 साल लग सकते हैं।

आयकर निरीक्षक

इस पोस्ट के बारे में कुछ बुनियादी जानकारी नीचे दी गई है-

ग्रेड- 'सी'

विभाग:- CBDT (प्रत्यक्ष कर बोर्ड)

वेतनमान:- रु० 9300 - 34800

ग्रेड वेतन- रु० 4600

आयु सीमा: 30 साल से अधिक नहीं

CBDT देश में प्रत्यक्ष कर एकत्रित करने के लिए उत्तरदायी है। प्रत्यक्ष करों में आयकर, संपत्ति कर, कॉर्पोरेट कर इत्यादि शामिल हैं। यह वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के अंतर्गत कार्य करता है। एक संगठन के रूप में, इसमें अच्छा कार्यकारी वातावरण और अच्छी मानव संसाधन नीतियां हैं।

जॉब प्रोफाइल: आयकर विभाग में आयकर निरीक्षक के रूप में प्रतिनियुक्ति के बाद,  आप विभाग के किसी भी दो वर्गों के तहत काम करेंगे।

1. आकलन अनुभाग

2. गैर-आकलन अनुभाग

आकलन अनुभाग के तहत, आपके काम में मुख्य रूप से सभी डेस्क संबंधित कार्यों, जो आयकर निरीक्षक शीर्षक के अंतर्गत आते है, को निष्पादित करना सम्मिलित है। इस प्रोफाइल के तहत, आपको किसी व्यक्ति या कंपनी के आयकर का आकलन करना होगा, जो आयकर का भुगतान करने के लिए उत्तरदायी है। इसके अलावा, आपको धनवापसी के दावों और टीडीएस से संबंधित प्रश्नों को भी संभालना होगा।

क्या एसएससी नौकरियों में महिलाओं को आरक्षण का लाभ मिलता है?

 

गैर-आकलन अनुभाग के तहत, आपको फील्ड में कर्तव्यों का पालन करना होता हैं। फील्ड की नौकरी में, आप उस प्रतिक्रिया टीम का हिस्सा होंगे, जो संदिग्ध व्यक्ति/ कंपनी पर छापे मारती है। छापे से पहले, आपको संभावित डिफॉल्टर्स के खिलाफ सभी आवश्यक जानकारी और उचित सबूतों को इकट्ठा करना होता हैं। यह नौकरी बहुत जोखिम भरी होने के साथ दिलचस्प है।

प्रमोशनस: आयकर निरीक्षक के रूप में, आप करियर में निम्नलिखित क्रम में प्रगति करेंगे-

आयकर निरीक्षक ------> आयकर अधिकारी (ग्रेड-बी 'राजपत्रित) --------> आयकर सहायक आयुक्त ----------> आयकर डिप्टी कमिश्नर --------> आयकर संयुक्त आयुक्त ------> आयकर अपर आयुक्त -------> आयकर आयुक्त

इस पदानुक्रम में, आयकर अधिकारी बनने में लगभग 4-6 साल लगते हैं, जो एक ग्रेड-‘बी’ राजपत्रित पद है और आयकर अधिकारी से आयकर सहायक आयुक्त बनने में लगभग 10-12 साल का समय लग जाता हैं।

सहायक प्रवर्तन अधिकारी

इस पोस्ट के बारे में, कुछ बुनियादी जानकारी नीचे दी गई है-

ग्रेड- ‘बी'

विभाग:- प्रवर्तन निदेशालय, राजस्व विभाग, वित्त मंत्रालय

वेतनमान:- रु० 9300 - 34800

ग्रेड वेतन:- रु० 4600

आयु सीमा: 30 साल से अधिक नहीं

प्रवर्तन निदेशालय (ED) एक जांच एजेंसी है, जिसमें मुख्य रूप से भारत में काले धन को वैध बनाने जैसी गतिविधियों की जांच शामिल है। प्रवर्तन निदेशालय का प्राथमिक उद्देश्य दो प्रमुख कृत्यों अर्थात  FEMA (Foreign Exchange Management Act) और PMLA(Prevention of Money Laundering Act) का प्रवर्तन करना होता है।

जॉब प्रोफाइल: आप शुरुआत में ED में सहायक प्रवर्तन अधिकारी के रूप में नियुक्त होंगे, जो एक ग्रेड-‘बी' पद है। आपको कार्यालय या फील्ड दोनों में से कहीं भी पोस्ट किया जा सकता है। इस नौकरी प्रोफाइल के तहत, निम्नलिखित जिम्मेदारियां शामिल होंगी-

• अगर आपको कार्यालय में पोस्ट किया जाता है, तो आप कुछ सामान्य प्रकार की नौकरी करेंगे जैसे कि सामान्य फाइलिंग, मासिक रिपोर्ट बनाना, पत्रों का जवाब देना और प्रस्तुतिकरण इत्यादि

• फील्ड जॉब के मामले में, आपको मनी लॉंडरिंग जैसे आर्थिक अपराधों को पकड़ना होगा

• आपको मनी लॉंडरिंग या अन्य आर्थिक अपराधों के बारे में किसी भी खुफिया जानकारी को इकट्ठा करके छापा भी मारना पड़ सकता है

SSC तैयारी के दौरान की जाने वाली 8 सामान्य गलतियां

प्रमोशनस: एक सहायक प्रवर्तन अधिकारी के रूप में, आपका करियर निम्नलिखित क्रम में आगे बढेगा-

सहायक प्रवर्तन अधिकारी -----> प्रवर्तन अधिकारी -------> प्रवर्तन निदेशालय में सहायक निदेशक -----> प्रवर्तन निदेशालय में उपनिदेशक --------> संयुक्त निदेशक ---- -> अपर निदेशक -----> प्रवर्तन निदेशालय में विशेष निदेशक

प्रवर्तन अधिकारी के पद पर पदोन्नति होने में लगभग 4-6 साल लगते हैं। शेष पदों को प्राप्त करने के लिए, आपको इन पदों की विभाग में उपलब्धता और इनके लिए आपकी उम्मीदवारी तक प्रतीक्षा करनी होगी। अधिकाँशत: अंतर-विभागीय परीक्षा में ग्रेड और आपकी सेवा का कार्यकाल भी इसके लिए बहुत महत्वपूर्ण होता हैं।

केंद्रीय जांच ब्यूरो में सब-इंस्पेक्टर

इस पोस्ट के बारे में, कुछ बुनियादी जानकारी निम्नलिखित है-

ग्रेड- ‘बी'

विभाग:- केंद्रीय जांच ब्यूरो

वेतनमान:- रु० 9300 - 34800

ग्रेड वेतन:- रु० 4600

आयु सीमा: 20- 30 साल

CBI (केंद्रीय जांच ब्यूरो) भारत की एक प्रमुख जांच एजेंसी है। यह कई आर्थिक अपराधों, विशेष अपराधों, भ्रष्टाचार के मामलों और अन्य उच्च प्रोफ़ाइल मामलों की जांच के लिए जाना जाता है।

जॉब प्रोफाइल: CBI में एक सब-इंस्पेक्टर के रूप में, आप निम्नलिखित कर्तव्यों का पालन करेंगे-

• यह अधिकतर एक फील्ड की नौकरी के लिए जानी जाती है और इसमें विभिन्न प्रकार के अपराधों की जांच करना सम्मिलित है। इसमें अधिकाँशत: वे मामले होंगे, जिन्हें स्थानीय पुलिस हल करने में असमर्थ होती है।

• अपराध दृश्यों से निपटने के लिए, आपको अपराध की जांच करने में व्यापक प्रशिक्षण मिलेगा और कभी-कभी, जब आपको केस से सम्बंधित घटनाओं में आक्रामक होना पड़ता हैं, तो आपको आत्म-सुरक्षा के लिए पिस्तौल या रिवाल्वर भी दिया जाता हैं।

प्रमोशनस: सब-इंस्पेक्टर के पद पर शामिल होने के बाद, आपको निम्नलिखित क्रम में प्रमोशन मिलता हैं-

सब-इंस्पेक्टर -----> इंस्पेक्टर ------> उप-अधीक्षक ------>अपर अधीक्षक ----> अधीक्षक -----> वरिष्ठ अधीक्षक

SSC उम्मीदवारों के लिए शीर्ष 10 प्रेरणादायक कथन

सामान्यत: 4 साल की सेवा और प्रशिक्षण के सफल समापन के बाद, आपको इंस्पेक्टर के रूप में पदोन्नत किया जाता हैं। अच्छे रिकॉर्ड के साथ नियमित सेवा के 4 साल पूरा होने के बाद, आप उप-अधीक्षक के पद के लिए विभागीय परीक्षा में शामिल होने के लिए पात्र हो जाएँगे। शेष पदों पर पदोन्नति, आपके सेवा रिकॉर्ड और पदों की उपलब्धता पर निर्भर करती है।

यदि आपको SSC CGL परीक्षा की टॉप 5 पोस्ट्स: वेतनमान और करियर ग्रोथ” बारे में दी गयी जानकारी उपयोगी लगी हो तो SSC परीक्षा 2018 के बारे में इस तरह की अधिक जानकारी के  लिए https://www.jagranjosh.com/staff-selection-commission-ssc पर विजिट करें.

पदों के नाम मंत्रालय/ विभाग ग्रेड-पे (भारतीय मुद्रा रुपये में)
सहायक लेखा परीक्षा अधिकारी सी०ए०जी० के तहत भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा विभाग 4800
सहायक लेखा अधिकारी भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक के तहत भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा विभाग  4800
सहायक अनुभाग अधिकारी इंटेलिजेंस ब्यूरो  4600
केंद्रीय सचिवालय सेवा 4600
रेल मंत्रालय  4600
विदेश मंत्रालय  4600
सशस्त्र बलों के मुख्यालय  4600
आयकर निरीक्षक केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड  4600
इंस्पेक्टर (केंद्रीय उत्पाद शुल्क) केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क बोर्ड  4600
इंस्पेक्टर (निवारक अधिकारी) केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क बोर्ड  4600
इंस्पेक्टर (परीक्षक) केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क बोर्ड  4600
सहायक प्रवर्तन अधिकारी प्रवर्तन निदेशालय, राजस्व विभाग  4600
सहायक निरीक्षक केंद्रीय जांच ब्यूरो  4600
इंस्पेक्टर पदों डाक विभाग  4600
विभागीय लेखाकार भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक के तहत कार्यालय  4200
इंस्पेक्टर केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो  4600
सहायक अन्य मंत्रालय / विभाग / संगठन  4600
सहायक अन्य मंत्रालय / विभाग / संगठन  4200
सहायक निरीक्षक राष्ट्रीय जांच एजेंसी  4200
जूनियर सांख्यिकीय अधिकारी सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय  4200

DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

X

Register to view Complete PDF