Search

गेम डिजाइन और डेवलपमेंट में कोर्सेज

Sep 6, 2018 10:45 IST

क्या आप एक गंभीर किस्म के गेमर हैं जो जीटीए, फीफा या डीओटीए गेम खेलते हुए घंटों बिता सकता है? कैसा रहे अगर कोई आपको यह कहे कि आप अपने इस वीडियो-गेम्स खेलने के पैशन को एक बेहतरीन करियर ऑप्शन में बदल सकते हैं? हां! आपने यह बिलकुल सही सुना है! तकरीबन हर किसी पर इस गेमिंग के बुखार के असर के साथ ही, गेमिंग इंडस्ट्री का विकास भी कई गुना तेज़ी से हो रहा है. आजकल, गेम डेवलपमेंट और गेम डिजाइनिंग आकर्षक करियर ऑप्शन्स के तौर पर उभरे हैं जो सुनहरा भविष्य बनाने में आपकी मदद कर सकते हैं. इसके अलावा, इससे आपको ऐसी गेम्स तैयार करने का मौका मिलता है जो आपकी ऑडियंसेज जो उनके एक्स-बॉक्सेज और प्ले-स्टेशन्स में व्यस्त रखें.

गेम डिजाइनिंग से डेवलपमेंट और प्रोग्रामिंग तक, आप गेमिंग इंडस्ट्री में कई फ़ील्ड्स में अपना करियर बना सकते हैं. लेकिन गेमिंग इंडस्ट्री में करियर बनाने के लिए आपके पास उपयुक्त ट्रेनिंग और जानकारी होनी चाहिए और इसलिए आजकल कई गेम डिजाइन और डेवलपमेंट के कोर्सेज उपलब्ध हैं. आइये अब हम भारत में उपलब्ध कुछ टॉप गेम डिजाइनिंग और डेवलपमेंट कोर्सेज की चर्चा करें और देखें कि कैसे ये कोर्सेज आपको एक गेम डिज़ाइनर/ डेवलपर के तौर पर अपना सफल करियर बनाने में मदद करते हैं?......

कोई गेम बनाने की महत्वपूर्ण प्रोसेसेज

गेम डेवलपमेंट एक जटिल प्रोसेस है जिसके तहत कई प्रोफेशनल्स एक साथ मिलकर वह गेम तैयार करते हैं जो आप अपनी स्क्रीन पर देखते हैं. किसी भी गेम को तैयार करने के लिए जो विभिन्न प्रोसेसेज फ़ॉलो की जाती हैं, उनमें सबसे महत्वपूर्ण 2 प्रोसेसेज निम्नलिखित हैं:

  1. गेम डिजाइनिंग – इस फेज में किसी भी गेम का पूरा डिजाइन और शुरू के फ्रेमवर्क पर अच्छी तरह से विचार-विमर्श किया जाता है. 
  2. गेम डेवलपमेंट – इस फेज में गेम डिज़ाइनर के आइडियाज को एक्चुअल गेम में बदल दिया जाता है.

हालांकि, जब गेम डेवलपमेंट कोर्सेज की बात चलती है तो उक्त दोनों आस्पेक्ट्स को एक ही करिकुलम के तहत शामिल किया और पढ़ाया जाता है.  

प्रोफेशनल गेम डेवलपमेंट कोर्सेज क्यों चुनें?

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग या वैसी ही अन्य फ़ील्ड्स में डिग्री प्राप्त करने वाले अधिकतर स्टूडेंट्स यह महसूस करते हैं कि गेम डेवलपमेंट उनकी फील्ड का केवल एक सहायक विषय है और एक सफल गेम डिज़ाइनर या डेवलपर बनने के लिए किसी खास नॉलेज की जरूरत नहीं होती है. यह एक गलत धारणा या विचार है जिसे जरुर बदलना पड़ेगा. कोई क्रिएटिव, इंट्यूटिव और इंस्पायरिंग गेम तैयार करना, केवल क्रिएटिव ग्राफ़िक्स डिजाइन करने या कोड की कुछ लाइन्स लिखने से कहीं ज्यादा महत्वपूर्ण होता है. इस काम के लिए कंबाइंड एफर्ट और कंप्यूटर साइंस/ प्रोग्रामिंग, क्रिएटिव राइटिंग और ग्राफ़िक डिजाइनिंग सहित कई विषयों की जानकारी जरुरी है. इसलिए एक करियर ऑप्शन के तौर पर गेम डेवलपमेंट में इंटरेस्ट लेने वाले लोगों के लिए यह बहुत जरुरी है कि वे ऐसे प्रोफेशनल कोर्सेज चुनें जिनसे उन लोगों को उक्त स्किल्स सीखने में मदद मिले और वे लोग क्रिएटिव तरीके से उक्त स्किल्स का इस्तेमाल करने की इनोवेटिव एप्रोच भी सीख सकें.     

भारत में गेम डिज़ाइन और डेवलपमेंट के टॉप कोर्सेज

गेमिंग इंडस्ट्री में हाल ही के उछाल के साथ कई नए इंस्टीट्यूट्स आजकल गेम डेवलपमेंट और डिज़ाइन में प्रोफेशनल कोर्सेज ऑफर कर रहे हैं. एक महत्वपूर्ण फील्ड होने के बावजूद, यह फील्ड आपको कई सर्टिफिकेट प्रोग्राम्स, ग्रेजुएट लेवल प्रोग्राम्स, मास्टर लेवल कोर्सेज और अन्य संबद्ध कोर्सेज ऑफर कर रही है. कुछ लोकप्रिय कोर्सेज निम्नलिखित हैं:

गेम डिजाइनिंग और डेवलपमेंट में सर्टिफिकेट लेवल कोर्सेज

  • गेमिंग में सर्टिफिकेट कोर्सेज
  • गेम आर्ट एंड डिजाइन में सर्टिफिकेट कोर्स.

गेम डिजाइनिंग और डेवलपमेंट में डिप्लोमा लेवल कोर्सेज

  • गेम डिजाइन और इंटीग्रेशन में डिप्लोमा
  • गेम आर्ट में प्रोफेशनल डिप्लोमा
  • एनीमेशन, गेमिंग एंड स्पेशल इफ़ेक्ट में डिप्लोमा
  • गेम आर्ट एंड 3डी गेम कंटेंट क्रिएशन में एडवांस्ड डिप्लोमा
  • गेम प्रोग्रामिंग में एडवांस्ड डिप्लोमा
  • गेम डिजाइन और डेवलपमेंट एप्लीकेशन में एडवांस्ड डिप्लोमा.

गेम डिजाइनिंग और डेवलपमेंट में ग्रेजुएट लेवल कोर्सेज

  • ग्राफ़िक्स, एनीमेशन और गेमिंग में बैचलर ऑफ़ साइंस (बीएससी)
  • डिजिटल फिल्ममेकिंग और एनीमेशन में बैचलर ऑफ़ आर्ट्स (बीए)
  • कंप्यूटर साइंस और गेम डेवलपमेंट में बैचलर ऑफ़ टेक्नोलॉजी (बीटेक)
  • एनीमेशन गेम डिजाइन और डेवलपमेंट में बैचलर ऑफ़ साइंस

गेम डिजाइनिंग और डेवलपमेंट में मास्टर लेवल कोर्सेज

  • गेम आर्ट एंड डेवलपमेंट के साथ मल्टीमीडिया एंड एनीमेशन में इंटीग्रेटेड एमएससी
  • एमएससी – गेमिंग
  • गेम डिज़ाइन और डेवलपमेंट में मास्टर ऑफ़ साइंस (एमएससी)
  • मल्टीमीडिया और एनीमेशन में मास्टर ऑफ़ साइंस (एमएससी)

गेम डिज़ाइनिंग और डेवलपमेंट का कोर्स कौन कर सकता है? 

गेम डिजाइनिंग और डेवलपमेंट की फील्ड बहुत क्रिएटिव और पैशनेट व्यक्तियों के लिए है. अन्य क्रिएटिव फ़ील्ड्स की तरह ही इस फील्ड के लिए भी स्टूडेंट्स के पास काफी धैर्य और लग्न होने चाहिए. इनोवेशन और क्रिएटिविटी उन कैंडिडेट्स के लिए बहुत जरुरी स्किल्स हैं जो गेम डिजाइनिंग में अपना करियर बनाना चाहते हैं. आसान शब्दों में:

  • क्रिएटिव, पैशनेट, इनोवेटिव लोग जिनका गेमिंग में काफी इंटरेस्ट हो.
  • कैंडिडेट्स का इंटरेस्ट गेम्स क्रिएट करने, प्रोफेशनल स्किल्स सीखने और गेम डेवलपमेंट प्रोसेस में होना चाहिए.

भारत में गेम डिज़ाइनिंग और डेवलपमेंट कोर्सेज में कैसे लें एडमिशन?

जहां तक गेम डेवलपमेंट और डिजाइन कोर्सेज के लिए पात्रता मानकों का संबंध है, ये आपके द्वारा चुने गए कोर्स और इंस्टीट्यूट के मुताबिक अलग-अलग हो सकते हैं. उदाहरण के लिए, गेम डिजाइनिंग में सर्टिफिकेट लेवल कोर्स करने के लिए किसी भी विषय में 10 वीं क्लास पास करना जरुरी है. लेकिन डिप्लोमा या ग्रेजुएट लेवल कोर्सेज करने के लिए आपको किसी भी विषय में अपनी 12 वीं क्लास का बोर्ड एग्जाम जरुर पास करना होगा. मास्टर डिग्री कोर्स के लिए, किसी टेक्निकल फील्ड में या किसी अन्य संबद्ध विषय में आपके पास ग्रेजुएट डिग्री होनी चाहिए. 

आवश्यक एकेडेमिक क्वालिफिकेशन्स

सर्टिफिकेट लेवल कोर्स: किसी मान्यताप्राप्त एजुकेशन बोर्ड से किसी भी स्ट्रीम में 10 वीं क्लास का एग्जाम पास किया हो.

डिप्लोमा लेवल कोर्स: किसी मान्यताप्राप्त एजुकेशन बोर्ड से किसी भी स्ट्रीम में 12 वीं क्लास का एग्जाम पास किया हो.

ग्रेजुएट लेवल कोर्स: किसी मान्यताप्राप्त एजुकेशन बोर्ड से किसी भी स्ट्रीम में 12 वीं क्लास का एग्जाम पास किया हो.

मास्टर लेवल कोर्स: किसी उपयुक्त या समान विषय में ग्रेजुएट डिग्री.

गेम डिज़ाइनिंग और डेवलपमेंट में कोर्सेज ऑफर करने वाले टॉप इंस्टीट्यूट्स

हम मोबाइल रेवोलुशन का आभार प्रकट करते हैं कि अब गेम डिजाइनिंग और डेवलपमेंट स्टूडेंट्स के बीच एक बहुत पसंदीदा करियर ऑप्शन बन गया है. कुछ कॉलेजों में यह कोर्स एक अलग/ विशेष कोर्स के तौर पर करवाया जाता है, कुछ अन्य कॉलेजों में यह कोर्स अन्य स्पेशलाइजेशन कोर्सेज जैसेकि, एनीमेशन, डिजिटल फिल्ममेकिंग, ग्राफ़िक डिजाइनिंग आदि के साथ एक हिस्से के तौर पर पढ़ाया जाता है. कुछ कॉलेज अपने कंप्यूटर साइंस कोर्सेज के साथ इस कोर्स को एक स्पेशलाइजेशन के तौर पर भी ऑफर करते हैं. भारत में गेम डिजाइनिंग और डेवलपमेंट में विभिन्न कोर्सेज ऑफर करने वाले टॉप इंस्टीट्यूट्स निम्नलिखित हैं: 

• भारती विद्यापीठ विश्वविद्यालय, पुणे

• माया एकेडमी ऑफ एडवांस्ड सिनेमैटिक (एमएएसी), मुंबई

• एरिना एनिमेशन, नई दिल्ली

• ज़ी इंस्टीट्यूट ऑफ क्रिएटिव आर्ट्स, बैंगलोर

• आईपिक्सियो (iPixio) एनिमेशन कॉलेज, बैंगलोर

• एनीमास्टर एकेडेमी - कॉलेज ऑफ़ एक्सीलेंस इन एनीमेशन, बैंगलोर

• एकेडेमी ऑफ एनिमेशन एंड गेमिंग, नोएडा

गेम डिज़ाइनर और डेवलपर के तौर पर करियर प्रोस्पेक्टस

किसी गेम डिज़ाइनर और डेवलपर के तौर पर करियर काफी आकर्षक करियर ऑप्शन है. आप एक्शन, स्पोर्ट्स, फेंटेसी आदि कई किस्म की गेम्स तैयार कर सकते हैं. पिछले कुछ वर्षों में भारत की जॉब मार्केट्स में गेमिंग इंडस्ट्री में भी काफी ग्रोथ देखी गई है और गेमिंग फेंस या प्रशंसकों को जॉब के विभिन्न अवसर मिले हैं. बढ़िया टैलेंट और अनुभव रखने वाले लोगों को यह फील्ड आकर्षक सैलरी प्रोस्पेक्टस ऑफर करती है. अब, यह कहने की तो जरूरत ही नहीं है कि इस फील्ड में करियर शुरू करने पर आप अपने शौक को अपने पसंदीदा करियर में बदल सकते हैं.   

वीडियो के लिए बुलेट प्वाइंट्स

• करियर के शानदार अवसर प्रदान करता है

• फ़ास्ट ग्रोइंग इंडस्ट्री

• मल्टीप्ल गेम किस्मों में काम करने के अवसर

• आकर्षक वेतन पैकेज

• आपके शौक को करियर में बदलने में मददगार

इसलिए अगर आपको गेम्स खेलना अच्छा लगता है और आपने हमेशा अपनी गेम बनाने का सपना देखा है तो एक गेम डिज़ाइनर के तौर पर करियर ऑप्शन, आपके शानदार भविष्य के लिए एक बिलकुल सही करियर ऑप्शन साबित हो सकता है.

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK