Search

सूटेबल टॉप जर्नलिज्म स्पेशलाइजेशन कोर्स करके बनें कामयाब जर्नलिस्ट

आजकल स्टूडेंट्स जर्नलिज्म की फील्ड में भी अनेक स्पेशलाइजेशन कोर्सेज में से अपनी जरूरत और पसंद के मुताबिक कोई कोर्स कर सकते हैं. इस आर्टिकल में आपके लिए कुछ महत्वपूर्ण जर्नलिज्म स्पेशलाइजेशन्स की चर्चा की गई है.  

Mar 17, 2020 18:48 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Top Journalism Specialisations In India
Top Journalism Specialisations In India

इलेक्ट्रॉनिक, इंटरनेट और डिजिटल मीडियम्स में आजकल दुनियाभर में 24x7 घंटे लेटेस्ट न्यूज़ और न्यूज़ अपडेट्स आते रहते हैं. लेकिन न्यूज़ की दुनिया में जर्नलिस्ट्स के महत्व को कोई भी नकार नहीं सकता है. जर्नलिस्ट्स अपनी न्यूज़ और व्यूज़ से अधिकतर लोगों की सोच और कामकाज पर बहुत असर डालते हैं. यहां तक कि, देश-विदेश की सरकारें बनने/ गिरने में भी न्यूज़ और जर्नलिस्ट्स की अहम भूमिका रहती है. जहां कुछ साल पहले तक स्टूडेंट्स मास कम्युनिज्म या जर्नलिज्म का कोर्स करके किसी भी फील्ड में न्यूज़ रिपोर्टिंग करते थे. लेकिन अब ऐसा नहीं है. हमारे जीवन, समाज और सरकार  पर जर्नलिज्म के बढ़ते हुए प्रभाव को देखते हुए अब देश-दुनिया में जर्नलिज्म के क्षेत्र में कई स्पेशलाइजेशन कोर्सेज हैं. दूसरे शब्दों में, आजकल भारत सहित पूरी दुनिया में जर्नलिज्म की कई ऐसी फ़ील्ड्स हैं जिनमें भावी जर्नलिस्ट्स अपने इंटरेस्ट्स और करियर लाइन के मुताबिक स्पेशलाइजेशन कर सकते हैं. अगर आप भी एक जर्नलिस्ट बनना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पढ़कर आप अपने लिए मनचाहा जर्नलिज्म कोर्स चुनकर जर्नलिज्म की फील्ड में अपना शानदार करियर बना सकते हैं. 

पोलिटिकल जर्नलिज्म

पोलिटिकल जर्नलिज्म सबसे कॉमन और लोकप्रिय जर्नलिज्म है. प्रिंट मीडिया के साथ-साथ रेडियो/ टीवी  और डिजिटल मीडिया तक, पोलिटिकल जर्नलिज्म सभी मीडिया प्लेटफॉर्म्स में काफी लोकप्रिय फील्ड है. यह जर्नलिज्म की ऐसी फील्ड है जिसमें नेशनल और इंटरनेशनल पॉलिटिक्स के फैक्ट्स, इश्यूज़ और टॉपिक्स को शामिल किया जाता है. पोलिक्टिकल जर्नलिज्म का प्रमुख उद्देश्य वोटर्स को सरकार से संबद्ध उन सभी मामलों के बारे में जानकारी देना होता है जिन मामलों का उन वोटर्स पर असर पड़ सकता है. हमारे देश में जाने-माने पोलिटिकल जर्नलिस्ट्स के तौर पर करन थापर, स्व. गौरी लंकेश, एन. राम जैसे कई प्रमुख जर्नलिस्ट्स के नाम शामिल हैं.

एंटरटेनमेंट जर्नलिज्म

इस फील्ड में एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री से संबद्ध विभिन्न पहलू, मामले और इवेंट्स शामिल किये जाते हैं. सेलिब्रिटी कवरेज से लेकर फैशन न्यूज़ तक और फिल्म क्रिटिक्स से लेकर म्यूजिक और विडियो गेम रिव्युज तक सभी आस्पेक्ट्स एंटरटेनमेंट जर्नलिज्म में शामिल होते हैं. एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट्स रिव्युज़ तैयार करने में एक्सपर्ट होते हैं जोकि ऑडियंसेज को महत्वपूर्ण जानकारी देते हैं. एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट्स न्यूज़पेपर के दफ्तरों, मैगजीन्स, ऑनलाइन पब्लिकेशन्स, रेडियो और टीवी न्यूज़रूम्स, पीआर एजेंसीज, और फिल्म प्रोडक्शन हाउसेज में जॉब कर सकते हैं. 

पॉलिटिकल जर्नलिज़म में तलाशें सुनहरे करियर के बेहतर विकल्प

स्पोर्ट्स जर्नलिज्म

एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के तौर पर ये पेशेवर देश-विदेश में स्पोर्ट्स कवरेज, स्पोर्ट्स से संबंधित इनवेस्टिगेटिव जर्नलिज्म, गेम स्टेटिसटिक्स की रिपोर्टिंग, कोचेज और प्लेयर्स के इंटरव्यूज लेना और गेम कमेंटरी से जुड़े विभिन्न काम कर सकते हैं. स्पोर्ट्स फेंस भी स्पोर्ट्स जर्नलिज्म में कोर्स करने के बाद स्पोर्ट्स से संबंधित किसी भी फील्ड को आधार बनाकर जर्नलिज्म में अपना करियर शुरू कर सकते हैं.

ट्रेवल जर्नलिज्म

ट्रेवल जर्नलिस्ट्स देश-विदेश के विभिन्न स्थानों के बारे में लिखने और जानकारी देने का काम करते हैं जिसके तहत ये पेशेवर देश-दुनिया की विभिन्न संस्कृतियों और रीति-रिवाजों का वर्णन करते हैं. ये लोग ट्रेवल इनफॉर्मेशन जैसेकि, आइटिनेरेरी गाइड्स, कंट्री गाइड्स, लोकल लोगों के इंटरव्यूज और लोकल कस्टम्स और ट्रेडिशन्स को अपने लेखों के माध्यम से पब्लिश भी करते हैं. ट्रेवल जर्नलिस्ट्स ऐसी जानकारी भी लोगों के सामने रखते हैं जो ट्रेवल गाइड या अन्य किसी भी तरीके से लोगों को सुलभ नहीं होती है.

स्मार्ट जर्नलिज्म में हैं प्रौमिसिंग करियर्स और जॉब प्रोस्पेक्टस

डाटा जर्नलिज्म

भारत में अब डाटा जर्नलिज्म भी बहुत लोकप्रिय हो रहा है क्योंकि अब पूरी दुनिया में डाटा स्पेशलाइजेशन का दौर है. डाटा जर्नलिज्म का मतलब न्यूज़ और जानकारी को वास्तव में सटीक न्यूमेरिकल डाटा के रूप में पेश करना होता है. डाटा जर्नलिज्म के तहत जर्नलिस्ट्स किसी टॉपिक या स्टोरी को विभिन्न उपयोगी और आकर्षक टूल्स जैसेकि, इंटरैक्टिव डिजिटल ग्राफ़िक्स, चार्ट्स और मैप्स के जरिये पेश करते हैं. डाटा जर्नलिज्म द्वारा स्टेटिसटिक्स, डिज़ाइन, कंप्यूटर साइंस, डाटा विज्युलाइज़ेशन जैसे टॉपिक्स को जर्नलिज्म के कोर प्रिंसिपल्स के साथ इस्तेमाल किया जाता है.

अब, हम आपको यह भी बताना चाहते हैं कि, ये सभी भारत में सबसे पसंदीदा जर्नलिज्म स्पेशलाइजेशन्स हैं. यह सच है कि, जर्नलिज्म में सिर्फ ये  खास टॉपिक्स और स्पेशलाइजेशन्स ही नहीं शामिल होते बल्कि जर्नलिज्म में अन्य कई फ़ील्ड्स हैं जिनमें आप अपनी पसंद और जरुरत के मुताबिक कोई स्पेशलाइजेशन कोर्स कर सकते हैं.

वाइल्ड लाइफ जर्नलिज्म में सुनहरे करियर के आसार

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Related Stories