Search

UP बोर्ड हाई स्कूल परीक्षा 2018 के टॉप 10 लिस्ट में दिव्या और गरिमा गोयल भी शामिल

Jun 13, 2018 16:40 IST

    UP बोर्ड ने हाई स्कूल के परिणाम 29 अप्रैल 2018 को जारी कर दिए थे. आज इस लेख में हम up बोर्ड के दो टोपर्स से बात करेंगे और जानेंगे उनके सफलता का राज़. तो चलिए जानते हैं दिव्या और गरिमा से जिन्होंने UP बोर्ड कक्षा 10वीं की परीक्षा में 6th और  7th रैंक हासिल किया और जानते है कि उन्होंने इस सफलता के लिए क्या रणनीति बनाई थी.

    दिव्या:
    दिव्या का सपना भविष्य में IAS बनने का है. वह IAS बनकर कुछ अलग करने की चाह रखती हैं तथा देश की सेवा करना चाहती हैं. दिव्या स्टार पेपर मिल सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज की छात्रा हैं. दिव्या ने 93.67% मार्क्स प्राप्त किया है. इनका  गणित विषय में 98 मार्क्स प्राप्त किया है, इन्हिने बताया की मैथ्स मेरा पसंदीदा सब्जेक्ट है तथा उसी में मेरे हाईएस्ट मार्क्स आए हैं. दिव्या एक आईएस ऑफिसर बनना चाहती हूँ

    गरिमा गोयल:

    अब हम बात करते हैं गरिमा गोयल से जिन्होंने UP बोर्ड कक्षा 10वीं में 7th रैंक प्राप्त किया है. गरिमा के परिवार वाले तथा शिक्षक सभी उनकी सफलता से प्रसन्न हैं. गरिमा ने सरस्वती विद्या मंदिर से अपनी कक्षा 10वीं की पढ़ाई की है. गरिमा की बड़ी बहन भी टोपर रह चुकी हैं तथा उनके एग्जाम के समय उनके भाई और बहन दोनों ने बहुत सहयोग किया.

    दोनों छात्राओं से इंटरव्यू के दौरान पूछे गए प्रश्न और उनके उत्तर निम्लिखित हैं:

    प्रश्न . आपके स्कूल का नाम क्या है?  

    उत्तर  : मेरे स्कूल का नाम स्टार पेपर मिल सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज है.

    प्रश्न .. कितने प्रतिशत मार्क्स हासिल किए आपने कक्षा 10वीं की परीक्षा में?  

    उत्तर  : 93.67% मार्क्स प्राप्त किया है मैंने.

    प्रश्न .. सबसे ज्यादा अंक किस विषय में प्राप्त किया?    

    उत्तर  : गणित विषय में मैंने 98 मार्क्स प्राप्त किया है.

    प्रश्न .. आपका पसंदीदा सब्जेक्ट कौन सा है?   

    उत्तर  : मैथ्स मेरा पसंदीदा सब्जेक्ट है तथा उसी में मेरे हाईएस्ट मार्क्स आए हैं.

    प्रश्न .  5. स्ट्रीम कौन सी थी आपकी?  

    प्रश्न .. साइंस में कितने मार्क्स मिले आपको?

    उत्तर  : साइंस में मैंने 90 अंक प्राप्त किया है.

    प्रश्न . tution क्लास आपने अपनी तैयारी के लिए लिया था?   

    उत्तर  : नहीं कोई tution क्लास नहीं ली, केवल सेल्फ स्टडी ही किया था.

    प्रश्न. तैयारी में घर पर किसी का सहयोग मिला?   

    उत्तर  : भाई ने पढ़ाई में बहुत मदद की, वह भी कक्षा 12वीं में था तथा उसकी भी क्लास 12वीं कम्पलीट हो गई है.

    प्रश्न . अब आगे क्या बनना चाहतीं हैं?

    उत्तर  : मै एक आईएस ऑफिसर बनना चाहती हूँ.

    प्रश्न . कोई परिवार में आईएस है आपके?    

    उत्तर  : अभी तो फ़िलहाल कोई नहीं है आईएस ऑफिसर घर में लेकिन पापा और मेरा सपना है की मई आईएस ऑफिसर बनू इसलिए मै बनना चाहती हूँ.

    प्रश्न . जब आप स्कूल में पहली बार पहुंचे रिजल्ट के बाद तो आपको कैसा लगा?   

    उत्तर  : बहुत अच्छा लगा मुझे, सभी टीचर मुझे बधाई दे रहे थे.

    प्रश्न . इस सम्बन्ध में स्कूल में कोई समारोह आयोजित हुआ?  

    उत्तर  : एक प्रोग्राम आयोजित किया गया जिसमें मुझे प्राइज और स्कॉलरशिप भी मिली है.

    प्रश्न . अपने सहयोगी तथा छात्रों को आप क्या सन्देश देना चाहेंगी?

    उत्तर  : मेहनत करते रहें क्यूंकि मेहनत कभी बेकार नहीं जाती है तथा आपको उसका परिणाम ज़रूर मिलता है.

    प्रश्न . इससे पहले भी कोई बच्चा टोपर रहा है पूरे प्रदेश में?   

    उत्तर  : इससे पहले तो नहीं, 20 साल पहले रहा था.

    प्रश्न . तो आपको लगता है की आपका रिकॉर्ड कोई अगली बार तोड़ेगा?  

    उत्तर  : हाँ ज़रूर तोड़ेंगे, विद्या मंदिर के बच्चे हैं हम तो पूरी मेहनत करेंगे और अच्छा ही करेंगे.

    प्रश्न . पापा आपके क्या करते हैं?   

    उत्तर  : प्राइवेट जॉब करते हैं, अकाउंटेंट हैं तथा उनका नाम सुबोध कुमार है.

    प्रश्न . आपकी मम्मी और भाई क्या करते हैं?  

    उत्तर  : मम्मी हाउस वाइफ हैं और उनका नाम जय देवी है, भाई ने अभी कक्षा 12वीं कम्पलीट की है और भाई का नाम सुगंध कुमार है.

    DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

    X

    Register to view Complete PDF