पब्लिक सेक्टर बैंकों में राजभाषा अधिकारी की जॉब प्रोफाइल

आईबीपीएस विशेषज्ञ अधिकारी की परीक्षा 28 जनवरी को होने वाली है। यहां हम राजभाषा अधिकारी का जॉब प्रोफाइल के बारे में चर्चा कर रहे हैं।

Created On: Jan 9, 2018 16:25 IST
Job Profile of Rajbhasha Adhikari in Banks
Job Profile of Rajbhasha Adhikari in Banks

बैंक में एक राजभाषा अधिकारी  (Official Language Officer) एक ऐसा अफसर होता है जो कि बैंकिंग परिचालन जैसे परिपत्रों, नोटिस इत्यादि में जितना संभव हो सके देश की आधिकारिक भाषा अर्थात हिंदी के उपयोग के लिए ज़िम्मेदार है। राजभाषा अधिकारी को हिंदी तथा संस्कृत भाषा का गहन ज्ञान होना चाहिए जिससे कि बैंकों में दिन-प्रतिदिन होने वाले कार्यो में हिंदी भाषा की उपेक्षा न हो।

क्या पीएसयू बैंकों में प्रोमोशन में एससी/ एसटी का कोई कोटा है?

राजभाषा अधिकारी क्या करता है?

राजभाषा अधिकारी  बैंक में हिंदी के प्रचार के लिए पूर्णता जिम्मेदार होता है। बैंक में एक राजभाषा अधिकारी निम्नलिखित जिम्मेदारिया होती है:

  • दस्तावेजों का हिंदी में अनुवाद: राजभाषा अधिकारी की मुख्य जिम्मेदारियो में से एक बैंकों के आधिकारिक दस्तावेजों का हिंदी में अनुवाद करना है। बैंक द्वारा अपनी सभी शाखाओं में परिचालित परिपत्र (circulars) और नोटिस अंग्रेजी और हिंदी दोनों में भेजी जाएं, यह सुनिश्चित करना राजभाषा अधिकारी की जिम्मेदारी है।
  • प्रशिक्षण कार्यक्रम (Training Programmes) की व्यवस्था करना: राजभाषा अधिकारी की दूसरी महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों में बैंक के अधिकारियों के लिए नियमित अन्तराल पर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करना है  ताकि बैंक के अधिकारी देश की आधिकारिक भाषा का अपने दैनिक कार्यो के लिए अधिक से अधिक उपयोग कर सकें।
  • राजभाषा का प्रचार: विशेषज्ञ अधिकारियों के कैडर में राजभाषा अधिकारी की भर्ती का मुख्य उद्देश्य सरकारी  निर्देश का पालन करना है कि केंद्र सरकार की ऑफिसियल कम्युनिकेशन में देश की आधिकारिक भाषा का इस्तेमाल सुचारू रूप से हो सके। यह सब सुनिश्चित करना राजभाषा अधिकारी का ही कार्य हैं।    

यदि आप बैंक पीओ परीक्षा में असफ़ल हो रहे है तो इन 6 स्टेप्स को अपनाए !

बैंक में राजभाषा अधिकारी कौन बन सकता है?

उपर्युक्त जॉब प्रोफाइल के विवरण से, यह स्पष्ट है कि पद के साथ न्याय करने के लिए आपको हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओ का ज्ञान होना चाहिए। राजभाषा अधिकारी पद के लिए योग्य होने के लिए उम्मीदवार को हिंदी में पोस्ट ग्रेजुएट होने के साथ में ग्रेजुएशन में अंग्रेजी विषय या संस्कृत में पोस्ट ग्रेजुएट होने के साथ ग्रेजुएशन में हिंदी या अंग्रेजी विषय होना आवश्यक  है। इस पद के लिए आईबीपीएस द्वारा न्यूनतम उम्र 20 वर्ष और अधिकतम उम्र 30 वर्ष है।

बैंकिंग परीक्षाओ के लिए अंग्रेजी भाषा की तैयारी कैसे करे?

एक राजभाषा अधिकारी बैंक में एक विशेषज्ञ अधिकारी है और नौकरी की प्रकृति लगभग अन्य विशेषज्ञ कैडर्स जैसे कानून अधिकारी, एचआर ऑफिसर्स, एग्रीकल्चर ऑफिसर आदि के समान है। मुख्य रूप राजभाषा अधिकारी के रूप में आप मेट्रो तथा क्षेत्रीय कार्यालयों में पोस्टेड रहेंगे पर प्रमोशन के मौके बैंक पीओ की तरह ज्यादा नहीं है.

जानिए SBI PO Exam 2018 की तैयारी के लिए आपको कौन सा न्यूज़ पेपर पढना चाहिए

IBPS PO इंटरव्यू 2018 में आपके एजुकेशनल बैकग्राउंड का महत्व

Related Categories

    Comment (0)

    Post Comment

    7 + 7 =
    Post
    Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.