नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने चार ग्रीनफील्ड हवाई अड्डों के लिए मंजूरी प्रदान की

इसके अतिरिक्त मंत्रालय ने आंध्र प्रदेश स्थित नेल्लोर एवं कुरनूल जिलों में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में तैयार हो रहे ग्रीनफील्ड हवाई अड्डों को भी मंजूरी प्रदान की

Created On: Dec 29, 2015 14:19 ISTModified On: Dec 30, 2015 17:10 IST

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने 28 दिसंबर 2015 को देश में चार ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे बनाने हेतु मंजूरी प्रदान की. इनमें तीन हवाई अड्डे आंध्र प्रदेश एवं एक गुजरात स्थित धोलेरा में स्थित होगा.

इसके अतिरिक्त मंत्रालय ने आंध्र प्रदेश स्थित नेल्लोर एवं कुरनूल जिलों में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में तैयार हो रहे ग्रीनफील्ड हवाई अड्डों को भी मंजूरी प्रदान की.

सबसे पहली क्लीयरेंस, साईट क्लीयरेंस 28 दिसंबर 2015 को आंध्र प्रदेश के भोगापुरम में बन रहे हवाई अड्डे को दी गयी जो विशाखापत्तनम ने 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.

गुजरात में प्रस्तावित अन्तरराष्ट्रीय हवाईअड्डे की लागत 1378 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है. ऐसा माना जा रहा है कि इससे अहमदाबाद में मौजूद हवाई अड्डे के एयर ट्रैफिक में भी कमी आयेगी. इस हवाई अड्डे को पहले ही पर्यावरण मंत्रालय से वर्ष 2014 में अनुमति प्राप्त हो चुकी है.

3525 एकड़ में बन रहे धोलेरा एयरपोर्ट पर दो रनवे होंगे एवं इसकी टर्मिनल बिल्डिंग में 1200 घरेलू तथा अन्तरराष्ट्रीय यात्रियों की क्षमता होगी.

ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट

•    इसका अर्थ है ऐसा एयरपोर्ट जिसका एक नए स्थान पर एकदम शुरू से निर्माण हो रहा हो.
•    ग्रीनफील्ड शब्द सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग से संबंध रखता है जिसका अर्थ है किसी परियोजना में पहले आई बाधाओं को दूर किया जाना.

जिन परियोजनाओं को संशोधित या उन्नत किया जा रहा हो उन परियोजनाओं को ब्राउनफील्ड परियोजना कहा जाता है.

Now get latest Current Affairs on mobile, Download # 1  Current Affairs App

 

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Post Comment

8 + 4 =
Post

Comments

    Whatsapp IconGet Updates

    Just Now