बायोकॉन लिमिटेड ने भारत में हेपेटाइटिस-सी दवा का जेनेरिक संस्करण लांच किया

बायोकॉन लिमिटेड ने 24 दिसम्बर 2015 को भारतीय बाजार में हेपेटाइटिस-सी दवा का जेनेरिक संस्करण लांच किया.

Created On: Dec 29, 2015 13:15 ISTModified On: Dec 30, 2015 15:55 IST

बायोकॉन लिमिटेड ने 24 दिसम्बर 2015 को भारतीय बाजार में हेपेटाइटिस-सी दवा का जेनेरिक संस्करण लांच किया. हरवनी दवा का जेनेरिक संस्करण सीआईएमआईवीआईआर-एल (CIMIVIR-L) ब्रांड के तहत बेचा जाएगा.

इसका दिन में एक बार उपयोग करना होगा. कंपनी का दावा है कि यह हेपेटाइटिस-सी से संक्रमित लोगों के लिए एक सुरक्षित विकल्प होगा. सीआईएमआईवीआईआर-एल यह लेडीपेसविर 90 एमजी का सोफोसबुविर 400 एमजी मिश्रण है, जो एक अमेरिकी मेडिकल कंपनी जिलेड के उत्पाद का विकल्प है.

उल्लेखनीय है कि हाल ही में ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) द्वारा भारत में इस कांबिनेशन को जिलेड के लाइसेंस के तहत बेचने की अनुमति दी गयी.

हेपेटाइटिस- सी
हेपेटाइटिस सी एक संक्रामक रोग है जो हेपेटाइटिस सी वायरस एचसीवी (HCV) की वजह से होता है और यकृत को प्रभावित करता है. हेपेटाइटिस सी वायरस रक्त से रक्त के संपर्क द्वारा फैलता है. शुरुआती संक्रमण के बाद अधिकांश लोगों में  यदि कोई हों, तो बहुत कम लक्षण होते हैं, हालांकि पीड़ितों में से 85% के यकृत में वायरस रह जाता है.

हेपेटाइटिस सी वायरस फैलने का कारण

• सौंदर्य चिकित्सा जहां मृत त्वचा की कोशिकाएं गिरी होती हैं उसकी सतह पर कई दिनों तक हेपेटाइटिस सी का वायरस पनपता रहता है.

• दवा इंजेक्ट करने वाले उपकरणों (सुई, हीटिंग चम्मच आदि) को शेयर करने से. यह उप-सहाराई अफ्रीका के बाहर एचसीवी के संचरण का प्राथमिक स्रोत है.

• किसी संक्रमित व्यक्ति के साथ असुरक्षित सेक्स से.

• कभी-कभार प्रसव के दौरान संक्रमित माता से उसके बच्चे में हो सकता है. यह खतरा तब और भी बढ़ सकता है जब माता एचआईवी से भी संक्रमित हो.

• संक्रमित रक्त से.

• नाक से कोकीन का इस्तेमाल करने वाले उपकरणों को शेयर करने से.

• हाथ पर टैटू गुदवाने, संक्रमित खून चढ़वाने, दूसरे का रेजर उपयोग करने आदि की वजह से हेपेटाइटिस सी होने की संभावना अधिक रहती है.

लक्षण

• लोगों में हेपेटाइटिस सी से संक्रमित होने पर भी कोई लक्षण नहीं दिखाई देते.

• अमूमन इसके लक्षण 15 से 150 दिन में विकसित होते हैं.

• जिन लोगों में कोई भी लक्षण  दिखाई नहीं देता, ऐसे संक्रमित लोग ही वायरस को फैलाने में अहम भूमिका निभाते हैं.

• इसके कुछ लक्षणों में भूख में कमी, पीलिया, उल्टी, अनिद्रा और अवसाद शामिल हो सकते हैं.

Now get latest Current Affairs on mobile, Download # 1  Current Affairs App

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Comment ()

Post Comment

5 + 1 =
Post

Comments

    Whatsapp IconGet Updates

    Just Now