Search

भारत और क्यूबा के मध्य प्रसारण के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने हेतु समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की यात्रा के दौरान भारत और क्यूबा ने प्रसारण के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए.

Nov 1, 2013 10:25 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

पेरू की ऐतिहासिक यात्रा के बाद उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी 30 अक्टूबर 2013 को क्यूबा पहुंचे. क्यूबा पहुंचने के तुरंत बाद उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने भारत के एक समारोह का उद्घाटन किया जो नृत्यरूपा से प्रारंभ हुआ. यह छह शास्त्रीय नृत्यों का मिश्रण है.

उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की यात्रा के दौरान भारत और क्यूबा ने प्रसारण के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिए एक समझौता ज्ञापन पर 30 अक्टूबर 2013  को हस्ताक्षर किए. यह समझौता प्रसार भारती और क्यूबा के रेडियो तथा टेलिविजन संस्थान के बीच किया गया. समझौते पर हस्ताक्षर क्यूबा में भारत के राजदूत चिंतापल्ली राज शेखर और इंस्टीट्यूट के उपाध्यक्ष एमिलिओ मॉइसेस गैरसिआ बोरोतो ने किए.

इस समझौते के तहत दोनों देश परस्पर हित के मुद्दों पर सह-निर्माण के अवसरों का पता लगाएंगे. इस समझौते से सांस्कृतिक मनोरंजन, शिक्षा, विज्ञान, खेल तथा समाचारों के क्षेत्र में आदान-प्रदान आसान होगा. इससे फिल्म और अन्य कार्यक्रमों का मिलकर निर्माण करने के अवसर भी पैदा होंगे.

यात्रा के दौरान भारत के उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने क्यूबा के क्रांतिकारी नेता फिदेल कास्त्रो से भी मुलाकात की. क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति कास्त्रो ने कई महीनों के बाद किसी विदेशी प्रतिनिधि से मुलाकात की है. कास्त्रो पिछली बार जुलाई 2013 में वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो से मिले थे. कास्त्रो का स्वास्थ्य खराब है और उन्होंने जुलाई 2006 में अपने पद से त्यागपत्र दे दिया था.

दोनों देश गुट निरपेक्ष आंदोलन (नाम) के संस्थापक सदस्यों में शामिल हैं. गुट निरपेक्ष आंदोलन में मिलकर काम करने के बावजूद यह किसी अति विशिष्ट भारतीय हस्ती का साम्यवादी देश का यह पहला द्विपक्षीय दौरा है. पूर्व में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और अन्य नेताओं द्वारा की गई यात्राएं बहुपक्षीय आयोजनों और बैठकों का हिस्सा थीं.

कैरीबियाई देश में 1959 में साम्यवादी क्रांति के समय से ही क्यूबा और भारत के बीच मजबूत संबंध हैं. भारत उन देशों में शामिल था जिन्होंने कास्त्रो के नेतृत्व में साम्यवादी क्यूबा को सबसे पहले मान्यता प्रदान की थी और तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू पहले बड़े वि नेताओं में शामिल थे जिन्होंने 1960 में हवाना का दौरा किया था.

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS