Search

चौथा बिम्सटेक सम्मेलन नेपाल में आरंभ हुआ

Aug 30, 2018 14:29 IST
1

नेपाल स्थित काठमांडू में 30 अगस्त 2018 को चौथा बिम्सटेक सम्मेलन आरंभ हुआ. दो दिवसीय यह सम्मेलन 30-31 अगस्त 2018 को आयोजित किया जायेगा जिसमें आतंकवाद, स्थानीय संपर्क एवं व्यापारिक रिश्ते बढ़ाने के लिए बातचीत की जाएगी.

विषय 2018: ‘शांतिपूर्ण, समृद्ध एवं सतत बंगाल की खाड़ी के क्षेत्र हेतु’. यह विषय सदस्य देशों द्वारा आकांक्षाओं और चुनौतियों से जुड़ीं सामूहिक समस्याओं को सुलझाने का प्रयत्न करेगा.

 

प्रधानमंत्री मोदी नेपाल में

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बिम्स्टेक शिखर सम्मेलन की बैठक में हिस्सा लेने काठमांडू पहुंचे. यात्रा पर रवाना होने से पहले अपनी फेसबुक पोस्ट में मोदी ने कहा कि शिखर बैठक के दौरान वे ‘बंगाल की खाड़ी बहु क्षेत्रीय तकनीकी एवं आर्थिक सहयोग पहल' (बिम्सटेक) देशों के नेताओं के साथ क्षेत्रीय सहयोग को मजबूत बनाने, कारोबारी संबंधों को प्रगाढ़ बनाने और शांतिपूर्ण एवं समृद्ध बंगाल की खाड़ी क्षेत्र के निर्माण में सामूहिक प्रयासों को आगे बढ़ाने के बारे में चर्चा करेंगे. शिखर सम्मेलन का विषय शांतिपूर्ण, समृद्ध और सतत बंगाल की खाड़ी है और यह हम सभी की साझी आकांक्षाओं एवं चुनौतियों के संबंध में सामूहिक प्रतिक्रिया में मददगार होगा.

 


बिम्सटेक वरिष्ठ अधिकारियों की 19वीं बैठक

•    बिम्सटेक सदस्य राष्ट्रों की विदेश सचिव स्तर की 19वीं बैठक 29 अगस्त 2018 को आयोजित की गई. इस बैठक में सदस्य राष्ट्रों ने अब तक हासिल किये गये लक्ष्यों एवं मुद्दों पर चर्चा की.

•    विदेश सचिवों की इस बैठक में सदस्य राष्ट्रों ने व्यापारिक रिश्तों को और अधिक सुदृढ़ करने के उपायों पर भी चर्चा की गई.

•    सदस्य राष्ट्रों ने सीमा शुल्क सहयोग, कनेक्टिविटी, प्रौद्योगिकी, काउंटर आतंकवाद और अंतर्राष्ट्रीय अपराध, कृषि, गरीबी उन्मूलन और सार्वजनिक स्वास्थ्य से संबंधित विभिन्न तंत्रों की कई रिपोर्टों पर विचार-विमर्श किया.

•    बैठक में सदस्यों के बीच ऊर्जा क्षेत्र में और सहयोग के लिए बिम्सटेक ग्रिड इंटरकनेक्शन की स्थापना के लिए समझौता ज्ञापन (एमओयू) के लिए सिफारिश की गई.

बिम्सटेक में शामिल देश

बिम्सटेक (BIMSTEC) का पूरा नाम बंगाल की खाड़ी बहु-क्षेत्रीय तकनीकी और आर्थिक सहयोग उपक्रम (Bay of Bengal Initiative for Multi-Sectoral Technical and Economic Cooperation) है. बंगाल की खाड़ी से तटवर्ती या समीपी देशों का एक अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक सहयोग संगठन है. इसके सदस्य देशों में बांग्लादेश, भारत, बर्मा, श्रीलंका, थाईलैण्ड, भूटान और नेपाल शामिल हैं.

 
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK