अजय देवगन के पिता वीरू देवगन का निधन

फिल्म अभिनेता अजय देवगन के पिता वीरू देवगन का 27 मई 2019 को मुंबई में निधन हो गया. वे लम्बे समय से बीमार थे. वीरू देवगन मशहूर स्टंट और एक्शन कोरियोग्राफर और डायरेक्टर थे. उन्होंने विभिन्न फिल्मों में स्टंट निर्देशन किया था.

वीरु देवगन का जन्म पंजाब के अमृतसर में देवगन परिवार में हुआ था. वीरु देवगन ने 80 से अधिक हिंदी फिल्मों के लिए लड़ाई और एक्शन दृश्यों को कोरियोग्राफ किया था. इसके अलावा उन्होंने एक फिल्म भी निर्देशित की है, जिसका शीर्षक 'हिंदुस्तान की कसम है',  जो 1999 में रिलीज हुई थी. उनके निधन के शोक पर ट्विंकल खन्ना, महेश भट्ट, अयान मुखर्जी, साजिद खान, हरमन बाजवा, हैरी बाजवा सहित कई बॉलीवुड सितारों ने शोक व्यक्त किया है.

वीरू देवगन के बारे में

•    वे वर्ष 1957 में मात्र 14 वर्ष की आयु में अमृतसर से मुंबई आ गये थे.
•    वे मुंबई में टैक्सियां धोने लगे और कारपेंटर का काम करने लगे, हौसला लौटने पर फिल्म स्टूडियोज़ के चक्कर काटने लगे.
•    वे हीरो बनना चाहते थे लेकिन कुछ समय बाद उन्होंने अभिनेता बनने का ख़्वाब छोड़ दिया.
•    उन्होंने इंकार (1977), नटवरलाल (1979), क्रांति (1981), हिम्मतवाला (1983), शहंशाह (1988), त्रिदेव (1989), बाप नम्बरी बेटा दस नंबरी (1990), फूल और कांटे (1991) जैसी फिल्मों में एक्शन निर्देशन किया था.

एक्टिंग में भी हाथ आजमाया था

वीरु देवगन ने एक्टर के तौर पर भी कुछ फिल्मों में काम किया था. उन्होंने 'क्रांति', 'सौरभ', 'सिंहासन' जैसी फिल्मों में अपने अभिनय का जलवा बिखेरा था. उन्होंने प्रोड्यूसर के तौर पर 'हिंदुस्तान की कसम' के अलावा, 'दिल क्या करे' और 'सिंहासन' में काम किया था. अजय देवगन की मशहूर फिल्म 'जिगर' को उनके पिता वीरु देवगन ने ही लिखा था. बॉलीवुड में उनका नाम बहुत ही सम्मान के साथ लिया जाता है.

 

Download our Current Affairs& GK app from Play Store

Related Categories

NEXT STORY
Also Read +
x