Are you worried or stressed? Click here for Expert Advice
Next

दीपिका कुमारी ने रचा इतिहास, स्वर्ण जीतकर बनीं दुनिया की नंबर वन तीरंदाज

Vikash Tiwari

भारत की स्टार महिला तीरंदाज दीपिका कुमारी ने पेरिस में चल रहे तीरंदाजी विश्व कप में इतिहास रच दिया. विश्व कप स्टेज 3 में रिकर्व व्यक्तिगत स्पर्धा को 6-0 से जीतकर स्वर्ण पदक की अपनी हैट्रिक पूरी की. इस जीत के साथ दीपिका दुनिया की नंबर 1 महिला तीरंदाज बन गई हैं.

विश्व तीरंदाजी ने 28 जून 2021 को अपनी ताजा रैंकिंग जारी की जिसमें दीपिका को पहला स्थान मिला. दीपिका कुमारी ने दूसरी बार तीरंदाजी में यह उपलब्धि हासिल की है. दीपिका कुमारी ने साल 2012 में पहली बार तीरंदाजी में शीर्ष स्थान हासिल किया था. 27 जून को दीपिका ने व्यक्तिगत और मिश्रित स्पर्धा में गोल्ड मेडल अपने नाम किए. 

This is going to take Deepika to the number one spot in the world rankings on Monday!

🥇 🇮🇳 Deepika Kumari
🥈 🇷🇺 Elena Osipova
🥉 🇺🇸 Mackenzie Brown#ArcheryWorldCup pic.twitter.com/6yizeEndyo

— World Archery (@worldarchery) June 27, 2021

विश्व तीरंदाजी की तरफ से ट्वीट

विश्व तीरंदाजी की तरफ से आधिकारिक ट्वीट कर कहा गया, दीपिका कुमारी ने विश्व तीरंदाजी में पहली रैंक हासिल कर ली है. दीपिका कुमारी ने पहले अंकिता भकत और कोमालिका बारी के साथ महिला रिकर्व टीम स्पर्धा में मैक्सिको को आसानी से हराकर स्वर्ण पदक जीता.

एलिना ओसीपोवा को 6-0 के अंतर से हराया

दीपिका कुमारी ने अतानू दास के साथ 0-2 से पिछड़ने के बाद नीदरलैंड के सेफ वान डेन और गैब्रिएला की जोड़ी को 5-3 के अंतर से हराते हुए गोल्ड मेडल पर निशाना साधा. इसके बाद दीपिका कुमारी ने रूस की 17वीं रैंक प्राप्त एलिना ओसीपोवा को 6-0 के अंतर से हराकर स्वर्ण पदक जीता. दीपिका के ओवर ऑल पदकों की बात की जाए तो 9 स्वर्ण, 12 रजत और 7 कांस्य पदक जीतने में सफल रही हैं.  

दीपिका कुमारी के बारे में

झारखंड के बेहद ग़रीब परिवार में जन्म लेने वाली 27 वर्षीय दीपिका ने पिछले 14 सालों में एक लंबा सफर तय किया है. ओलंपिक महासंघ ने एक शॉर्ट फिल्म बनाई है जिसमें दीपिका और उनके परिवार ने दीपिका के सफर से जुड़ी चुनौतियों का ज़िक्र किया है.

दीपिका कुमारी 2012 से इंटरनेशनल तीरंदाजी खिलाड़ी हैं. दीपिका का जन्म 13 जून 1994 में रांची के रातू नामक स्थान में ऑटो चालक शिवनारायण महतो और रांची मेडिकल कॉलेज में नर्स गीता महतो के घर हुआ था.

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें एक लाख रुपए तक कैश

Related Categories

Live users reading now