एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप-2019

एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप के 23वें संस्करण का 21 अप्रैल 2019 को दोहा, क़तर में शुभारंभ हुआ. चार दिन तक चलने वाले इस आयोजन में 63 देशों के खिलाड़ी भाग ले रहे हैं. फिलहाल 11 स्वर्ण, 7 रजत और चार कांस्य पदकों के साथ बहरीन पहले स्थान पर है. चीन 10 स्वर्ण पदकों के साथ दूसरे तथा जापान पांच स्वर्ण, चार रजत और 9 कांस्य पदकों के साथ तीसरे स्थान पर है. भारत पदक तालिका में 3 स्वर्ण, 7 रजत तथा 7 कांस्य पदकों सहित कुल 17 पदक जीतकर चौथे स्थान पर है.

एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप के तीसरे दिन को एशियन गेम्स की स्वर्ण पदक विजेता और गत चैंपियन स्वप्ना बर्मन को महिला हेप्टाथलन में रजत पदक से संतोष करना पड़ा, जबकि पदक के शीर्ष दावेदार जिंसन जॉनसन ने 1500 मीटर दौड़ से अपना नाम वापस ले लिया.

पीयू चित्रा: एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भारतीय धावक पीयू चित्रा ने 1500 मीटर रेस में गोल्ड मेडल जीत लिया है। चित्रा ने यह रेस 4.14.56 मिनट में पूरी की। 23 साल की चित्रा ने 2017 में भी गोल्ड जीता था. बहरीन की गैशॉ टाइगेस्ट ने 4.14.81 मिनट और  विनफ्रेड म्युटाइल यावी ने 4.16.18 मिनट में रेस पूरी कर क्रमशः सिल्वर और ब्रॉन्ज मेडल जीता

दुती चंद: 200 मीटर की रेस में भारतीय धावक दुती चंद ने ब्रॉन्ज मेडल जीता है. एशियन चैम्पियनशिप में भारत ने 17 मेडल जीते हैं. दुती चंद ने 200 मीटर की रेस 23.24 सेकंड में पूरी की.

स्वप्ना बर्मन: 22 वर्षीय बर्मन ने सात स्पर्धाओं में कुल 5993 अंक हासिल किए और वह उज्बेकिस्तान की ईकातेरिना वोरनिना (6198 अंक) के बाद दूसरे स्थान पर रहीं. एक अन्य भारतीय पूर्णिमा हेमब्राम 5528 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर रहीं. बर्मन के कुल अंक इस बार पिछली बार से ज्यादा हैं. वर्ष 2017 के पिछले संस्करण में उन्होंने 5942 अंक हासिल किए थे. हालांकि, उन्होंने पिछले साल जकार्ता में हुए एशियन गेम्स से कम अंक हासिल किए. एशियन गेम्स में उन्होंने 6026 अंक हासिल किए थे.

अन्नू रानी: रानी ने 60.22 मीटर के जेवलिन थ्रो के साथ भारत का खाता खोला.  रानी द्वारा फेंका गया भाला वर्ष 2017 में एथलेटिक्स चैंपियनशिप में उनके प्रदर्शन से बेहतर था. हालांकि उनका यह थ्रो, मार्च 2019 में फेडरेशन कप के दौरान 62.34 मीटर की दूरी से दो मीटर कम ही था. चीन की हुइहुई लीयू ने अपने दूसरे प्रयास में 65.83 के थ्रो के साथ स्वर्ण पदक जीता.

अविनाश साबले: अविनाश साबले ने पुरुषों की 3000 मीटर स्टीलप्लेस में रजत पदक जीतने के लिए 8 मिनट 30.19 सेकंड का समय लिया, जो कि अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में उनका पहला पदक था.

पारुल चौधरी: पारुल चौधरी ने महिलाओं की 5000 मीटर दौड़ में 15:36.03 के समय के साथ कांस्य पदक जीता. इसमें उनका पिछला व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ 15:58.35 रिकॉर्ड था, जिसे उन्होंने फेडरेशन कप के दौरान बनाया था. बहरीन की विनफ्रेड म्यूटाइल यावी और बोंटू रेबिटू ने स्वर्ण पदक जीता.

एम. आर. पूवम्मा: एमआर पूवम्मा ने कजाखस्तान की एलिना मिखिना (53.19) के बाद तीसरे स्थान पर 53.21 सेकेंड के सी के साथ यह पदक जीता.

गवित मुरली कुमार: गवित मुरली कुमार ने भारत को पहले दिन का आखिरी पदक दिलाते हुए 10,000 मीटर की रेस में अपना व्यक्तिगत रैंक सुधारते हुए 28 मिनट 38.34 सेकंड का समय निकाला.

आर्टिकल अच्छा लगा? तो वीडियो भी जरुर देखें

एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप-2019
एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप, एशियन एथलेटिक्स एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम है. इस आयोजन का 2019 संस्करण दोहा के खलीफा इंटरनेशनल स्टेडियम में आयोजित किया जा रहा है और यह 2019 एथलेटिक्स विश्व चैंपियनशिप के लिए परीक्षण कार्यक्रम के रूप में काम करेगा, जो उसी इवेंट में आयोजित किया जा रहा है. प्रतियोगिता का आखिरी बार जुलाई 2017 में भारत के भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में आयोजित किया गया था.

 

यह भी पढ़ें: भारतीय नौसेना ने आईएनएस इम्फाल युद्धपोत लॉन्च किया

Related Categories

Popular

View More