Next

केंद्र सरकार ने वीज़ा और यात्रा प्रतिबंधों पर दी छूट, पर्यटक वीज़ा पर छूट अभी भी नहीं

केंद्र सरकार ने इस 22 अक्टूबर, 2020 को यह घोषणा की है कि, इसने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए, पर्यटक, इलेक्ट्रॉनिक और चिकित्सा श्रेणी को छोड़कर, सभी मौजूदा वीजा बहाल करने का फैसला किया है. कोविड-19 महामारी के कारण लागू किये गये लॉकडाउन के कारण निलंबित होने के बाद, इन  सेवाओं को लगभग आठ महीने बाद बहाल किया गया है.

गृह मंत्रालय ने पर्यटक वीजा धारक विदेशी नागरिकों को छोड़कर, भारत के सभी प्रवासी नागरिकों (OIC) और भारतीय मूल के व्यक्ति (PIO) कार्डधारकों के साथ-साथ अन्य सभी विदेशी नागरिकों को भी किसी भी उद्देश्य से भारत आने के लिए अनुमति दी है.

एक आधिकारिक बयान में, गृह मंत्रालय ने यह उल्लेख किया है कि, कोविड - 19 महामारी की वजह से गंभीर स्थिति को देखते हुए, भारत सरकार ने फरवरी, 2020 से अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की आवाजाही को नियंत्रित करने के लिए कई कठोर कदम उठाए थे.

वीजा और यात्रा प्रतिबंध में क्रमिक छूट

इस क्रमिक छूट के तहत, केंद्र सरकार ने सभी मौजूदा वीजाओं को तत्काल प्रभाव से बहाल करने का फैसला किया है. केवल पर्यटक, इलेक्ट्रॉनिक और मेडिकल वीजा धारकों को अनुमति नहीं दी गई है.

अगर ऐसे किसी वीजा की वैधता समाप्त हो गई है, तो यात्री संबंधित भारतीय मिशन या पोस्ट से उपयुक्त श्रेणियों के लिए नए वीजा प्राप्त कर सकेंगे.

ऐसे विदेशी नागरिक, जो चिकित्सा उपचार के लिए भारत आने की योजना बना रहे हैं, वे नए मेडिकल वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं. यह वीजा उनके चिकित्सा परिचारकों के लिए भी लागू किया जा सकता है.

यह विभिन्न उद्देश्यों के लिए विदेशी नागरिकों को भारत आने की सुविधा प्रदान करेगा.

सभी OCI और PIO कार्ड धारकों और विदेशी नागरिकों को सीपोर्ट इमिग्रेशन चेक पोस्ट और अधिकृत पासपोर्ट के माध्यम से पानी या हवाई मार्गों से प्रवेश करने की अनुमति है. अभी ऐसे लोगों पर प्रतिबंध लागू है जिनके पास पर्यटक वीजा है.

इस यात्रा छूट में, वंदे भारत मिशन के तहत संचालित अनुसूचित उड़ानें, बबल व्यवस्था, या नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा अनुमति-प्राप्त किसी भी किस्म की गैर-अनुसूचित वाणिज्यिक उड़ानें शामिल हैं.

यात्रियों को स्वास्थ्य दिशानिर्देश जैसेकि, क्वारंटाइन (संगरोध) और कोविड -19 से संबंधित अन्य हिदायतों का सख्ती से पालन करना होगा.

पृष्ठभूमि

फरवरी, 2020 में कोविड-19 के प्रकोप के बाद ये सभी वीजा प्रतिबंध लगाए गए थे, जब 25 मार्च, 2020 को देशव्यापी तालाबंदी (लॉक डाउन) लागू की गई थी, तो ठीक उसी समय, वाणिज्यिक उड़ानों के संचालन को भी निलंबित कर दिया गया था.

हालांकि, भारत सरकार VBM के तहत एयर इंडिया की उड़ान के सीमित परिचालन की अनुमति दे रही है. यह OCI और PIO कार्डधारकों की निश्चित श्रेणियों के साथ-साथ उन भारतीयों के लिए है जो कोविड - 19 महामारी के कारण विदेश में फंस गए हैं.

Related Categories

Also Read +
x

Live users reading now