Advertisement

केंद्र सरकार सीमावर्ती इलाकों में आप्टिकल फाइबर केबल बिछाने की योजना बना रही है: निर्मला सीतारमण

केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने 29 मई 2018 को घोषणा किया कि रक्षा कर्मचारियों और आम लोगों की कनेक्टिविटी की समस्याओं को दूर करने के लिए केंद्र सरकार सीमावर्ती इलाकों में आप्टिकल फाइबर केबल बिछाने की योजना बना रही है.

चार साल पूरे होने पर नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियों को रेखांकित करते हुए सीतारमण ने मीडिया के सवालों के जवाब में कहा कि हम जल्द ही सीमावर्ती इलाकों में ऑप्टिकल फाइबर केबल के विस्तार पर काम शुरू करेंगे.

मुख्य तथ्य:

भारत-चीन सीमा के साथ सभी सीमावर्ती इलाकों को ऑप्टिकल फाइबर केबल से जोड़ा जाएगा जो रेडियो आवृत्ति में सुधार के अलावा मोबाइल और टेलीफोन कनेक्टिविटी में भी काफी सुधार करेगा.

                                               इस तरह के फैसले का क्या कारण था?

  • यह निर्णय रक्षा मंत्री अरुणाचल प्रदेश के अंजवा जिले की सीमा पर बसे अंतिम गांव किबिथू में गई थीं. यहां उन्हें बताया गया था कि क्षेत्र के लोग प्रसारण की खराब तरंगों के कारण आकाशवाणी नहीं सुन पा रहे हैं.
  • किबिथू के लोग केवल चीनी रेडियो का प्रसारण ही सुन पा रहे है. इसके अलावा लोगों को मोबाइल नेटवर्क में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है.

 

सीमावर्ती क्षेत्रों में महिलाओं का सशक्तिकरण:

•    इसी अवसर पर, सीतारमण ने सीमावर्ती क्षेत्रों में महिलाओं के सशक्तिकरण पर भी प्रकाश डाला.

•    रक्षा बलों में भर्ती होने के बावजूद, महिलाएं लड़ाकू विमानों के पायलट के रूप में काम कर रही हैं और सरकार उन्हें अन्य क्षेत्रों में भी भर्ती करने का प्रयास कर रही है.

•    जिन महिलाओं को स्थायी कमीशन नहीं मिला है उन्होंने अपने अधिकारों के लिए अदालत से गुहार लगाई है और मामला अदालत में लंबित है.


ऑप्टिकल फाइबर केबल क्या है?

•    ऑप्टिकल फाइबर केबल एक विद्युत केबल के समान होता है, जो कि डेटा ट्रांसमिशन माध्यम के रूप में तांबे के तार या समाक्षीय केबल के रूप में काम किया जा सकता है.

•    ऑप्टिकल फाइबर केबल अन्य सभी केबल से महंगी है और इसकी डेटा ट्रान्सफर स्पीड भी बाकी केबल्स से अधिक होती है.

•    ऑप्टिकल फाइबर केबल पर बाहरी चुम्बकीय क्षेत्रों का प्रभाव नहीं पड़ता है.

यह भी पढ़ें: विद्युत मंत्री आरके सिंह ने बिजली भुगतानों में पारदर्शिता लाने हेतु वेब पोर्टल लांच किया

 
Advertisement

Related Categories

Advertisement