Next

कोविड के बाद हुई स्वास्थ्य समस्याओं के कारण पूर्व कांग्रेसी नेता और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल का 71 साल की उम्र में हुआ निधन

कांग्रेस के वयोवृद्ध नेता अहमद पटेल का निधन: नवीनतम रिपोर्टों के अनुसार, पूर्व कांग्रेसी नेता और गुजरात से राज्यसभा सांसद अहमद पटेल का बुधवार, 25 नवंबर, 2020 को तड़के 3:30 बजे निधन हो गया. कोविड संक्रमण होने के बाद, उनका गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में इलाज चल रहा था. उनके बेटे फैजल पटेल ने इस बात की पुष्टि की है कि, उनके पिता अहमद पटेल को कोरोना वायरस का संक्रमण  होने का पता चलने के बाद, उनके शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था.

इससे पहले, 01 अक्टूबर को कोविड -19 संक्रमण के लिए अहमद पटेल का परीक्षण सकारात्मक आया था जिसके बाद, उन्हें 15 नवंबर 2020 को गुड़गांव के मेदांता अस्पताल के ICU में भर्ती कराया गया था.

उनके निधन के समाचार की पुष्टि करने के लिए, उनके बेटे फैजल पटेल ने 25 नवंबर, 2020 को अपने आधिकारिक अकाउंट से एक ट्वीट किया था.

राजनीतिक यात्रा

अहमद पटेल कांग्रेस के सबसे प्रमुख नेताओं में से एक थे और उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का करीबी विश्वासपात्र और राजनीतिक सलाहकार माना जाता था. उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के कोषाध्यक्ष का पद भी संभाला था.

श्री पटेल ने वर्ष 1976 में गुजरात के भरूच जिले से स्थानीय निकाय चुनाव लड़कर अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी. वर्ष 1985 में उन्हें तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने अपना संसद सचिव नियुक्त किया गया था. सरदार सरोवर परियोजना की देखरेख के लिए, अहमद पटेल ने नर्मदा प्रबंधन प्राधिकरण की स्थापना में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

शोक संवेदनायें

पूर्व कांग्रेसी नेता अहमद पटेल के निधन के बारे में समाचार मिलने के बाद, पूर्व नेता और राज्यसभा सांसद के लिए सभी राजनीतिक दलों और उनके प्रशंसकों की तरफ़ से शोक संवेदना व्यक्त की जा रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस नेताओं राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और अहमद पटेल के कांग्रेस सहयोगी अभिषेक मनु सिंघवी ने इस दिग्गज राजनेता के लिए अपनी गहन शोक संवेदना व्यक्त की है.

 

Related Categories

Also Read +
x

Live users reading now