Next

कोविडशील्ड: जुलाई 2021 तक इस वैक्सीन की 300-400 मिलियन खुराक खरीद सकती है सरकार

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, अदार पूनावाला ने 28 नवंबर, 2020 को यह सूचित किया कि, ऐसे संकेत मिले हैं कि सरकार जुलाई 2021 तक कोविडशील्ड वैक्सीन की 300-400 मिलियन खुराक खरीद सकती है.

प्रधानमंत्री मोदी की पुणे में SII कंपनी की महामारी सुविधा की यात्रा के बाद, SII के प्रमुख ने इस खुराक की खरीद के बारे में बात की. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और वैश्विक फार्मा दिग्गज एस्ट्राजेनेका के साथ कोविड -19 वैक्सीन ‘कोविशीशील्ड’ के लिए साझेदारी की है.

अदार पूनावाला ने यह भी कहा है कि, ऐसे संकेत हैं कि जुलाई, 2021 तक कोविडशील्ड वैक्सीन की तीन से चार मिलियन खुराक भारत सरकार द्वारा खरीदी जा सकती हैं.

अगले दो सप्ताह में वैक्सीन के आपातकालीन प्राधिकरण के लिए आवेदन

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के प्रमुख अदार पूनावाला ने यह बताया कि, उनकी कंपनी अगले दो सप्ताह में कोविड -19 वैक्सीन के आपातकालीन प्राधिकरण के लिए आवेदन करेगी.

कोविद -19 वैक्सीन की प्रगति के बारे में सूचित करते हुएउन्होंने यह कहा है कि, इस वैक्सीन की समीक्षा के बाद, यह स्वास्थ्य मंत्रालय का निर्णय होगा कि, पहली और दूसरी तिमाही में इस वैक्सीन की खुराक का वितरण किया जाये.

कोविड वैक्सीन का वितरण: भारत और कोवैक्स देशों को मिलेगी प्राथमिकता

इस वैक्सीन के वितरण के सवाल पर, SII के प्रमुख ने यह जवाब दिया कि, कंपनी की प्राथमिकता भारत और कोवैक्स देश हैं. उन्होंने यह भी कहा कि, यह वैक्सीन शुरू में भारत में और फिर, विभिन्न कोवैक्स देशों में वितरित की जाएगी जो मुख्य रूप से अफ्रीका में हैं.

उन्होंने आगे यह बताया कि, ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनेका द्वारा यूके और यूरोपीय बाजारों का ध्यान रखा जा रहा है लेकिन, हमारी प्राथमिकता भारत और कोवैक्स देश हैं.

SII द्वारा कोवायडशील्ड उत्पादन का पैमाना

अदार पूनावाला ने इस वैक्सीन के उत्पादन के बारे में सूचित करते हुए यह कहा कि, SII ने प्रति माह कोविड वैक्सीन की 40-50 मिलियन खुराक का उत्पादन किया है और फरवरी 2021 तक वे इसे प्रति माह 100 मिलियन खुराक तक बढ़ाने की योजना बना रहे हैं.

कोविडशील्ड वैक्सीन के बारे में चर्चा करते हुए, उन्होंने यह भी बताया कि, इस वैक्सीन के परीक्षण के दौरान अस्पताल में भर्ती होने की दर शून्य और स्टरलाइज़िंग प्रतिरक्षा में 60% की कमी देखी गई.

प्रधानमंत्री मोदी का SII दौरा

28 नवंबर, 2020 को प्रधानमंत्री मोदी ने भारत में कोविड वैक्सीनों के विकास की प्रगति की समीक्षा करने के लिए पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की विनिर्माण सुविधा का व्यक्तिगत तौर पर दौरा किया.

प्रधानमंत्री मोदी के साथ अपनी बातचीत के बारे में बताते हुए, पूनावाला ने यह भी कहा कि, वे प्रधानमंत्री के वैक्सीन और उनके विकास के बारे में जानकारी से चकित हैं.

Related Categories

Also Read +
x

Live users reading now