डेली करेंट अफेयर्स डाइजेस्ट: 09 दिसंबर 2019

प्रतिदिन के करेंट अफेयर्स से सम्बंधित जानकारी को संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है. इसमें आज उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल और सुप्रीम कोर्ट से संबंधित जानकारी संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है.

उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल ने 218 त्वरित अदालतों के गठन का निर्णय लिया

उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल ने हाल ही में महिलाओं और बच्चों के विरुद्ध बढ़ते अपराधों के मामलों की त्वरित सुनवाई हेतु 218 त्वरित अदालतों के गठन का निर्णय लिया है. प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक के अनुसार, इनमें से 144 अदालतें दुष्कर्म के मामलों की नियमित रूप से सुनवाई करेंगी जबकि 74 अदालतों में पोक्सो के मामले सुने जाएंगे.

प्रदेश के कानून मंत्री के अनुसार, इन सभी अदालतों हेतु अपर सत्र न्यायाधीश के 218 पद सृजित किए जाएंगे. अदालत कर्मियों के भी पद बनाए जाएंगे. इन अदालतों के गठन पर होने वाले खर्च का 60 प्रतिशत हिस्सा केंद्र सरकार तथा 40 प्रतिशत हिस्सा राज्य सरकार उठाएगी.

सुप्रीम कोर्ट ने ताजमहल संरक्षित क्षेत्र में निर्माण पर लगी रोक हटी दी

सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में ताजमहल संरक्षित क्षेत्र में सभी तरह के निर्माण और औद्योगिक गतिविधियों पर लगी रोक हटा दी है. सुप्रीम कोर्ट ने ताजमहल के आसपास बुनियादी सुविधाओं, प्रदूषण न फैलाने वाली गतिविधियों की इजाजत दी है. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि इन सबके लिए सेंट्रल एंपावर्ड कमेटी से इजाजत लेनी जरूरी होगी.

दरअसल सुप्रीम कोर्ट ताजमहल के संरक्षण पर एक जनहित याचिका (पीआईएल) पर सुनवाई कर रहा है. सुप्रीम कोर्ट ने स्मारकों की गरिमा सुनिश्चित करने हेतु पिछले दो दशकों में कई निर्देश जारी किए हैं.

सशस्त्र सेना झंडा दिवस मनाया गया

सशस्त्र झंडा दिवस प्रत्येक साल 07 दिसंबर को पूरे देश में मनाया जाता है. यह दिन खासतौर से भारत की तीनों सेनाओं में विशेष रूप से मनाया जाता है. यह दिवस भारतीय सशस्त्र सेना के कर्मियों के कल्याण के उद्देश्य से मनाया जाता है. इस दिन भारत की जनता से सशस्त्र बल के कर्मियों हेतु धन संग्रह किया जाता है. इस धन का प्रयोग सैनिकों के परिवारों की भलाई हेतु खर्च किया जाता है.

इस दिवस को मनाने की शुरुआत 07 दिसंबर 1949 से हुई थी. साल 1949 से प्रत्येक साल 07 दिसंबर को सशस्‍त्र बल झंडा दिवस मनाया जाता है. सरकार ने साल 1993 में संबंधित सभी फंड को एक सशस्त्र बल झंडा दिवस कोष में समाहित कर दिया था. केंद्रीय मंत्रिमंडल की रक्षा समिति ने युद्ध दिग्गजों तथा उनके परिजनों के कल्याण हेतु 07 दिसंबर को सशस्‍त्र बल झंडा दिवस मनाने का फैसला लिया था.

विश्वभर में अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस मनाया गया

विश्वभर में प्रत्येक साल 9 दिसंबर अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस मनाया जाता है. इस दिवस का मुख्य उद्देश्य भ्रष्टाचार के बारे में लोगों के बीच जागरूकता पैदा करना है. संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 31 अक्टूबर 2003 को एक प्रस्ताव पारित कर 'अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस' मनाए जाने की घोषणा की थी.

संयुक्त राष्ट महासभा ने 09 दिसंबर को प्रतिवर्ष अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार निरोध दिवस के रूप में मनाये जाने की भी घोषणा की. भ्रष्टाचार के खिलाफ संपूर्ण राष्ट्र एवं दुनिया का इस जंग में शामिल होना एक शुभ घटना कही जा सकती है, क्योंकि भ्रष्टाचार आज किसी एक देश की नहीं, बल्कि संपूर्ण विश्व की समस्या है.

 

 

 

Related Categories

Also Read +
x