डेली करेंट अफेयर्स डाइजेस्ट: 31 मार्च 2020

प्रतिदिन के करेंट अफेयर्स से सम्बंधित जानकारी को संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है. इसमें आज कोरोना वायरस और ड्राइविंग लाइसेंस से संबंधित जानकारी संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है.

राजस्थान सरकार का फैसला, रिटायर होने वाले सभी डॉक्टरों को अब सितंबर में मिलेगी सेवानिवृत्ति

राजस्थान सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के बीच मार्च से अगस्त के बीच रिटायर होने वाले सभी डॉक्टरों को सेवा विस्तार देने का फैसला किया है. इसके मुताबिक, मार्च से अगस्त 2020 तक रिटायर होने वाले सभी डॉक्टर अब सितंबर 2020 में रिटायर होंगे. गौरतलब है कि राजस्थान में कोरोना वायरस से संक्रमण के 60 मामले सामने आ चुके हैं.

कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए जयपुर जिले की सीमाएं सील कर दी गई है। जयपुर के 84 निजी अस्पतालों को आरक्षित किया गया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक में चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा को तैयारी के निर्देश दिए. राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार सभी लोगों का ख्याल रखेगी,किसी को बाहर जाने की जरूरत नहीं है.

निज़ामुद्दीन मरकज़ के 1548 लोगों में से 441 में कोरोना जैसे लक्षण दिखे: दिल्ली मुख्यमंत्री

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हाल ही में बताया है कि निज़ामुद्दीन मरकज़ से निकाले गए 1548 लोगों में से 441 में कोरोना वायरस जैसे लक्षण दिखे हैं और वह अस्पताल में भर्ती हैं. इसके अतिरिक्त, दिल्ली के 97 पॉज़िटिव मामलों में 24 मामले मरकज़ के ही हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि जिनमें लक्षण नहीं थे उन्हें क्वारंटीन में भेजा गया है.

देश में लॉकडाउन के ऐलान के बाद इस तरह लोगों का इकट्ठा होना अपराध है. लेकिन, मरकज आयोजित करने वाले मस्जिद प्रशासन का कहना है कि उन्होंने किसी तरह के नियमों का उल्लंघन नहीं किया है. इनका कहना है कि यह आयोजन हर साल एक बार होता है. तेलंगाना के मुख्यमंत्री कार्यालय ने बताया कि दिल्ली के मरकज में गए उनके राज्य के 6 लोगों की मौत हो गई है.

कोरोना वायरस संबंधी फर्ज़ी खबरों पर लगाएं लगाम: केंद्र से सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने 31 मार्च 2020 को केंद्र को 24 घंटे में एक पोर्टल बनाने का आदेश दिया है. इससे कोरोना वायरस महामारी से जुड़ी जानकारी रियल टाइम में लोगों तक पहुंचाई जा सके. इस पोर्टल से कोरोना से जुड़ी फर्ज़ी खबरों पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी. सुप्रीम कोर्ट के अनुसार, वायरस से ज़्यादा लोगों की ज़िंदगी डर के कारण खराब हो जाएगी.

केंद्र सरकार से की ओर से आगे जानकारी दी गई कि जो लोग बाहर से आए हैं उन्हें  क्वारंटीन किया गया है. 22 मार्च 2020 से बाहरी उड़ानें बंद हो गई हैं. देश के बाहर से आने वाले किसी भी नए संक्रमण का कोई सवाल नहीं है.  हमें देश के अंदर केवल संभावित प्रसार को रोकना है. 

एक्सपायर हो चुके ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी भी 30 जून तक वैध रहेंगे: केंद्र सरकार

देशव्यापी लॉकडाउन में केंद्र सरकार ने लोगों को राहत देने का निर्णय लिया है. दरअसल, सरकार ने ऐसे सभी ड्राइविंग लाइसेंस, परमिट और वाहन पंजीकरण की अवधि 30 जून तक बढ़ा दी है, जिनकी वैधता इस साल एक फरवरी या उसके बाद समाप्त हो चुकी थी.

मंत्रालय का कहना है कि देशव्यापी तालाबंदी और सरकारी परिवहन कार्यालयों को बंद होने के कारण विभिन्न मोटर वाहन दस्तावेजों की वैधता को रिन्यू करने में हो रही कठिनाइयों को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है. इन दस्तावेजों में फिटनेस, परमिट, ड्राइविंग लाइसेंस, पंजीकरण या मोटर वाहन नियम के तहत कई अन्य दस्तावेज शामिल हैं.

कोरोना वायरस महामारी के कारण आने वाली वैश्विक मंदी से बच सकता है भारत: संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र व्यापार एवं विकास सम्मेलन (यूएनसीटीएडी) की रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना वायरस महामारी से कई लाख करोड़ डॉलर की वैश्विक आय का नुकसान होने से वैश्विक अर्थव्यवस्था मंदी में जाएगी और विकासशील देश इससे ज़्यादा प्रभावित होंगे.

संयुक्त राष्ट्र व्यापार और विकास सम्मेलन (यूएनसीटीएडी) के नए विश्लेषण के मुताबिक, संयुक्त राष्ट्र व्यापार और विकास निकाय ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि निर्यातक देश अगले दो वर्षों में विदेशों से निवेश में दो ट्रिलियन से तीन ट्रिलियन डॉलर की गिरावट का सामना करेंगे.

Related Categories

NEXT STORY
Also Read +
x