Advertisement

दिल्ली सरकार ने 40 सेवाओं के लिए डोरस्टेप डिलीवरी योजना आरंभ की

राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सोमवार को ड्रीम प्रॉजेक्ट डोरस्टेप डिलिवरी योजना की शुरुआत कर दी है. इस योजना के तहत लोग अपनी इच्छा से घर बैठे जन्म और जाति प्रमाण-पत्र, राशन कार्ड जैसे डॉक्युमेंट्स बनवा सकते हैं तथा इसके किसी भी सरकारी ऑफिस जाने की जरूरत नहीं होगी.

वर्तमान दिल्ली सरकार का दावा है कि ऐसा देश ही नहीं दुनिया में पहली बार हो रहा है जिसमें जनता को इन 40 सेवाओं के लिए सरकारी विभाग या दफ्तर में नहीं जाना पड़ेगा. सात सरकारी विभागों की 40 सेवाओं का लाभ घर बैठे उठाया जा सकता है.

 

डोरस्टेप डिलीवरी में शामिल सेवाएं

जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, शादी का रजिस्ट्रेशन, ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन, नया पानी या सीवर कनेक्शन या कटवाने के लिए आवेदन, इनकम सर्टिफिकेट, राशन कार्ड, निवास प्रमाण-पत्र, आरसी में पता बदलवाना आदि सुविधाओं का लाभ घर बैठे उठाया जा सकता है. इन सुविधाओं में शामिल विभाग हैं:

  • राजस्व विभाग - 15 सेवाएं
  • श्रम विभाग - 02 सेवाएं
  • दिल्ली जलबोर्ड - 04 सेवाएं
  • परिवहन विभाग - 11 सेवाएं
  • खाद्य आपूर्ति - 02 सेवाएं
  • समाज कल्याण - 03 सेवाएं
  • एससी/एसटी/ओबीसी/अल्पसंख्यक कल्याण विभाग - 03 सेवाएं


डोरस्टेप डिलीवरी योजना

•    दिल्ली सरकार इन सभी 40 सेवाओं के लिए एक खास नंबर जारी करेगी.

•    आवेदक या सेवा लेने के इच्छुक व्यक्ति को उस नंबर पर फोन करके 'मोबाइल सहायक' से अपॉइंटमेंट तय करना होगा यानी सरकार के प्रतिनिधि को वो किस समय अपने घर बुलाना चाहता है ये तय करना होगा.

•    सुबह 8 से रात 8 बजे के बीच किसी भी समय आवेदक मोबाइल सहायक के लिए अपॉइंटमेंट तय कर सकता है.

•    तय समय के मुताबिक मोबाइल सहायक एक टैबलेट के साथ आवेदक के बताए पते पर आएगा और जरूरी दस्तावेज अपलोड करेगा.

•    प्रक्रिया पूरी होने के बाद मोबाइल सहायक 50 रुपये सुविधा शुल्क नाम की फीस वसूल करेगा जिसके बाद जो सर्टिफिकेट आवेदकों चाहिए वह पोस्ट के जरिए उसके घर पहुंच जाएगा.

 

यह भी पढ़ें: विश्व का सबसे बड़ा समुद्री सफाई अभियान 'ओशियन क्लीनअप' आरंभ

 
Advertisement

Related Categories

Advertisement