JagranJosh Education Awards 2022 - Nominations Open!

दिल्ली में मिला ओमिक्रोन का पहला केस, भारत में कुल केस हुए 5

Vikash Tiwari

Omicron Coronavirus Cases in India: भारत में अब तक ओमिक्रोन के पांच मामले सामने आ चुके हैं. इनमें से दो कर्नाटक, एक महाराष्ट्र और एक गुजरात में पाया गया है. अब राजधानी दिल्ली में भी एक केस पाया गया है. जानकारों का कहना है कि ओमिक्रोन ‘लहर’ का रूप लेगा या नहीं, यह अगले एक से दो महीने में ही साफ हो पाएगा.

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के मुताबिक जो भी लोग अन्य देशों से आ रहे है सबका टेस्ट किया जा रहा है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि ये कोरोना का नया वेरिएंट है, पुराने वेरिएंट की तरह ही इसका इलाज किया जा रहा है. सत्येंद्र जैन ने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि जो भी लोग घर से बाहर निकलें वो मास्क लगाएं. जिन लोगों ने वैक्सीन नहीं ली है वो जल्द वैक्सीन भी लगवा लें.

First omicron case detected in Delhi. The patient admitted to LNJP Hospital had returned from Tanzania. Till now, 17 people who tested positive for Covid have been admitted to the hospital: Delhi Health Minister Satyendar Jain pic.twitter.com/TwbXFpt3jV

— ANI (@ANI) December 5, 2021

पुडुचेरी में वैक्‍सीनेशन अनिवार्य

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर जहां देश में महामारी की तीसरी लहर की आशंका बढ़ रही है, वहीं इससे बचाव के लिए कई एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं. केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में सरकार ने कोविड वैक्‍सीनेशन को तत्‍काल प्रभाव से अनिवार्य कर दिया है.

भारत में कोरोना की स्थिति

भारत में अब कुल मामलों की संख्या 3,46,33,255, सक्रिय मामले 99,155, कुल रिकवरी 3,40,60,774 और कुल मौतों की संख्या 4,73,326 हो गई है. बात वैक्सीनेशन की करें तो 1,27,61,83,065 लोगों को वैक्सीन की पहली या दूसरी डोज दी जा चुकी है.

पृष्ठभूमि

गौरतलब है कि कोविड -19 के एक नए ओमिक्रॉन वैरिएंट B.1.1.1.529 के बारे में पहली बार 25 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) को सूचित किया गया था. डब्ल्यूएचओ के अनुसार, पहला ज्ञात ओमिक्रॉन वैरिएंट इस साल 9 नवंबर को एकत्र किए गए सैंपल से सामने आया था.

WHO ने 26 नवंबर 2021 को नए COVID-19 वैरिएंट को B.1.1.529 का नाम दिया, जिसे दक्षिण अफ्रीका में 'ओमिक्रॉन' के रूप में पाया गया है. डब्ल्यूएचओ ने ओमिक्रॉन को 'वैरिएंट ऑफ कंसर्न' के रूप में वर्गीकृत किया है. म्यूटेंट की खोज के बाद से दर्जनों देशों ने दक्षिणी अफ्रीकी देशों पर यात्रा प्रतिबंध लगा दिए हैं.

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें एक लाख रुपए तक कैश

Related Categories

Live users reading now