फादर्स डे पर विश्व भर में विभिन्न कार्यक्रम, कार्यशालाएं आयोजित

16 जून: फादर्स डे

विश्व भर में 16 जून 2019 को फादर्स डे मनाया गया. अधिकांश स्थानों पर जून के तीसरे रविवार को फादर्स डे मनाया जाता है. विश्व के अलग-अलग देशों में इसे भिन्न तारीखों पर मनाया जाता है. इस उपलक्ष्य में जगह-जगह विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये हैं ताकि लोग इसे मना सकें. इस दिन अमेरिका में अधिकारिक छुट्टी होती है.

कब हुई शुरुआत

यह माना जाता है कि सबसे पहले 5 जुलाई 1908 को वेस्ट वर्जीनिया के फेयरमोंट में फादर्स डे मनाया गया था. ग्रेस गोल्डन एक अनाथ बच्ची थी और उन्होंने इस दिन को खास महत्व दिलाने के लिए बहुत समय तक प्रयास किया. महीनों पहले 6 दिसंबर 1907 को हुए एक खान(माइंस) हादसे में तकरीबन 210 लोगों की जान चली गई थी. ग्रेस ने उन्हीं 210 लोगों की याद में इस दिन को मनाने का उचित अवसर माना था.

एक अन्य मान्यता के अनुसार, फादर्स डे मनाने के पीछे एक दूसरी कहानी भी सुनने को मिलती है. वर्ष 1910 में 19 जून को वाशिंगटन के सोनोरा स्मार्ट डोड के प्रयासों के बाद मनाया गया. 1909 में एक चर्च में मदर्स डे पर उपदेश दिया जा रहा था जिसके बाद डोड को लगा कि मदर की ही तरह फादर्स डे भी मनाया जाना चाहिए. ओल्ड सेन्टेनरी प्रेस्बिटेरियन चर्च के पादरी डॉक्टर कोनराड ब्लुह्म की मदद से इस विचार को स्पोकाने YMCA से ले गई. जहां YMCA और अलायन्स मिनिस्ट्री ने इस विचार पर अपनी सहमति जताई और 1910 में पहली बार फादर्स डे मनाया गया.

आर्टिकल अच्छा लगा? तो वीडियो भी जरुर देखें

अधिकारिक अवकाश की पृष्ठभूमि

छुट्टी को राष्ट्रीय मान्यता देने के लिये सन् 1913 में एक बिल कांग्रेस में पेश किया गया. वर्ष 1924 में अमेरिकी राष्ट्रपति कैल्विन कूलिज़ ने फादर्स डे पर अपनी सहमति दी. इसके बाद वर्ष 1966 में राष्ट्रपति लिंडन जॉनसन ने जून के तीसरे रविवार को फादर्स डे मनाने की आधिकारिक घोषणा की. वर्ष 1972 में अमेरिका में फादर्स डे पर स्थायी अवकाश घोषित हुआ. भारत में भी धीरे-धीरे इसका प्रचार-प्रसार बढ़ता जा रहा है. इसे बहुराष्ट्रीय कंपनियों की बढती भूमंडलीकरण की अवधारणा के परिप्रेक्ष्य में भी देखा जा सकता है.

यह भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल सहित देश में पांचवें दिन भी डॉक्टरों की हड़ताल जारी

Continue Reading
Advertisement

Related Categories

Popular

View More