गूगल ने ‘बोलो’ ऐप लांच किया

विश्व की सबसे बड़ी सर्च इंजन कंपनी गूगल ने बच्चों को हिंदी और अंग्रेजी सीखाने के लिए ‘बोलो’ ऐप लॉन्च किया है. यह ऐप प्राथमिक कक्षा के बच्चों को हिंदी और अंग्रेजी सीखने में मदद करेगा.

यह ऐप आवाज पहचानने की तकनीक तथा टेक्स्ट-टू-स्पीच तकनीक पर आधारित है. इस ऐप की मदद से बच्चें बेहतर अंग्रेजी सीख सकते हैं. गूगल ने ग्रामीण व शहरी बच्चों को पढ़ाने के मकसद से बोलो नाम से ऐप लांच किया है.

मुख्य तथ्य:

   इस ऐप में एक एनिमेटेड पात्र दीया है जो बच्चों को कहानियां पढ़ने के लिये प्रोत्साहित करती है और किसी शब्द का उच्चारण करने में दिक्कत आने पर बच्चों की मदद करती है.

   यह कहानी पूरा करने पर बच्चों का मनोबल भी बढ़ाती है. इसमें हिंदी और अंग्रेजी की करीब 100 कहानियां हैं.

   यह ऐप गूगल प्ले स्टोर पर नि:शुल्क उपलब्ध है. यह एंड्रायड 4.4 (किटकैट) तथा इसके बाद के संस्करण वाले सारे डिवाइस पर चल सकता है.

   यह ऐप प्राइमरी स्कूल के बच्चों को हिंदी और अंग्रेजी सीखाएगा. यह ऐप आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस टेक्स्ट-टू-स्पीच तकनीक पर काम करेगा.

•   यह ऐप पांच से 10 साल के बच्चों के लिए काफी मददगार साबित होगा. इस ऐप की मदद से बच्चे सही तरह से भाषा का उच्चारण कर सकेंगे.

•   गूगल के द्वारा तैयार किए गए इस ऐप की मदद से बच्चे आसानी से हिंदी में कहानी, कविताएं और पजल गेम खेल सकेंगे.

   गूगल ने इस ऐप का उत्तर प्रदेश के करीब 200 गांवों में परीक्षण करके डेवलप किया है. परिणाम उत्साहजनक रहने के बाद इसे पेश किया गया.

90 किताबों की लाइब्रेरी:

बोलो ऐप में फिलहाल 90 किताबों की लाइब्रेरी तैयार की गई है. इसमें 50 किताबें हिंदी की और 40 अंग्रेजी में उपलब्ध हैं.

 

यह भी पढ़ें: दिल्ली सरकार ने कॉमन मोबिलिटी एप्प ‘One Delhi’ लॉन्च किया

Advertisement

Related Categories