Advertisement

हरियाणा सरकार ने 7 स्टार ग्राम पंचायत रेनबो योजना आरंभ की

हरियाणा सरकार की अनूठी पहल के तहत 7 स्टार ग्राम पंचायत रेनबो योजना आरंभ की गई. इसके अंतर्गत राज्य की पंचायतों को सात सामाजिक मानदंडों के आधार पर स्टार रैंकिंग देने का फैसला किया गया है.

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया कि योजना के तहत राज्य के करीब 1,120 गांवों ने स्टार रैंकिंग हासिल की. हरियाणा में अब 1120 गांव 'स्टार विलेज' कहलाएंगे. सरकार ने प्रदेश में विकास व बेहतर सामाजिक मापदंडों के बल पर प्रगतिशील गांवों को प्रोत्साहन देने का निर्णय लिया है.

चयन का आधार

पंचायत प्रदर्शन आकलन समिति (एसपीपीएसी) की एक बैठक में हरियाणा के कृषि मंत्री ओ पी धनखड़ ने कहा कि पंचायतों को लिंगानुपात, शिक्षा, अपराध मुक्त, स्वच्छता, पर्यावरण संरक्षण, सुशासन और सामाजिक भागीदारी के आधार पर आंका जाएगा. चुने जाने वाले गांवों को अगले महीने पंचकूला , गुरूग्राम और रोहतक में पुरस्कार समारोहों में सम्मानित किया जाएगा. कृषि मंत्री ने घोषणा की कि प्रत्येक मानदंड हासिल करने के लिए एक लाख रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा.


7 स्टार योजना के मुख्य बिंदु

•    हरियाणा के कुल 6,204 ग्राम पंचायतों में से 1120 गांवों को पहली बार स्टार गांव का दर्जा दिया गया है जो कुल पंचायतों का 18 प्रतिशत है.

•    छह स्टार रेटिंग प्राप्त करने वाले तीनों ही गांव पलवल जिले के है जिनमें हथीन खंड का जैनपुर गांव व जानाचौली तथा पृथला खंड का नंगलान भीखूवाला गांव शामिल हैं.

•    पांच स्टार वाले भी तीन गांव में हसनपुर खंड का भांडोली, जिला पलवल, हथीन खंड का घरोट जिला पलवल तथा रोहतक जिले के कलानौर खंड का गांव काहनौर शामिल हैं.

•    चार स्टार प्राप्त करने वाले 9 गांवों में अंबाला जिले के नारायणगढ़ खंड के गांव अकबरपुर व हरबो, फरीदाबाद जिले का मादलपुर, फतेहाबाद जिले के नागपुर खंड के  बनवाली सौतर व  मल्हार, गुरूग्राम जिले का वज़ीरपुर, हिसार जिले के बरवाला खंड का बहबलपुर तथा पलवल जिले के हसनपुर खंड का रामगढ़ व करना गांव शामिल हैं.

•    407 स्टार रैंकिंग पाने में अंबाला जिला प्रथम स्थान पर है जबकि 199 स्टार गांव पाकर गुरूग्राम नंबर दो पर तथा 75 स्टार गांव के साथ करनाल जिला तीसरे स्थान पर है.

•    बेहतर शिक्षा नम्बर दो पर 567 स्टार गांव, लिंग अनुपात सुधार में बेटियां की संख्या नम्बर तीन पर 109 स्टार गांव घोषित किए गए हैं.

 

यह भी पढ़ें: हरियाणा में छात्रा परिवहन सुरक्षा योजना शुरू करने की घोषणा

 
Advertisement

Related Categories

Advertisement