हिमाचल ने रचा इतिहास, सभी घरों को गैस कनेक्शन देने वाला देश का पहला राज्य बना

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का दावा है कि हिमाचल प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है, जहां हर घर में एलपीजी गैस कनेक्शन उपलब्ध है. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने 06 जुलाई 2020 को यह बात शिमला से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान हिमाचल गृहणी सुविधा योजना के लाभार्थियों से बातचीत के दौरान कही. हिमाचल प्रदेश को कोरोना काल में बड़ी कामयाबी मिली है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने पिछले कार्यक्रम के दौरान उज्जवला योजना की परिकल्पना की थी, उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं को निशुल्क गैस कनेक्शन उपलब्ध करवाए गए हैं. उन्होंने यह भी जानकारी दी कि इस योजना के तहत प्रदेश के 1.36 लाख परिवार लाभान्वित हुए हैं.

गरीबों को मिली मदद

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर देश के करोड़ों लोगों ने स्वेच्छा से अपनी एलपीजी सब्सिडी छोड़ी है. इससे गरीब परिवारों को लाभ पहुंचा है. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश के गरीब लोगों को साफ ईंधन मुहैया करवाने के उद्देश्य से सरकार ने हिमाचल ग्रहणी सुविधा योजना आरंभ करने का निर्णय लिया और इस योजना के तहत 2 लाख 76 हजार 243 परिवारों को निशुल्क गैस कनेक्शन दिया गया है.

आज हिमाचल देश का ऐसा पहला राज्य है जिसमें हर परिवार के पास अब गैस कनेक्शन है।

इस योजना की वजह से महिलाओं को सबसे ज्यादा राहत मिली है।

जो कार्य महिलाएं चूल्हे पर धुएं के बीच करती थी आज वो आसानी से गैस के ऊपर करने में समर्थ हैं।#शिखरकीओरहिमाचल

— Jairam Thakur (@jairamthakurbjp) July 6, 2020

महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बताया कि एलपीजी कनेक्शन से महिलाओं को रसोई गैस के धुएं के दुष्प्रभाव से निजात मिला है. इसके साथ ही पर्यावरण संरक्षण में भी इससे मदद मिली. उन्होंने कहा कि पारंपरिक चूल्हे के लिए लकड़ियां इकट्ठा करना और खाना बनाना ना केवल कष्टदायक था बल्कि से महिलाओं के स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ रहा था.

हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना केंद्र सरकार की उज्ज्वला योजना के तहत छूटे हुए परिवारों को एलपीजी गैस कनेक्शन उपलब्ध कराने हेतु हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना मई, 2018 में शुरू की गई थी. योजना के तहत राज्य के सभी गरीब परिवारों को दो साल के भीतर गैस कनेक्शन देने की घोषणा की गई है. हिमाचल प्रदेश राज्य के सभी घर हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के तहत पात्र थे. इस योजना में केवल पेंशनभोगी, या राज्य या केंद्र सरकार में कार्यरत्त लोग, आयकरदाताओं वाले परिवार शामिल नही किये गये है.

जंगलों का कटाव भी रुका

मुख्यमंत्री ने कहा कि एलपीजी के उपयोग से अब जंगलों को काटना भी रुक जाएगा, क्योंकि गांव के लोग ईंधन के लिए ही जंगल से लकड़ी काटकर लाते थे. उन्होंने बताया कि ईंधन के लिए लाखों पेड़ों को काटा जाता था जो अब एलपीजी के इस्तेमाल से रुक जाएगा.

होम-क्वारन्टीन का पालन करें

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी ने हमारे संवाद के तौर-तरीकों को भी बदल दिया है. उन्होंने महिलाओं से आह्वान किया कि वे अन्य राज्यों से आए होम-क्वारन्टीन लोगों पर भी नजर रखें, ताकि वह क्वांरटीन नियमों का उल्लघंन न करें. हिमाचल प्रदेश में अबतक कोरोना के कुल मामले एक हजार से भी ज्यादा हैं.

Related Categories

NEXT STORY
Also Read +
x