Advertisement

आईसीसी का फैसला: चैंपियंस ट्रॉफी के स्थान पर अब विश्व टी-20 खेला जायेगा

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद् (आईसीसी) ने वर्ष 2021 में भारत में आयोजित होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी को 'विश्व टी-20' में बदलने का फैसला किया है. आईसीसी द्वारा आठ टीमों के बीच खेले जाने वाले इस क्रिकेट फॉर्मेट को एक प्रकार से समाप्त कर दिया गया है.

आईसीसी बोर्ड की पांच दिवसीय बैठक के समापन के बाद आईसीसी मुख्य कार्यकारी डेव रिचर्डसन द्वारा जारी बयान में कहा गया कि क्रिकेट वैश्विक संस्था ने सर्वसम्मति से यह सहमति जताई है कि 2021 में भारत में अब 16 टीमों के बीच टी-20 टूर्नामेंट का आयोजन किया जाएगा.

आईसीसी द्वारा लिए गये निर्णय के स्मरणीय तथ्य


•    भारत को चैंपियंस ट्रॉफी के नौंवें संस्करण की मेजबानी करनी थी लेकिन आईसीसी ने चैंपियंस ट्रॉफी को रद्द करके विश्व टी-20 आयोजित करने का निर्णय लिया.

•    इसकी मेजबानी भारत द्वारा की जाएगी. इससे पहले वर्ष 2016 में वर्ल्ड टी-20 की मेजबानी भी भारत ने ही की थी.

•    आईसीसी ने सभी 104 सदस्य देशों को टी-20 दर्जा प्रदान किया ताकि खेल के इस फॉर्मेट को वैश्विक दर्जा दिया जा सके.

•    2021 में खेले जाने वाले टी-20 में 16 टीमें भाग लेंगी जबकि चैंपियंस ट्रॉफी में आठ टीमें खेलती थीं.

•    विश्व टी-20 का आयोजन लगातार दो वर्ष तक होगा, 2020 में इसकी मेजबानी ऑस्ट्रेलिया द्वारा की जाएगी.

•    ऐसा दूसरी बार होगा जब विश्व टी-20 का आयोजन लगातार दो साल तक हो रहा है. इससे पहले 2009 में इंग्लैंड में तथा 2010 में वेस्टइंडीज़ में हुआ था.


यह भी पढ़ें: नीति आयोग ने अटल न्यू इंडिया चैलेंजेज़ लॉन्च करने की घोषणा की


चैंपियंस ट्रॉफी को रद्द क्यों किया गया?


•    आईसीसी द्वारा कहा गया है कि अधिक से अधिक देशों को क्रिकेट के साथ जोड़ने से क्रिकेट का भविष्य प्रबल होगा.

•    आईसीसी के अनुसार यदि सब कुछ तय योजना के अनुसार रहा तो वर्ष 2028 के लॉस एंजिलिस ओलंपिक खेलों में क्रिकेट भी शामिल किया जायेगा.

•    क्रिकेट को केवल एक बार वर्ष 1900 में पेरिस ओलंपिक्स में शामिल किया गया था.

•    आईसीसी के सभी 104 सदस्य देशों को टी-20 में खेलने की अनुमति देने के फैसले से क्रिकेट को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति से ओलंपिक में भाग लेने का अधिकार हासिल करने में मदद मिल सकती है.

चैंपियंस ट्रॉफी के बारे में


•    चैंपियंस ट्रॉफी की शुरुआत वर्ष 1998 में आईसीसी नॉकआउट टूर्नामेंट के रूप में की गई थी.

•    वर्ष 2002 में इसका नाम बदलकर चैंपियंस ट्रॉफी कर दिया गया.

•    विश्व कप हर चार साल में आयोजित किया जाता है, जबकि चैंपियंस ट्रॉफी हर दो साल में आयोजित की जाती है.

•    इसका आयोजन दो हफ्ते के लिए किया जाता है जबकि वर्ल्ड कप में एक महीने से ज्यादा समय तक टीमों में मुकाबले होते हैं.

 

 
Advertisement

Related Categories

Advertisement