Advertisement

आईआईटी खड़गपुर फाउंडेशन पहली बार ओवरसीज़ इंटर्नशिप देगा

आईआईटी खड़गपुर की यूएस एलुमनाई फाउंडेशन द्वारा विदेश में वित्तीय सहायता के साथ छात्रों को इंटर्नशिप प्रदान करने की घोषणा की गई. यह इंस्टिट्यूट द्वारा इस प्रकार की पहली घोषणा है. इसके लिए 14 छात्रों का चयन किया गया है जिनमें प्रत्येक छात्र को 3,000 डॉलर की राशि मिलेगी.

विदेश में इंटर्नशिप के लिए यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैम्ब्रिज, यूनिवर्सिटी ऑफ़ कोलंबिया, एमआईटी आदि में अवसर प्राप्त होगा.

आईआईटी खड़गपुर इंटर्नशिप की मुख्य विशेषताएं

•    आईआईटी खड़गपुर में पढ़ने वाले 14 छात्रों को आईआईटी खड़गपुर फाउंडेशन, यूएसए द्वारा छात्रवृत्ति दी गई ताकि वे विदेश जाकर इंटर्नशिप कर सकें.

•    यह छात्रवृत्ति इंटरनेशनल अवार्ड प्रोग्राम के तहत प्रदान की गई है जिसे मार्च 2018 में लॉन्च किया गया.

•    आईआईटी खड़गपुर फाउंडेशन, यूएसए का मुख्यालय नेब्रास्का में है.

•    चयन प्रक्रिया में मेजबान संस्थान की प्रतिष्ठा, प्रस्तावित अनुसंधान या पेशेवर इंटर्नशिप की गुणवत्ता और उम्मीदवार की शैक्षणिक स्थिति को ध्यान में रखा गया है.

•    इंटर्नशिप के लिए चयनित शैक्षणिक संस्थानों में यूनिवर्सिटी ऑफ कैम्ब्रिज, कोलंबिया यूनिवर्सिटी; एमआईटी; कार्लज़ू इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, एल्बर्ट-लुडविग्स- यूनिवर्सिएट फ़्रीबर्ग, कार्नेगी मेलॉन; यूनिवर्सिटी ऑफ़ शिकागो और कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी शामिल हैं.

 

आईआईटी खड़गपुर

•    भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), खड़गपुर भारत सरकार द्वारा 1951 में स्थापित अभियांत्रिकी (इंजीनियरिंग) और प्रौद्योगिकी उन्मुख एक स्वायत्त उच्च शिक्षण संस्थान है.

•    सातों आईआईटी में यह सबसे पुराना संस्थान है. भारत सरकार ने इसे आधिकारिक तौर पर राष्ट्रीय महत्त्व का संस्थान माना है और इसकी गणना भारत के सर्वोत्तम इंजीनियरिंग संस्थानों में होती है.

•    सभी आईआईटी संस्थानों में इसका कैम्पस क्षेत्रफल सबसे अधिक (2100 एकड़) है और साथ ही विभाग और छात्रों की संख्या भी सर्वाधिक है.

 

यह भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश सरकार ने वर्ष 2018-19 का बजट पेश किया

Advertisement

Related Categories

Advertisement