JagranJosh Education Awards 2022 - Nominations Open!
Next

भारत ने रचा इतिहास, अरब देशों का सबसे बड़ा फूड सप्लायर बना

Vikash Tiwari

अरब देशों को फूड एक्सपोर्ट यानी खाने-पीने के सामान निर्यात के मामले में साल 2020 में भारत पहले स्थान पर पहुंच गया है. आपको बता दें कि पिछले 15 साल में पहली बार ऐसा हुआ है, जब भारत इस मामले में पहले स्थान पर पहुंचा है. कोरोना महामारी के कारण बिगड़ी सप्लाई चेन ने व्यापार को बुरी तरह प्रभावित किया है.

भारत लगभग 15 साल बाद ब्राजील को पीछे छोड़ कर अरब देशों को खाद्यान्न निर्यात करने वाला सबसे बड़ा देश बनकर सामने आया है. रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, 07 दिसंबर 2021 को यह आंकड़े अरब-ब्राजील चैंबर ऑफ कॉमर्स की तरफ से उपलब्ध कराए गए हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक, अरब देश ब्राजील के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारोबारी साझेदार हैं.

काफी महत्वपूर्ण व्यापारिक साझेदार

अरब देशों के लिए ब्राजील काफी महत्वपूर्ण व्यापारिक साझेदार है. आपको बता दें कि कोरोना महामारी के कारण दोनों देशों के बीच सप्लाई चेन बाधित हुई है. आंकड़ों के अनुसार, अरब देशों को रसद की सप्लाई करने वाले 22 देशों में ब्राजील कर 8.15 फीसदी निर्यात पर कब्जा था, लेकिन भारत ने 8.25 फीसदी बाजार पर कब्जा किया और पिछले 15 साल में पहली बार अरब देशों के लिए सबसे बड़ा खाद्यान्न निर्यातक बन गया.

ब्राजील ने खोई अपनी जमीन

ब्राजील अपने पारंपरिक शिपिंग मार्गों जैसे भारत, तुर्की, अमेरिका, फ्रांस, अर्जेंटीना से व्यवधान के चलते अपनी जमीन खोता चला गया. भारत को इसी का लाभ मिला. रिपोर्ट के मुताबिक ब्राजील को अब अरब देशों को खाद्यान्न निर्यात करने के लिए 30 की बजाय 60 दिन का समय लगता है.

सऊदी अरब ने उत्पादन पर जोर दिया

ब्राजील से निर्यात कम होने की वजह से सऊदी अरब ने अपने देश में ही उत्पादन पर जोर दिया और भारत जैसे दूसरे विकल्पों से आयात को बढ़ावा दिया. रिपोर्ट के अनुसार, पहले ब्राजील के जहाज जहां सऊदी अरब में एक महीने में पहुंच जाते थे, वहीं अब इनके पहुंचने में दो महीने लग जाते हैं, जबकि भारत इसके काफी नजदीक होने की वजह से केवल एक सप्ताह में ही वहां फल, सब्जियां, चीनी, अनाज और मीट पहुंचा देता है.

भारत को मिला लाभ

कोरोना महामारी के दौरान चीन ने भी अरब देशों में अपने फूड उत्पादों की उपलब्धता बढ़ाई है. इसके कारण इस क्षेत्र में ब्राजील के बिजनेस को नुकसान पहुंचा. ब्राजील अपने पारंपरिक शिपिंग मार्गों जैसे भारत, तुर्की, अमेरिका, फ्रांस, अर्जेंटीना से व्यवधान के चलते अपनी जमीन खोता चला गया और इसी का लाभ भारत को मिला.

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें एक लाख रुपए तक कैश

Related Categories

Live users reading now