भारतीय डाक ने छह देशों के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्पीड पोस्ट सेवा शुरू की

भारतीय डाक विभाग द्वारा छह अन्य देशों के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्पीड पोस्ट सेवा आरंभ की गई है. केन्द्रीय दूरसंचार मंत्रालय के अधीन डाक विभाग द्वारा यह सेवा यूरोप, अमेरिका और एशिया के देशों के लिए आरंभ की गई है.

डाक विभाग द्वारा चलाई जा रही एक्सप्रेस मेल सर्विस (EMS) द्वारा इस सेवा का लाभ उठाया जा सकता है. गौरतलब है कि EMS एक विशेष सेवा है, इसके द्वारा उपयोगकर्ता कम समय में दस्तावेज तथा मर्चेंडाईज भेज सकते हैं. इसमें वस्तु को इन्टरनेट पर ट्रैक भी किया जा सकता है.

छह देशों के लिए स्पीड पोस्ट

भारतीय डाक विभाग ने अपनी अंतर्राष्ट्रीय सेवाओं में बढ़ोतरी करते हुए बोस्निया व हेर्ज़ेगोविना, इक्वेडोर, ब्राज़ील, लिथुआनिया, कजाखस्तान, तथा नार्थ मैसिडोनिया के लिए स्पीड पोस्ट सेवा आरंभ की है. इन देशों के लिए देश भर के प्रमुख डाकघरों में EMS सुविधा उपलब्ध रहेगी. भारतीय डाक लगभग 100 देशों के लिए स्पीड पोस्ट की सुविधा देता है. इस सुविधा से इन देशों में रहने वालों लोगों के साथ संपर्क में मजबूती आएगी तथा व्यापार में वृद्धि होगी, क्योंकि EMS छोटे तथा मझोले उद्यमों के लिए लोकप्रिय माध्यम है.

भारतीय डाक विभाग

दूरसंचार मंत्रालय के अधीन कार्यरत भारतीय डाक विभाग की स्थापना 1 अप्रैल, 1854 को की गयी थी. भारतीय डाक विभाग विश्व के सबसे बड़े डाक संचार नेटवर्क में से एक है. भारत में 23 डाक खंडों में बांटा गया है जिसके हिसाब से ही डाक विभाग काम करता है.

मेल डिलीवर करना, लघु बचत योजनाओं के तहत जमा स्वीकार करना, डाक जीवन बीमा (PLI) और ग्रामीण डाक जीवन बीमा (RPLI) के तहत जीवन बीमा कवर प्रदान करना और बिल जैसी रिटेल सेवाएं प्रदान करना संग्रह, प्रपत्रों की बिक्री, आदि इसके प्रमुख कार्य हैं.

करेंट अफेयर्स ऐप से करें कॉम्पिटिटिव एग्जाम की तैयारी,अभी डाउनलोड करें| Android|IOS

Related Categories

Popular

View More