Advertisement

विश्व भर में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस-2018 मनाया गया

21 जून: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस

विश्व भर में 21 जून 2018 को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया. इस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2018 (International Yoga Day 2018) का थीम- शांति के लिए योग हैं. इस दिन, जो मानव शरीर के आंतरिक और बाहरी कल्याण के लिए समर्पित है, दुनिया भर के लोग समूहों में योग का अभ्यास करते हैं.

चौथे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देहरादून में स्थापित वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआई) में योग किया. पीएम के साथ करीब 55 हजार लोगों ने योग किया. चौथे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर देश भर में कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है. पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री दिल्ली में राजपथ पर योग करते हुए नजर आए थे.

इस अवसर को चिह्नित करने के लिए दुनिया भर में योग से संबंधित कार्यक्रमों की एक श्रृंखला आयोजित की जा रही है. प्रधान मंत्री ने पहले 2015 में नई दिल्ली में राजपथ में योग समारोह में, 2016 में चंडीगढ़ में कैपिटल कॉम्प्लेक्स और 2017 में लखनऊ में रामाबाई अम्बेडकर सभा स्थल में योग समारोह में भाग लिया था. इस अवसर पर दुनिया भर में योग उत्साही लोगों को नमस्कार करते हुए प्रधान मंत्री ने कहा कि योग मानव भारतीयों द्वारा मानव जाति के लिए दिए गए सबसे मूल्यवान उपहारों में से एक है.

 

योग दिवस कैसे मनाया जाता है?

योग प्रशिक्षण कार्यक्रम, शिविर, रिट्रीट, सेमिनार, कार्यशालाएं समूह और जन स्तर पर आयोजित की जाती हैं। लोग समूहों में इकट्ठे होते हैं और विभिन्न आसन और प्राणायाम करते हैं. उन्हें अभ्यास के महत्व और यह इलाज और उपचार में कैसे मदद करता है, इसके बारे में भी जागरूक किया जाता है.

 

योग का पहला अंतर्राष्ट्रीय दिवस कब मनाया गया था?

योग का पहला अंतर्राष्ट्रीय दिवस 21 जून 2015 को पूरी दुनिया में मनाया गया था. इस अवसर पर प्रधान मंत्री ने नई दिल्ली, राजपथ से हजारों लोगों और बड़ी संख्या में गणमान्य व्यक्तियों के साथ 21 योग आसन प्रदर्शन किए.

 

                                             उद्देश्य

योग से होने वाले फायदों के बारे में लोगों को जागरुक करने के लिए अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है.

 

कोटा में बाबा रामदेव 2.5 लाख लोगों के साथ योग कर वर्ल्‍ड रिकॉर्ड बनया. दिल्‍ली स्थि‍त अमेरिका के दूतावास में भी योग दिवस के प्रति गजब का क्रेज देखने को मिला. दूतावास के कर्मियों ने जमकर योगासन किए.

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के जवानों ने 18,000 फीट की ऊंचाई पर लद्दाख के ठंडे रेगिस्तान में सूर्य नमस्कार किया.

 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस विश्व स्तर पर मनाया गया:

पूर्वी नौसेना कमांड के जवान विशाखापत्तनम में बंगाल की खाड़ी में आईएनएस ज्योति पर योग कर रहे हैं. इसमें पूर्वी नौसेना कमान के पनडुब्बी में तैनात जवानों ने भी भाग लिया. नौसेना के जवान केरल के कोच्चि में आईएनएस जमुना पर योगासन कर रहे हैं.

 

योग:

योग एक प्राचीन कला है जिसकी उत्पत्ति भारत में लगभग 5000 साल पहले हुई थी. पहले समय में, लोग अपने दैनिक जीवन में योग और ध्यान, पूरे जीवनभर स्वस्थ और ताकतवर बने रहने के लिए किया करते थे. बौद्ध धर्म और हिन्दू धर्म से जुड़े लोग योग और ध्यान का प्रयोग करते थे. योग के बहुत से प्रकार है, जैसे- राज योग, जन योग, भक्ति योग, कर्म योग, हस्त योग इत्यादि.

योग एक आध्यात्मिक प्रकिया है जिसमें शरीर, मन और आत्मा को एक साथ लाने (योग) का कार्य होता है. ‘योग’ शब्द का अर्थ है - समाधि अर्थात् चित्त वृत्तियों का निरोध.

 

21 जून ही क्यों योग उत्सव का दिन चुना गया?

दरअसल उत्तरी गोलाद्र्ध में 21 जून सबसे लंबा दिन होता है. लिहाजा दुनिया के अधिकांश देशों में इस दिन का खासा महत्व है. आध्यात्मिक कार्यों के लिए भी यह दिन अत्यंत लाभकारी है. भारतीय मान्यता के अनुसार आदि योगी शिव ने इसी दिन मनुष्य जाति को योग विज्ञान की शिक्षा देनी शुरू की थी. इसके बाद वे आदि गुरु बने. इसीलिए 21 जून अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में चुना गया है.

 

योग दिवस:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाये जाने की सिफारिश की गयी थी.

इसके उपरांत 11 दिसम्बर 2014 संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा इस प्रस्ताव को पारित करके प्रत्येक वर्ष इस दिन यह दिवस मनाये जाने की घोषणा की गयी.

यह प्रस्ताव महासभा द्वारा विश्व स्वास्थ्य और विदेश नीति के तहत पारित किया गया ताकि विश्व भर में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य वातावरण प्राप्त हो सके.

अमेरिका, कनाडा, चीन एवं मिस्र सहित 177 देशों ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया.

यह भी पढ़ें: संघर्ष के दौरान यौन हिंसा के उन्मूलन हेतु अंतरराष्ट्रीय दिवस मनाया गया

 
Advertisement

Related Categories

Advertisement