लियोनल मेसी लगातार तीन बार यूरोपियन गोल्डन शू जीतने वाले पहले खिलाड़ी बने

स्पेन के फुटबॉल क्लब बार्सिलोना के कप्तान लियोनल मेसी ने हाल ही में लगातार तीसरी बार यूरोपियन गोल्डन शू जीत लिया है. उन्हें रिकॉर्ड छठी बार ये पुरस्कार मिला. पिछले सीजन में लियोनल मेसी ने 36 गोल किए थे. वे यूरोप में सबसे अधिक गोल करने वाले फुटबॉलर थे.

इस सूची में पेरिस सेंट जर्मन के किलियन एमबाप्पे दूसरे स्थान पर रहे. लियोनल मेसी के बेटे थियागो और माटेओ ने गोल्डन शू लिया. लियोनल मेसी लगातार तीसरी बार यह पुरस्कार पाने वाले पहले खिलाड़ी बन गये. उनके शानदार प्रदर्शन की बदौलत बार्सिलोना की टीम पिछले साल स्पेनिश लीग (ला-लिगा) जीतने में सफल हुई थी.

लियोनल मेसी द्वारा किये गये गोल

लियोनल मेसी ने सबसे पहले साल 2009-10 सीजन में गोल्डन शू खिताब जीता था. उन्होंने सीजन में कुल 34 गोल किये थे. लियोनल मेसी ने उसके बाद साल 2011-12 (50 गोल), साल 2012-13 (46 गोल), साल 2016-17 (37 गोल), साल 2017-18 (34 गोल), साल 2018-19 (36 गोल) में यह खिताब अपने नाम किया था. लियोनल मेसी के पास क्रिस्टियानो रोनाल्डो से दो गोल्डन शू ज्यादा हैं. लियोनल मेसी ने अक्‍टूबर 2004 में इस्‍पेनयोल के खिलाफ बार्सिलोना की सीनियर टीम के लिए डेब्‍यू किया था.

रोनाल्डो को चार बार ये पुरस्कार मिला

पुर्तगाल के स्‍टार रोनाल्‍डो ने साल 2014-15 के बाद से यह पुरस्कार नहीं जीता है. लियोनल मेसी के बाद इस पुरस्कार को जीतने के मामले में युवेंटन के क्रिस्टियानो रोनाल्डो दूसरे स्थान पर हैं. ये पुरस्कार रोनाल्डो को चार बार मिल चुका है. रोनाल्‍डो ने यह खिताब साल 2008, साल 2011, साल 2014 और साल 2015 में अपने नाम किया था. इसके बाद तीसरे स्थान पर दो पुरस्कार के साथ नौ फुटबॉलर हैं. इनमें सुआरेज, उरुग्वे के डिएगो फोरलान और फ्रांस के थिएरी हेनरी भी शामिल हैं. पहली बार साल 1968 में यूसेबियो को यूरोपियन गोल्डन शू मिला था.

यह भी पढ़ें:जिम्बाब्वे और नेपाल को फिर मिली ICC सदस्यता

लियोनल मेसी विश्व के एकमात्र खिलाड़ी हैं, जिन्‍होंने 6 गोल्‍डन बूट अपने नाम किये हैं. क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो दूसरे स्‍थान पर चार अवॉर्ड के साथ काबिज हैं. इसके अलावा गर्ड मुलर, थिएरी हेनरी और लुईस सुआरेज ने दो-दो बार गोल्‍डन शू अवॉर्ड अपने नाम किये है. क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो ने हाल ही में निजी कीर्तिमान हासिल करते हुए करियर का 700वां गोल दागा था. उन्‍होंने यह कारनामा पुर्तगाल की ओर से यूक्रेन के विरुद्ध किया था.

यह भी पढ़ें:ICC ने सुपर ओवर के नियम में बड़ा बदलाव किया, बाउंड्री काउंट नियम को किया खत्म

यह भी पढ़ें:विराट कोहली कप्तान के तौर पर 40 अंतरराष्ट्रीय शतक लगाने वाले पहले भारतीय बने

करेंट अफेयर्स ऐप से करें कॉम्पिटिटिव एग्जाम की तैयारी,अभी डाउनलोड करें| Android|IOS

Related Categories

Popular

View More