मध्यप्रदेश सरकार ने ‘माय एमपी रोजगार पोर्टल’ लांच किया

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 21 मई 2018 को भोपाल के मॉडल स्कूल में 'माय एमपी रोजगार पोर्टल' लांच किया. युवा सशक्तिकरण मिशन के अंतर्गत मध्यप्रदेश कौशल विकास एवं रोजगार निर्माण बोर्ड द्वारा यह पोर्टल तैयार किया गया है.

मैच-मेकिंग के माध्यम से नियोजक कम्पनियों और रोजगार के इच्छुक युवाओं को नजदीक लाने का प्रयास, 'माय एमपी रोजगार पोर्टल' के माध्यम से किया गया है.

                                                                          उद्देश्य

यह पोर्टल युवाओं को उनकी शैक्षणिक योग्यता, क्षमता एवं रुचि के अनुसार रोजगार उपलब्ध करवाने तथा नियोजक को अपने व्यवसाय की जरूरत के अनुसार योग्य उम्मीदवार की उपलब्धता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से परिपूर्ण है.

 

माय एमपी रोजगार पोर्टल से संबंधित मुख्य तथ्य:

•    इस पोर्टल के माध्यम से युवक अपनी योग्यतानुसार स्वयं की प्रोफाइल को पोर्टल पर रजिस्टर कर रोजगार खाता खोल सकेगा.

•    पोर्टल के माध्यम से वह अपनी पसंद के रोजगार की जगह, कार्य-क्षेत्र, सेक्टर एवं जॉब रोल का निर्धारण कर सकता है.

•    प्रोफाइल एकाउंट में सर्च करने पर उसे मालूम हो सकेगा कि उसकी रुचि और योग्यता के आधार पर रोजगार देने वाले कितने नियोजक एवं कितने पद उपलब्ध हैं.

•    ऑनलाइन ही इन कम्पनियों में नौकरी के लिये आवेदन भी कर सकेंगे.


ऑनलाइन अपडेट:

रोजगार एकाउंट में दी गई जानकारी को ऑनलाइन अपडेट किया जा सकेगा और नौकरी मिलने के बाद नई नौकरी के लिये भी रोजगार एकाउंट का उपयोग कर सकेगा.

नि:शुल्क:

नियोजक कम्पनी भी इस पोर्टल पर नि:शुल्क नियोजक खाता खोल सकती है. खाते में वह उसके यहाँ नौकरी के लिये जरूरी योग्यता, प्रशिक्षण आदि की जानकारी रखेगा.
जैसे ही नियोजक जॉब रोल या स्किल सेट अपडेट करेगा, वैसे ही पोर्टल नियोजक के समक्ष जॉब प्राप्त करने वालों की लिस्ट एवं प्रोफाइल उपलब्ध करवा देगा.


इंटरव्यू:

पोर्टल के माध्यम से ही नियोजक आवेदन आमंत्रित कर आवेदक को इंटरव्यू के लिये बुला सकेगा.

पोर्टल की मुख्य विशेषताएँ:

युवाओं के लिए पोर्टल

युवाओं को पोर्टल पर स्वत: रजिस्ट्रेशन, जॉब प्रीफरेंस को अपडेट करने, नियोक्ता की जानकारी, सेक्टर एवं जॉब रोल के आधार पर उपलब्ध ऑनलाइन आवेदन की सुविधा मिलेगी. इंटरव्यू एवं जॉब-फेयर की जानकारी रजिस्टर्ड ई-मेल एवं मोबाइल पर प्राप्त की जा सकेगी.


नियोजक के लिए पोर्टल

नियोजकों को पोर्टल पर स्वत: रजिस्ट्रेशन, सेक्टर एवं जॉब रोल्स को अपडेट करने और इसी के आधार पर डिमांड को पोर्टल पर अपलोड करने की सुविधा होगी. डिमांड के आधार पर योग्य आवेदकों की सूची उपलब्ध हो सकेगी.

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश सरकार ने 30 प्रकार की छात्रवृत्ति वितरण के लिये मिशन वन क्लिक योजना शुरू की

 

Related Categories

Popular

View More