Advertisement

प्रधानमंत्री मोदी ने लखनऊ में 60,000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास किया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 29 जुलाई 2018 को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 60 हजार 228 करोड़ रूपये की औद्योगिक परियोजनाओं का शिलान्यास किया. इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 81 औद्योगिक घरानों द्वारा उत्तर प्रदेश में लगाये जाने वाली परियोजनाओं की आधारशिला रखी.

इन परियोजनाओं के पूरा होने से प्रदेश में दो लाख लोगों को रोजगार मिलने की संभावना है. प्रदेश के 75 जिलों में प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया गया.

कार्यक्रम के प्रमुख तथ्य

•    कार्यक्रम में जिन परियोजनाओ का शिलान्यास किया गया है उनमें रिलायंस जियो इंफोकाम प्रदेश में 10 हजार करोड़ रूपये निवेश करेगी जबकि भारत संचार निगम लिमिटेड पांच हजार करोड़ रूपये से फाइबर केबल नेटवर्क बिछायेगी.

•    आईटी कंपनी इंफोसिस 5000 करोड़ रूपये और टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज 2300 करोड़ रूपये से अपने उपक्रम लगायेंगी.

•    इसके अलावा अडानी पावर 2500 करोड रूपये की लागत से 765 केवी की घाटमपुर-हापुड़ लाइन बिछायेगी.

•    ई-कॉमर्स और डिजिटल वॉलेट के क्षेत्र में देश की जानी मानी पेटीएम 3500 करोड रूपये खर्च कर परिसर की स्थापना करेगी.

टिप्पणी

इस दौरान विभिन्न कॉरपोरेट समूहों ने प्रदेश सरकार के साथ समझौता ज्ञापनों (एमओयू) पर हस्ताक्षर किये थे. इंवेस्टर्स समिट के मात्र पांच महीनो में 81 कंपनियो ने 60 हजार करोड़ रूपये का निवेश किया जो एक बड़ी उपलब्धि है. लगभग बाईस करोड़ की आबादी वाले इस राज्य में औद्योगिक विकास को बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे. गौरतलब है कि समिट में सात देशों से लगभग 6,000 लोगों ने हिस्सा लिया था.

दो दिवसीय समिट में 1,045 एमओयू पर साइन किए गए जिसमें 4.28 लाख करोड़ रुपये के निवेश का प्रस्ताव रखा गया और 4 लाख करोड़ रुपये का निवेश आने की उम्मीद जताई गई. इन समझौतों से राज्य में कम से कम 33 लाख नौकरियां उपलब्ध होने का अनुमान लगाया गया है.

 
Advertisement

Related Categories

Advertisement