Jagranjosh Education Awards 2021: Click here if you missed it!
Next

नासा के 'इनजेनिटी' ने भरी मंगल पर पहली संचालित उड़ान

19 अप्रैल, 2021 को नासा का हेलीकॉप्टर इनजेनिटी मंगल पर सफलतापूर्वक संचालित उड़ान भरने वाला पहला विमान बन गया है.

नासा की जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी ने यह घोषणा की है कि, ऑल्टीमीटर डाटा यह इंगित करता है कि, मंगल पर लगभग 39.1 सेकंड के लिए 10 फीट की ऊंचाई तक हवा में मंडराया है.

जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी ने इस उड़ान की पहली श्वेत-श्याम तस्वीरें पृथ्वी पर प्राप्त कीं, जिसमें हेलीकॉप्टर की परछाई दिखाई दी क्योंकि यह लाल ग्रह की जमीन पर उतर रहा था.

"Wow!"

The @NASAJPL team is all cheers as they receive video data from the @NASAPersevere rover of the Ingenuity #MarsHelicopter flight: pic.twitter.com/8eH4H6jGKs

— NASA (@NASA) April 19, 2021

यह नियंत्रण पूरी तरह से स्वायत्त था. मंगल ग्रह से 300 मिलियन किमी नीचे, जॉय स्टिक के साथ हेलीकॉप्टर को उड़ाने जैसा कोई विकल्प ही नहीं था.

इनजेनिटी के बारे में

इनजेनिटी मार्स हेलीकॉप्टर एक सौर-चालित हेलीकॉप्टर है, जिसे दूसरे ग्रह पर संचालित नियंत्रित उड़ान का परीक्षण करने के लिए, मंगल पर रखा गया है.

यह 04 पाउंड (1.8 किलोग्राम) का हेलीकॉप्टर 19.3 इंच लंबा है, जिसमें कोई विज्ञान उपकरण नहीं है. इसमें दो कैमरे हैं, एक उच्च-रिज़ॉल्यूशन वाला रंगीन कैमरा जो मंगल के क्षितिज को देखता है और दूसरा ब्लैक-एंड-व्हाइट कैमरा, जो मंगल की भूमि पर नीचे की ओर देखता है.

परजिवरैंस रोवर के साथ ही इनजेनिटी को जोड़ा गया था. जब एक बार रोवर अपने उपयुक्त स्थान पर पहुंच गया, तब इनजेनिटी ने अप्रैल 2021 की शुरुआत से ही अपनी परीक्षण उड़ानों की एक श्रृंखला का शुभारंभ कर दिया था.

मार्स हेलिकॉप्टर इनजेनिटी की यह उड़ान मंगल ग्रह जैसे बेहद पतले/ विरल वातावरण में संचालित की जाने वाली पहली उड़ान है.

Related Categories

Also Read +
x

Live users reading now