राष्ट्रीय बालिका दिवस देश भर में मनाया गया

राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी 2018 को संपूर्ण भारत में मनाया गया. बच्चियों के प्रति समाज में जागरूकता और चेतना पैदा करने के लिए यह दिवस प्रति वर्ष मनाया जाता है. यह दिवस समाजिक लोगों के बीच उनके जीवन को बेहतर बनाने के लिये और समाज में लड़कियों की स्थिति को बढ़ावा देने के लिये मनाया जाता है.

राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने का उद्देश्य:

•    आज बालिका प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ रही है लेकिन आज भी वह अनेक कुरीतियों का शिकार हैं. ये कुरीतियों उसके आगे बढ़ने में बाधाएँ उत्पन्न करती है.

•    भारत में बाल लिंगानुपात के खिलाफ कार्य करना तथा बालिका शिशु के बारे में लोगों का दिमाग बदलना है.

•    पढ़े-लिखे लोग एवं जागरूक समाज भी इस समस्या से अछूता नहीं है. आज हज़ारों लड़कियों को जन्म लेने से पहले ही मार दिया जाता है या जन्म लेते ही लावारिस छोड़ दिया जाता है.

•    आज भी समाज में कई घर ऐसे हैं, जहाँ बेटियों को बेटों की तरह अच्छा खाना और अच्छी शिक्षा नहीं दी जा रही है. समाज में आज भी बालक और बालिकाओं में भेदभाव किया जा रहा है.


•    इनसभी भेदभाव को खत्म करने के लिए ही राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है.

भारत में लड़कियों के लिए कुछ योजनाएं:

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 जनवरी 2015 को बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओ योजना का शुभारंभ किया था. बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओ योजना महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, स्वास्थ्य मंत्रालय और परिवार कल्याण मंत्रालय एवं मानव संसाधन विकास की एक संयुक्त पहल के रूप में समन्वित और अभिसरित प्रयासों के अंतर्गत बालिकाओं को संरक्षण और सशक्त करने के लिए शुरुआत की गई है.

धन लक्ष्मी योजना:

केंद्र सरकार ने अक्टूबर 2016 में धनलक्ष्मी योजना शुरू की. इस योजना के अंतर्गत बालिका का जन्म पंजीकरण, टीकाकरण, शिक्षा और 18 वर्ष की आयु के बाद ही विवाह किए जाने पर 1 लाख रुपए की बीमा राशि दिए जाने का प्रावधान है.

सुकन्या समृद्धि योजना:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 जनवरी 2015 को सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई) का शुभारंभ किया था. यह योजना लड़कियों के लिए एक छोटी बचत योजना है जिसे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ स्कीम के तहत लांच किया गया है. सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता किसी पोस्ट ऑफिस या बैंक में खोला जा सकता है.

राष्ट्रीय बालिका दिवस:

यह दिवस वर्ष 2008 से प्रति वर्ष 24 जनवरी को मनाया जाता है. भारत सरकार ने राष्ट्रीय बालिका दिवस को राष्ट्रीय कन्या विकास मिशन के रूप में शुरू किया है. मिशन देशभर में लोगों के बीच बालिकाओं की उन्नति के महत्त्व के बारे में जागरूकता बढ़ाता है. 24 जनवरी के दिन इंदिरा गांधी को नारी शक्ति के रूप में याद किया जाता है.

राष्ट्रीय युवा दिवस 12 जनवरी को मनाया गया

 

Related Categories

Popular

View More