Jagranjosh Education Awards 2021: Click here if you missed it!
Next

ओडिशा सरकार ने SC-ST छात्रों को छात्रवृत्ति देने हेतु अलग फंड की व्यवस्था की

ओडिशा सरकार ने अनुसूचित जनजाति (एसटी) और अनुसूचित जाति (एससी) के छात्रों को छात्रवृत्ति देने के लिए अलग फंड की व्यवस्था की है. मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने 50,000 अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्रों के लिए बड़ा घोषणा किया है.

राज्य सरकार ने छात्रवृत्ति (स्कॉलरशिप) दिए जाने के लिए 101 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है. एक आधिकारिक विज्ञापन में कहा गया है कि ये छात्रवृत्ति सीधे छात्रों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी.  सरकार ने ओडिशा में एससी और एसटी के छात्रों को बड़ा तोहफा दिया है.

'माई हॉस्टल' कार्ड लॉन्च

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने तीन 'आकांक्षा' छात्रावास और 68 अन्य छात्रावासों का उद्घाटन भी किया. उन्होंने हॉस्टल में रहने वाले 5.75 लाख छात्रों के लिए 'माई हॉस्टल' कार्ड भी लॉन्च किया. मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए इन हॉस्टल का उ्दघाटन वर्चुअल मोड में ही किया.

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने क्या कहा?

• मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षा सुधार का आधार है और मेरी सरकार ने हमेशा शिक्षा पर ध्यान केंद्रित किया है. इसी कारण एससी और एसटी छात्र विभिन्न क्षेत्रों में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं.

• उन्होंने यह भी कहा कि इस कार्यक्रम के माध्यम से कुल 1.5 लाख छात्र लाभान्वित होंगे. वे ओडिशा राज्य छात्रवृत्ति पोर्टल के माध्यम से सीधे अपने बैंक खाते में पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप प्राप्त कर सकते हैं.

• मुख्यमंत्री ने जनजातियों के लिए पोषण कार्यक्रम पर कहा कि यह राज्य सरकार का एक और महत्वपूर्ण कार्यक्रम है. इससे लगभग 5.75 लाख छात्रों को फायदा होगा.

• उन्होंने कहा कि एससी और एसटी छात्रों के लिए बनाए गए 6,700 छात्रावासों में उचित आवास और अध्ययन की सुविधा दी जाएगी. उन्हें अच्छी शिक्षा प्रदान करने के लिए कदम उठाए गए हैं.

1.5 लाख छात्र लाभान्वित

कार्यक्रम के माध्यम से कुल 1.5 लाख छात्र लाभान्वित होंगे. वे सीधे अपने बैंक खाते में ओडिशा राज्य छात्रवृत्ति पोर्टल के माध्यम से पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृत्ति प्राप्त कर सकते हैं. उन्हें उचित शिक्षा प्रदान करने के लिए ये महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं.

Related Categories

Also Read +
x

Live users reading now