प्रधानमंत्री मोदी ने बिहार में 9 राजमार्ग परियोजना का शुभारंभ किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बिहार में घर तक फाइबर केबल नेटवर्क तथा राजमार्गों से जुड़ी 9 परियोजनाओं का शुभारंभ किया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज बिहार की विकास यात्रा का एक और अहम दिन है. प्रधानमंत्री ने बिहार में कनेक्टिविटी को बढ़ाने वाली 9 परियोजनाओं का शिलान्यास किया है.

इन परियोजनाओं में हाइवे को 4 लेन और 6 लेन का बनाने और नदियों पर 3 बड़े पुलों के निर्माण का काम शामिल है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत के गांवों में इंटरनेट उपयोग करने वालों की संख्या शहरों से ज्यादा हो जाएगी, ये कुछ वर्षों तक सोचना मुश्किल था.

प्रधानमंत्री ने क्या कहा?

प्रधानमंत्री मोदी विकास परियोजना का शिलान्यास करने के बाद प्रदेश की जनता को वर्चुअल प्लेटफॉर्म से संबोधित करते हुए कहा कि देश की संसद ने किसानों को नए अधिकार देने वाले बहुत ही ऐतिहासिक कानूनों को पारित किया है. उन्होंने कहा कि मैं देश के लोगों को इसके लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं. ये सुधार 21वीं सदी के भारत की जरूरत है.

घर तक फाइबर कार्यक्रम

बिहार की इन योजनाओं में 14,000 करोड़ रुपये की 9 राजमार्ग परियोजना और 45,945 गांवों को ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट सेवाओं से जोड़ने वाला 'घर तक फाइबर' कार्यक्रम शामिल है. प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे देश में अब तक उपज बिक्री की जो व्यवस्था चली आ रही थी, जो कानून थे, उसने किसानों के हाथ-पांव बांधे हुए थे.

Prime Minister Narendra Modi lays the foundation stone of nine highway projects in Bihar, through video conference.

Bihar Chief Minister Nitish Kumar also attends the ceremony. pic.twitter.com/YFf6l6wRGO

— ANI (@ANI) September 21, 2020

बिहार के विकास के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विगत दो सप्ताह से बिहार के विकास के लिए अनेक नई नई जनकल्याणकारी योजनाएं शुरू कर रहे हैं. विधानसभा चुनाव से पहले बिहार को सौगात मिलने का सिलसिला जारी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बिहार को करीब 14 हजार करोड़ रुपये की सौगात दी.

पड़ोसी राज्यों को भी मिलेगा लाभ

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बिहार में जिन 9 हाईवे प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास हुआ है उसका लाभ पड़ोसी राज्यों झारखंड और उत्तर प्रदेश के लोगों को भी मिलेगा. इतना ही नही, अब देश के किसान, बड़े-बड़े स्टोरहाउसेज और कोल्ड स्टोरेज में अपने फसल का आसानी से भंडारण कर पाएंगे. जब भंडारण से जुड़ी कानूनी दिक्कतें दूर होंगी तो हमारे देश में कोल्ड स्टोरेज का भी नेटवर्क और विकसित होगा.

पृष्ठभूमि

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 18 सितम्बर 2020 को ऐतिहासिक और शानदार कोसी रेल महासेतु को राष्ट्र को समर्पित किया था और इस अवसर पर बिहार के रेल यात्रियों की सुविधाओं के लिए 12 रेल परियोजनाओं का शुभारंभ भी किया था. इससे पहले मोदी कैबिनेट की बैठक में दरभंगा में एम्स के लिये मंजूरी दी गई थी.

Related Categories

Also Read +
x

Live users reading now