Advertisement

सऊदी अरब में 35 वर्ष बाद सिनेमा पर लगी रोक हटाई गई

सऊदी अरब के संस्कृति और सूचना मंत्रालय ने 11 दिसंबर 2017 को घोषणा की कि देश में पिछले 35 वर्षों से सिनेमा पर लगाईं गयी रोक को हटा लिया जायेगा. उपलब्ध जानकारी के अनुसार मार्च 2018 तक सऊदी अरब में सिनेमाघर खुल सकते हैं.   

गौरतलब है कि सऊदी अरब में 1980 के दशक से आरंभ से ही प्रतिबन्ध लगा दिया गया था, उसी समय से यह प्रतिबंध हटाने की मांग की जा रही है. यह निर्णय प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान द्वारा आरंभ किये गये सामाजिक और आर्थिक स्थिति को सुधारने के कार्यक्रम 2030 के तहत लिया गया.

मुख्य बिंदु

•    सऊदी अरब में पहले सिनेमाघर हुआ करते थे लेकिन यह एक रूढ़िवादी मुस्लिम देश रहा है इसलिए इस क्षेत्र में इसे विभिन्न चुनौतियों का सामना करना पड़ता रहा है.

•    इसके बाद 1980 के दशक में धर्म का हवाला देते हुए यहां के अधिकारियों को सिनेमाघरों को बंद करने का निर्णय दिया.

•    हाल ही में सऊदी अरब में महिलाओं के ड्राइविंग करने पर लगी पाबंदी हटाई गई थी.

•    सिनेमाघरों को खोलने से आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा तथा समाज में विविधता पैदा होगी.

•    इससे देश में एक व्यापक सांस्कृतिक सेक्टर तैयार करके रोजगार के नये अवसर पैदा किये जा सकेंगे साथ ही इससे सऊदी अरब में मनोरंजन के विकल्प भी समृद्ध होंगे.

1970 के दशक में मुस्लिम कट्टरपंथी विचारधारा द्वारा सिनेमा को सांस्कृतिक और धार्मिक पहचान के लिए खतरा मानते हुए इस पर रोक लगाने का निर्णय लिया गया.

यह भी पढ़ें: 20वां अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव भारत में आरंभ

यह भी पढ़ें: अहमदाबाद भारत की पहली यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज सिटी बनी

Advertisement

Related Categories

Advertisement