थाईलैंड में सैन्य अभ्यास कोबरा गोल्ड 2019 आरंभ

थाईलैंड और संयुक्त राज्य अमेरिका का वार्षिक कोबरा गोल्ड सैन्य अभ्यास थाईलैंड की मेजबानी में शुरू हो गया. कोबरा गोल्ड थाईलैंड और संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा एक वार्षिक बहुपक्षीय सैन्य अभ्यास है.

इसे एशिया-प्रशांत क्षेत्र का सबसे बड़ा सैन्य युद्धाभ्यास माना जाता है. इसमें 29 देशों से लगभग 10,000 सैनिक हिस्सा ले रहे हैं. इस अभ्यास का समापन 22 फरवरी को होगा. इस अभ्यास के कारण प्राकृतिक आपदा के दौरान अनुक्रिया में सेना के समन्वय में वृद्धि हुई है.

 

उद्देश्य:

अमेरिका और थाईलैंड की इस पहल का उद्देश्य सशस्त्र सेनाओं के बीच समन्वय को बढ़ावा देना है. इस अभ्यास का उद्देश्य सहयोग और अंतर-संचालन को मजबूत करना भी है.

 

मुख्य बिंदु:

   थाईलैंड और संयुक्त राज्य अमेरिका के अलावा सात अन्य राष्ट्र सक्रिय सिंगापुर, जापान, चीन, भारत, इंडोनेशिया, मलेशिया और दक्षिण कोरिया इसके सक्रिय भागीदार हैं. इस सैन्य अभ्यास में अमेरिका के सबसे अधिक सैनिक भाग लेते हैं.

   यह बहुपक्षीय सैन्य अभ्यास का 38वां संस्करण है. प्रत्येक वर्ष इसका आयोजन थाईलैंड में होता है.

•   भारत इस अभ्यास में 14 सदस्यीय दल के साथ हिस्सा ले रहा है.

•   कोबरा गोल्ड में तीन प्रमुख प्रशिक्षण सैन्य क्षेत्र प्रशिक्षण, मानवीय सहायता और आपदा राहत प्रशिक्षण शामिल हैं.

   भारत वर्ष 2016 में पहली बार इस युद्ध अभ्यास में शामिल हुआ था जबकि चीन इस युद्ध अभ्यास में पहली बार वर्ष 2015 में शामिल हुआ था.

 

यह भी पढ़ें: भारतीय रिजर्व बैंक ने सात बड़े बैंकों पर जुर्माना लगाया

Related Categories

Popular

View More