JagranJosh Education Awards 2022 - Nominations Open!
Next

भारत के सात राज्यों में किया जाएगा थ्री-डोज़ ZyCov-D को लॉन्च

Anjali Thakur

कोवैक्सीन के बाद ZyCov - D दूसरा स्वदेशी टीका है. ZyCov-D की अनूठी विशेषता यह है कि यह सुई रहित टीका है. सबसे पहले ZyCov-D वैक्सीन को भारत के जिन सात राज्यों में लॉन्च किया जाना है वे हैं - तमिलनाडु, बिहार, महाराष्ट्र, झारखंड, पंजाब, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश.

ZyCov - D वैक्सीन के बारे में

G20 Troika में शामिल हुआ भारत, एक साथ रिकवरी का है उद्देश्य

ZyCov - D प्लास्मिड डीएनए पर हुआ विकसित

ZyCov-D वैक्सीन को प्लास्मिड डीएनए पर विकसित किया गया था. सरल शब्दों में, इसे कमजोर या मारे गए वायरस के डीएनए के एक टुकड़े का उपयोग करके विकसित किया गया था. जब यह डीएनए टुकड़ा शरीर में इंजेक्ट किया जाता है, तो मानव प्रतिरक्षा प्रणाली इस वायरस के खिलाफ प्रतिक्रिया करना सीखती है. यह प्लास्मिड ई कोलाई कोशिकाओं का उपयोग करके निर्मित किया जाता है.

ZyCov-D को सुई-कम टीका कहने के कारण

दरअसल, ZyCov - D को जेट इंजेक्टर का उपयोग करके इंजेक्ट किया जाता है. यह जेट इंजेक्टर एक इंजेक्शन सिरिंज है. यहां तरल की एक संकीर्ण उच्च दबाव धारा त्वचा की सबसे बाहरी परत में प्रवेश करती है. इसके साथ, यह दवा एपिडर्मिस के अंतर्निहित ऊतकों तक पहुंचती है. यह सुइयों के उपयोग की पारंपरिक विधि से बेहतर है. ऐसा इसलिए है क्योंकि इस पद्धति में, टीके कोशिका प्लाज्मा झिल्ली और परमाणु झिल्ली में संचरण करते हैं. दूसरी ओर, पारंपरिक तरीके कम इम्युनोजेनेसिटी देते हैं.

G20 Troika में शामिल हुआ भारत, एक साथ रिकवरी का है उद्देश्य 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें एक लाख रुपए तक कैश

Related Categories

Live users reading now