टॉप 10 साप्ताहिक करेंट अफेयर्स घटनाक्रम: 10 जून से 15 जून 2019

जागरण जोश डॉट कॉम अपने पाठकों के लिए पूरे सप्ताह से चुनिंदा एवं महत्वपूर्ण टॉप-10 साप्ताहिक करेंट अफेयर्स घटनाक्रम प्रस्तुत कर रहा है.

बिहार में सभी वृद्धजनों के लिए पेंशन योजना जारी की गई

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 14 जून 2019 को मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना का आरंभ किया. इस योजना के तहत वृद्धों के बैंक खाते में पेंशन योजना की दो माह यानी अप्रैल और मई की राशि स्थानांतरित की गई.
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उम्मीद जताई है कि 35 से 36 लाख लोगों द्वारा इस योजना के लाभ लिए आवेदन किया जायेगा. मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद कक्ष में इस योजना के आरंभ के मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि बीपीएल हों या एपीएल सभी वर्ग के वृद्धजनों को इस योजना का लाभ मिलेगा.

बीडीएल ने नौसेना को वरुणास्त्र टारपीडो की आपूर्ति हेतु समझौता किया

भारत डायनेमिक्स लिमिटेड (बीडीएल) ने भारतीय नौसेना को ज्यादा शक्तिशाली वरुणास्त्र टारपीडो की आपूर्ति के लिए 1,187.82 करोड़ रुपये के ठेके पर हस्ताक्षर किए. कंपनी हथियारों की आपूर्ति 42 महीने में पूरी करेगी.
अधिक शक्तिशाली टारपीडो या वरुणास्त्र टारपीडो में लक्ष्य को खुद ढूंढ़ने की डिजिटल प्रणाली लगी है. बीडीएल के निदेशक (तकनीकी) एन पी दिवाकर और रक्षा मंत्रालय में संयुक्त सचिव और क्रय प्रबंधक (मेरीटाइम एवं सिस्टम्स) निधि छिब्बर ने अनुबंध पर हस्ताक्षर किए. ये हथियार डीआरडीओ के सहयोग से बीडीएल की विशाखापत्तनम फैक्ट्री में बनाए जाएंगे.

भारत ने स्वदेश में विकसित ‘एचएसटीडीवी’ का सफल परीक्षण किया

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने ओडिशा तट से हाइपरसोनिक टेक्नोलॉजी डेमोंस्ट्रेटर व्हीकल (एचएसटीडीवी) का सफल परीक्षण किया. डीआरडीओ ने यह परीक्षण बंगाल की खाड़ी में डॉ. अब्दुल कलाम द्वीप के एकीकृत परीक्षण रेंज (आईटीआर) के प्रक्षेपण परिसर-चार से किया.
डीआरडीओ ने भविष्य के मिशनों में इस्तेमाल होने वाली महत्त्वपूर्ण तकनीक के परीक्षण हेतु टेक्नोलॉजी डेमोंस्ट्रेटर व्हीकल का परीक्षण किया. डीआरडीओ के अध्यक्ष जी सतीश रेड्डी और आईटीआर के निदेशक बी के दास सहित वरिष्ठ वैज्ञानिकों और रक्षा अधिकारियों की मौजूदगी में परीक्षण किया गया.

2030 तक भारत अंतरिक्ष में अपना स्पेस स्टेशन स्थापित करेगा: इसरो

इसरो द्वारा 13 जून 2019 को यह घोषणा की गई कि 2030 तक भारत का अपना अंतरिक्ष स्टेशन स्थापित किया जायेगा. इसरो के चेयरमैन के. सिवान ने अंतरिक्ष विभाग के मंत्री डा. जितेन्द्र सिंह के साथ संयुक्त प्रेस कांफ्रेस में यह घोषणा की. अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत चौथा राष्ट्र होगा जिसका अंतरिक्ष में अपना स्टेशन होगा. इसरो द्वारा जारी जानकारी के अनुसार इसे किसी भी अन्य देश की साझेदारी के बिना ही विकसित किया जायेगा.
इसरो द्वारा की गयी घोषणा के अनुसार यह स्पेस स्टेशन लगभग 20 टन की क्षमता का होगा. इस स्पेस स्टेशन में यानों के मिलने, उपग्रहों के उतारने और वैज्ञानिकों के रहने की सुविधा होगी. दरअसल, इसरो जब मानव को अंतरिक्ष में भेजने की क्षमता हासिल कर लेगा तो अगला कदम वहां रहकर शोध का होगा इसलिए स्पेस स्टेशन विकसित किया जाना आवश्यक है. इसके अतिरिक्त, इसरो द्वारा घोषणा की गई कि वर्ष 2022 तक मानव को अन्तरिक्ष में भेजने के लिए गगनयान को अन्तरिक्ष में भेजा जायेगा.

अंतरिक्ष में भारत की सैन्य ताकत; सरकार ने डीएसआरओ को हथियार बनाने की दी मंजूरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली सुरक्षा मामलों पर कैबिनेट कमेटी (सीसीएस) ने रक्षा अंतरिक्ष अनुसंधान एजेंसी (डीएसआरओ) नाम से जानी जाने वाली एक नई एजेंसी के गठन को मंजूरी दे दी है. इस एजेंसी को अंतरिक्ष युद्ध हथियार प्रणालियों और प्रौद्योगिकियों को विकसित करने का काम सौंपा गया है.
यह एजेंसी अंतरिक्ष युद्ध को ध्यान में रखते हुए अत्याधुनिक हथियार प्रणालियों और तक तकनीक का विकास करेगी. कुछ समय पहले ही सरकार ने उच्च स्तरीय बैठक में इस एजेंसी के गठन का फैसला किया था.

वायुसेना के लापता AN-32 विमान क्रैश में कोई नहीं बचा: वायुसेना

भारतीय वायुसेना ने ट्वीट कर जानकारी दी की वायुसेना के लापता विमान AN-32 में सवार कोई भी यात्री जिंदा नहीं बचा है. भारतीय वायुसेना ने ट्वीट करते हुए कहा कि आठ सदस्यों का बचाव दल क्रैश साइट पर पहुंच गया है, जहां उन्हें कोई भी जीवित शख्स नहीं मिला है.
भारतीय वायुसेना ने विमान में सवार सभी 13 लोगों के परिजनों को इस बारे में सूचित कर दिया है. भारतीय वायुसेना ने हादसे के दौरान जान गंवाने वाले सभी लोगों को श्रद्धांजलि दी है. ये विमान 3 जून को लापता हुआ था और 9 दिन बाद यानी 11 जून को इसका मलबा मिला था. वायुसेना ने इस विमान को खोजने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया. इस अभियान को खोजने के लिए सुखोई 30 एयरक्राफ्ट और सी-130 स्पेशल ऑपरेशन एयरक्राफ्ट को लगाया गया.

बिहार सरकार का बड़ा फैसला, मां-बाप की सेवा नहीं करने वाले बच्चों को जाना पड़ेगा जेल

बिहार सरकार ने हाल ही में एक बड़ा फैसला किया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के मुताबिक मां-बाप के साथ दुर्व्यवहार करने पर अब बच्चों को जेल जाना पड़ेगा.
यह फैसला नीतीश कुमार की अध्यक्षता में 11 जून 2019 को हुई कैबिनेट की बैठक में मंजूरी दे दी गई है. इस फैसला में कहा गया है कि अगर बिहार में रहने वाले बच्चे अपने मां-बाप का अपमान करते हैं या उनके साथ दुर्व्यवहार करते हैं तो उन्हें जेल जाना पड़ेगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी मंत्री को सुबह 9.30 तक दफ्तर पहुंच जाने का आदेश दिया

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मंत्रियों को सुबह साढ़े नौ बजे तक दफ्तर पहुंच जाने की आदेश दिया है. उन्होंने मंत्रिपरिषद की बैठक में कहा कि मंत्री घर से काम करने से बचें और लोगों के लिए एक उदाहरण पेश करें.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब संसद का सत्र चल रहा हो तो मंत्रियों को दिल्ली में ही रहने की कोशिश करनी चाहिए. उन्होंने कहा की राज्य मंत्रियों को बड़ी भूमिका देने की बात करते हुए कहा कि कैबिनेट मंत्रियों को उनके साथ महत्वपूर्ण फाइलें साझा करनी चाहिए. इससे उत्पादकता बढ़ेगी.

Ganga Dussehra 2019: गंगा दशहरा का महत्व, विधि सहित पूरी जानकारी

हिंदू कैलेंडर के अनुसार प्रत्येक वर्ष ज्‍येष्‍ठ माह के शुक्‍ल पक्ष की दशमी तिथि को गंगा दशहरा मनाया जाता है. दूसरी ओर, अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार गंगा दशहरा मई या जून में मनाया जाता है. वर्ष 2019 में गंगा दशहरा 12 जून को मनाया जा रहा है.
गंगा दशहरा को पुण्य कमाने तथा दान करने का भी अवसर माना जाता है. इस दिन लोग बड़े स्तर पर दान-पुण्य करते हैं. इस दिन शीतलता प्रदान करने वाली वस्तुओं का दान विशेष रूप से महत्वपूर्ण माना जाता है.

बीजेपी सांसद वीरेंद्र कुमार होंगे 17वीं लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर
बीजेपी सांसद डॉ. वीरेंद्र कुमार 17वीं लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर होंगे. नए चुने गए सांसदों को वह सदन की सदस्यता की शपथ दिलाएंगे. वह 7वीं बार सांसद चुने गए हैं.
वीरेंद्र कुमार भारत की 11वीं, 12वीं, 13वीं, 14वीं, 15वीं और 16वीं लोकसभा के सदस्य रहे. उन्होंने साल 1996-2009 के बीच मध्य प्रदेश के सागर निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया. वे अभी मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. वे इस बार भी टीकमगढ़ की सीट से जीतकर आए हैं.

Continue Reading
Advertisement

Related Categories

Popular

View More