Are you worried or stressed? Click here for Expert Advice
Next

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 28 जुलाई 2021

Vikash Tiwari

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 28 जुलाई 2021 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से विश्व स्वास्थ्य संगठन और कोरोना वायरस आदि शामिल हैं.

World Hepatitis Day 2021: जानें क्यों मनाया जाता विश्व हेपेटाइटिस दिवस

हेपेटाइटिस होने पर ये शरीर में कई तरह अन्य दिक्कतों का भी कारण बनती है. हाल ही में आए विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक पुरुषों में हेपेटाइटिस का असर उनकी फर्टिलिटी पर पड़ता है. यह दिवस लोगों में इस बीमारी की रोकथाम, परीक्षण और उपचार के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए भी मनाया जाता है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया भर में 36 करोड़ से ज्यादा लोग हेपेटाइटिस के गंभीर वायरस से संक्रमित हैं. भारत में 4 करोड़ लोग इस वायरस के संक्रमण से घिरे हुए हैं. ये सभी हेपेटाइटिस बी के वायरस से इंफेक्टेड हैं.

 

लोकसभा में विरोध के बीच फैक्टरिंग रेगुलेशन अमेंडमेंट बिल 2021 हुआ पास, यहां पढ़ें मुख्य विवरण

इस फैक्टरिंग रेगुलेशन (अमेंडमेंट) बिल, 2021 के माध्यम से, फैक्टरिंग व्यवसाय में संलग्न होने वाली संस्थाओं के दायरे को बढ़ाकर, वर्तमान फैक्टरिंग विनियमन अधिनियम, 2011 को उदार बनाने का प्रयास किया जा रहा है. अब इसे राज्यसभा में विचार के लिए पेश किया जाएगा.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने यह कहा कि, सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों सहित सभी उद्यमों द्वारा भुगतान और तरलता/ नकदी में देरी से संबंधित समस्याओं के समाधान के लिए मूल फैक्टरिंग विनियमन अधिनियम, 2011 लागू किया गया था लेकिन, ये समस्याएं अभी भी बनी हुई हैं.

 

दिल्ली पुलिस के नए कमिश्नर बने राकेश अस्थाना, जानें उनके बारे में सबकुछ

गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस आयुक्त की अतिरिक्त जिम्मेदारी संभाल रहे बालाजी श्रीवास्तव को तत्काल प्रभाव से हटाकर उनकी जगह राकेश अस्थाना को दिल्ली पुलिस का नया आयुक्त बना दिया है. अस्थाना गुजरात कैडर के 1984 बैच के वरिष्ठ आइपीएस है.

दिल्ली पुलिस के इतिहास में यह दूसरा मौका है, जब गैर यूटी कैडर के आईपीएस को आयुक्त बनाया गया है. इनसे पहले 1999 में भी भाजपा की सरकार में यूपी कैडर के आइपीएस अजय राज शर्मा को दिल्ली पुलिस का आयुक्त बनाया था. वह करीब तीन साल तक आयुक्त रहे थे.

 

IMF ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए भारत का विकास दर अनुमान घटाया, जानें कितना रखा

आईएमएफ ने अनुमान जताया है कि वित्‍त वर्ष 2021-22 (FY22) में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 9.5 फीसदी रहेगी. आईएमएफ ने यह फैसला कोरोना की दूसरी लहर से रिकवरी की धीमी रफ्तार के चलते किया है. आईएमएफ ने इससे पहले अप्रैल में 2021-22 में 12.5 प्रतिशत जीडीपी ग्रोथ का अनुमान जताया था.

आईएमएफ ने अपनी रिपोर्ट में भारत का ग्रोथ प्रोजेक्शन घटाने की मुख्य वजह कोविड-19 की दूसरी लहर को बताया है. उल्लेखनीय है कि अप्रैल और मई में देश में कोरोना की दूसरी लहर ने भारी तबाही मचाई थी. तब देश में कोविड संक्रमितों की प्रतिदिन की संख्या 4 लाख तक पहुंच गई थी.

 

 

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें एक लाख रुपए तक कैश

Related Categories

Live users reading now