टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 09 दिसंबर 2019

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 09 दिसंबर 2019 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से-फिनलैंड के प्रधानमंत्री एंटी रिने के इस्तीफा और मिस यूनिवर्स समारोह आदि शामिल हैं.

जाने कौन हैं सना मारिन, जो बनीं फिनलैंड की सबसे युवा प्रधानमंत्री

सना मारिन 34 साल की हैं. वर्तमान में वे विश्व के किसी भी देश की सबसे कम उम्र की प्रधानमंत्री होंगी. वे फिनलैंड की सरकार का नेतृत्व करने वालीं तीसरी महिला नेता हैं. सना मारिन का जन्‍म 16 नवंबर 1985 को फिनलैंड में हुआ था. वे साल 2015 में संसद सदस्‍य के रूप में निर्वाचित हुईं थी.

फिनलैंड के प्रधानमंत्री एंटी रिने के इस्तीफे के बाद उनकी पार्टी सोशल डेमोक्रेटिक ने उन्हें इस पद हेतु चुना. पूर्व प्रधानमंत्री एंटी रिने ने 03 दिसंबर 2019 को डाक हड़ताल से निपटने के मामले में गठबंधन सहयोगी पार्टी का विश्वास खोने के बाद पद से इस्तीफा दे दिया था.

दक्षिण अफ्रीका की जोजिबिनी टूंजी ने जीता मिस यूनिवर्स 2019 का खिताब

अमेरिका के अटलांटा में हाल ही में आयोजित 68वें मिस यूनिवर्स समारोह में 90 सुंदरियों के बीच मुकाबला हुआ. इसमें दक्षिण अफ्रीका की जोजिबिनी टूंजी ने सबको हराकर विश्व सुंदरी का ताज पहना है. साल 2018 की मिस यूनिवर्स कैटोरिना ग्रे ने विनर एवं रनरअप के नामों की घोषणा की.

जोजिबिनी का जन्‍म टोस्‍लो के ईस्‍टर्न केप में हुआ था. उनका पड़ोस के गांव सिडावाडवेनी में उनका पालन-पोषण हुआ. जोजिबिनी टूंजी ने साल 2018 में इमेज मैनेजमेंट और पब्लिक रिलेशंस में ग्रेजुएशन किया. वे एक जुनूनी कार्यकर्ता हैं.

हैंड-इन-हैंड 2019: मेघालय में भारत-चीन संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू

यह संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत आयोजित एक वार्षिक सैन्य अभ्यास है. यह 07 दिसंबर से 20 दिसंबर 2019 के बीच आतंकवाद के खिलाफ एक थीम के साथ आयोजित किया जा रहा है. इस अभ्यास में भारत की ओर से 100 से 120 बटालियन शामिल हो रहे है.

इस संयुक्त सैन्य अभ्यास के दौरान आतंकवाद-रोधी अभियानों हेतु विशेष प्रशिक्षण होगा. प्रशिक्षण के दौरान दो रणनीतिक अभ्यास किए जाएंगे. इस संयुक्त युद्धाभ्यास में सेना के जवान आतंकियों को जिंदा पकड़ने की ट्रेनिंग भी करेंगे. इस अभ्यास के लिए चीन ने अपने तिब्बती सैनिकों को तैनात किया है.

सऊदी अरब सरकार का बड़ा फैसला, अब रेस्तरां में अकेले प्रवेश कर सकेंगीं महिलाएं

सऊदी अरब सरकार ने रेस्तरां के अलग-अलग प्रवेश द्वार को भी खत्म कर दिया है. सऊदी अरब में अब पुरुषों एवं महिलाओं के बीच होने वाले भेदभाव को खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है. सऊदी अरब में लगातार कानूनों में बदलाव किए जा रहे हैं.

सऊदी मंत्रालय ने हाल ही में कहा कि रेस्तरां को अब जेंडर बेस प्रवेश द्वारों को बनाए रखने की आवश्यकता नहीं होगी. इसके बजाय व्यवसायों को तय करने हेतु छोड़ दिया जाएगा. सऊदी सरकार ने साल 2018 में महिला ड्राइवरों पर एक दशक लंबे प्रतिबंध को भी समाप्त कर दिया था.

 

 

Related Categories

Also Read +
x