टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 10 अप्रैल 2019

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 10 अप्रैल 2019 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से - सुप्रीम कोर्ट और चुनाव आयोग आदि शामिल हैं.

भारत और सिंगापुर के बीच ‘बोल्ड कुरुक्षेत्र’ युद्ध अभ्यास शुरू

भारत और सिंगापुर की सेनाओं के बीच द्विपक्षीय अभ्यास ‘बोल्ड कुरुक्षेत्र अभ्यास-2019’ की बबीना में शुरूआत हुई. समारोह में दोनों सेनाओं की टुकड़ियों ने एक साथ भाग लिया. यह संयुक्त अभ्यास 8 अप्रैल से 11 अप्रैल तक झांसी के बबीना में आयोजित की जा रही है.

इस युद्ध अभ्यास में भारतीय दल का प्रतिनिधित्व कर्नल एस.पी. सिंह कर रहे हैं. जबकि सिंगापुर के दल का प्रतिनिधित्व लेफ्टिनेंट कर्नल टोंग चोंग कियात कर रहे हैं. यह 12वां अभ्यास है जो भारत-सिंगापुर के बीच किया जा रहा है.

दहेज उत्पीड़न से परेशान महिलाएं कहीं भी दर्ज करा सकती हैं एफआईआर: सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने 09 अप्रैल 2019 को एक महत्वपूर्ण व्यवस्था देते हुए कहा कि ससुराल में उत्पीड़न की शिकार महिला मायके से या जहां वह शरण लिये हुए है वहां से भी मुकदमा दायर करा सकती है.

यह व्यवस्था मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव और न्यायमूर्ति संजय किशन कौल की पीठ ने विभिन्न राज्यों से दायर छह याचिकाओं का निपटारा करते हुए दी.

चुनाव आयोग ने पीएम मोदी पर बनी बायोपिक की रिलीज पर लगाई रोक

चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक के रिलीज पर 10 अप्रैल 2019 को रोक लगा दी है. यह फिल्म 11 अप्रैल 2019 को रिलीज होनी थी. चुनाव आयोग ने कहा कि है कि जब तक लोकसभा चुनाव खत्म नहीं हो जाते, तब तक इस फिल्म पर रोक लगी रहेगी.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक 'पीएम नरेंद्र मोदी' की रिलीज पर रोक लगाने की मांग करने वाली याचिका को 09 अप्रैल 2019 को खारिज कर दिया था. सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि याचिकाकर्ता की चिंता का हल करने के लिए उचित संस्था निर्वाचन आयोग है, क्योंकि यह एक संवैधानिक निकाय है. सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने कहा कि चुनाव आयोग को यह तय करना है कि फिल्म आचार संहिता का उल्लंघन कर रही है या नहीं.

YouTube का सबसे बड़ा बाजार बना भारत

यूट्यूब की सीईओ सुसैन वोजसिकी ने यूट्यूब के सालाना कार्यक्रम ‘ब्रांडकास्ट इंडिया’ को संबोधित करते हुए कहा की यूट्यूब भारत का सबसे बड़ा और सबसे तेजी से बढ़ने वाला बाजार है. यूट्यूब का यह वार्षिक कार्यक्रम 9 अप्रैल 2019 को मुंबई में आयोजित किया गया था.

जनवरी 2019 के आंकड़ों के अनुसार, देश में यूट्यूब के मासिक सक्रिय उपयोक्ताओं की संख्या 26.5 करोड़ हो गयी है. जबकि यह संख्या पिछले साल 22.5 करोड़ ही थी. यह विश्व में हमारे सबसे तेजी से बढ़ते बाजारों में से एक है. अमेरिका को पछाड़कर भारत अब यूट्यूब का सबसे बड़ा और सबसे तेजी से बढ़ रहा बाजार बन गया है.

यह भी पढ़ें: भारतीय सेना ने द्वितीय विश्व युद्ध में इस्तेमाल किए विमान का मलबा ढूंढा

Related Categories

Popular

View More