Advertisement

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 13 दिसंबर 2018

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 13 दिसंबर 2018 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से - केसीआर द्वारा शपथ ग्रहण और नासा का वॉएजर-2 मिशन शामिल हैं.

 

केसीआर ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में 13 दिसंबर 2018 को शपथ ग्रहण की. केसीआर का यह लगातार दूसरा कार्यकाल होगा. केसीआर के नाम से लोगों में लोकप्रिय चंद्रशेखर राव ने राजभवन में दोपहर बाद 1.30 बजे आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की. राज्यपाल ई.एस.एल नरसिम्हन उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. टीआरएस के नवनिर्वाचित विधायकों ने टीआरएस मुख्यालय तेलंगाना भवन में एक बैठक में केसीआर को अपना नेता चुना था.


दुष्कर्म पीड़िता की पहचान मौत के बाद भी उजागर न करें: सुप्रीम कोर्ट


सुप्रीम कोर्ट ने दुष्कर्म पीड़ताओं के साथ समाज में होने वाले भेदभाव पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा है कि दुष्कर्म पीड़िता की पहचान मौत के बाद भी उजागर नहीं की जानी चाहिए. सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िताओं की पहचान उजागर किए जाने को लेकर निराशा जाहिर करते हुए 11 दिसंबर 2018 को अहम आदेश जारी किया है. जस्टिस मदन बी लोकुर व जस्टिस दीपक गुप्ता की बेंच ने एक याचिका पर फैसला सुनाते हुए कहा कि जीवित या मृत किसी भी दुष्कर्म पीड़िता की पहचान उजागर करने पर पूर्ण प्रतिबंध है.


जमाल खाशोगी बने ‘टाइम पर्सन ऑफ़ द इयर 2018’

प्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय पत्रिका टाइम मैगज़ीन ने सऊदी पत्रकार जमाल खाशोगी को सम्मान देने के लिए उन्हें 2018 के 'टाइम पर्सन ऑफ द ईयर' के लिए चुना है. पत्रिका ने यह सम्मान खशोगी सहित चार पत्रकारों और एक अखबार को दिया है. विदित हो कि सऊदी पत्रकार जमाल खाशोगी अमेरिकी नागरिक थे. उनकी अक्तूबर 2018 में इस्तांबुल दूतावास में हत्या कर दी गई थी. ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी व्यक्ति को मरणोपरांत टाइम मैगज़ीन के कवर के लिए चुना गया हो.


वॉएजर-2 सौरमंडल के छोर तक पहुंचा, जानें पूरी जानकारी


अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का वॉएजर-2 (Voyager 2) सौरमंडल के आखिरी छोर पर पहुंचने वाला इतिहास का दूसरा अंतिरक्ष यान बन गया है. नासा द्वारा जारी जानकारी के अनुसार 41 वर्ष पहले लॉन्च किया गया यह यान सूर्य के चुंबकीय क्षेत्र (हेलियोस्फेयर) से बाहर पहुंच गया है. इससे पूर्व वर्ष 2012 में वॉएजर-1 ने इस सीमा को पार किया था. हालांकि दोनों यान अभी सौरमंडल के अंदर ही हैं और अभी निकट भविष्य में ये इससे बाहर नहीं जाएंगे.

 


यह भी पढ़ें: नवंबर 2018 के 30 महत्वपूर्ण करेंट अफेयर्स घटनाक्रम

Advertisement

Related Categories

Advertisement