टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 16 जुलाई 2019

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 16 जुलाई 2019 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से -चंद्र ग्रहण 2019 और करतारपुर कॉरिडोर आदि शामिल हैं.

चंद्र ग्रहण 2019:149 साल बाद बन रहा है यह दुर्लभ संयोग

चंद्रग्रहण के समय खगोल वैज्ञानिकों के लिए यह जानने का बहुत ही अच्छा मौका होता है कि जब तेजी से चन्द्रमा की सतह ठंडी होगी तो उसके क्या परिणाम होंगे. आषाढ़ माह की गुरु पूर्णिमा पर पड़ने जा रहे इस चंद्रग्रहण को लेकर वैज्ञानिकों समेत इससे जुड़े शोधार्थियों और ज्योतिषविदों में खास उत्साह बना हुआ है. वैज्ञानिकों ने इस खगोलीय घटना के दौरान की गतिविधियों पर नजर बनाए हुए हैं.

चंद्र ग्रहण इस बार एक दुर्लभ संयोग बना रहा है. जो 149 साल पहले 12 जुलाई 1870 को बना था. उस समय गुरु पूर्णिमा और चंद्र ग्रहण साथ-साथ थे साथ ही शनि ग्रह, केतु और चंद्र के साथ धनु राशि में बैठे थे. इस बार भी ग्रहों की स्थिति बिल्कुल ऐसी ही बन रही है. यह चंद्र ग्रहण पूरे भारत में दिखाई देगा. यह ग्रहण विश्व भर में एशिया, यूरोप, ऑस्‍ट्रेलिया और दक्षिण अमेरिका के अधिकतर हिस्‍सों में दिखाई देगा.

करतारपुर कॉरिडोर: प्रतिदिन 5,000 लोग बिना वीजा कर सकेंगे दर्शन

यह गलियारा सिख श्रद्धालुओं हेतु गुरदासपुर जिला स्थित डेरा बाबा नानक साहिब से पाकिस्तान के करतारपुर स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब तक जाना सुगम बनाएगा. भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि केवल भारतीय नागरिकों को ही नहीं, बल्कि ओसीआई कार्ड रखने वाले भारतीय मूल के व्यक्तियों को भी करतारपुर कॉरिडोर सुविधा का उपयोग करने की अनुमति दी जानी चाहिए.

करतारपुर कॉरिडोर पंजाब में गुरदासपुर से तीन किमी दूर भारत-पाकिस्तान सीमा से लगा हुआ है. यह गलियारा पाकिस्तान के करतारपुर साहिब को गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक मंदिर से जोड़ेगा तथा भारतीय सिख तीर्थयात्रियों के वीजा-मुक्त आवागमन की सुविधा प्रदान करेगा. यह कॉरिडोर खुलने से सिख तीर्थयात्रियों को पाकिस्तान के करतारपुर में ऐतिहासिक गुरुद्वारा दरबार साहिब तक सीधी पहुंच की अनुमति देगा, जहां गुरु नानक देव का 1539 में निधन हो गया था.

राशिद खान बने अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने आईसीसी विश्व कप-2019 में बेहद निराशाजनक प्रदर्शन के बाद गुलबदिन नाइब को कप्तानी से हटा दिया है. अफगानिस्तान टीम का उप-कप्तान असगर अफगान को बनाया गया है. आईसीसी ने यह जानकारी ट्विटर पर शेयर की. विश्व कप से ठीक पहले गुलबदिन नाइब को अफगानिस्तान टीम का कप्तान बनाया गया था. उनके नेतृत्व में अफगानिस्तान टीम ने बेहद खराब प्रदर्शन किया.

अफगानिस्तान टीम के लिए राशिद खान पहले से ही टी-20 टीम की कप्तानी कर रहे थे, लेकिन उन्हें अब टेस्ट और वनडे में भी अफगानिस्तान का कप्तान बनाया गया है. राशिद खान सनराइजर्स हैदराबाद के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) खेलते है. उन्होंने जून 2017 में एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय (एकदिवसीय) मैच में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की. राशिद खान का अंतरराष्ट्रीय करियर अक्टूबर 2015 में शुरू हुआ था.

लोकसभा में पास हुआ एनआईए संशोधन विधेयक 2019, जानिए क्या होगा इसका असर?

विधेयक पर हुई चर्चा का निचले सदन में जवाब देते हुए गृह राज्य मंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा कि आज जब देश दुनिया को आतंकवाद के खतरे से निपटना है, ऐसे में एनआईए संशोधन विधेयक का उद्देश्य जांच एजेंसी को राष्ट्रहित में मजबूत बनाना है. एनआईए को भारत से बाहर किसी अनुसूचित अपराध के संबंध में मामले का पंजीकरण करने और जांच का निर्देश देने का प्रावधान किया गया है.

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) भारत में आतंकवाद का मुकाबला करने हेतु भारत सरकार द्वारा स्थापित एक संघीय जाँच एजेंसी है. यह एजेंसी केन्द्रीय आतंकवाद विरोधी कानून प्रवर्तन एजेंसी के रूप में कार्य करती है. यह एजेंसी राज्यों से विशेष अनुमति के बिना राज्यों में आतंक संबंधी अपराधों से निपटने हेतु सशक्त है.

Download our Current Affairs& GK app from Play Store

Related Categories

Popular

View More